BREAKING NEWS

जिला स्तरीय जनसुनवाई और सतर्कता समिति की बैठक संपन्न

( Read 497 Times)

14 Feb 20
Share |
Print This Page
जिला स्तरीय जनसुनवाई और सतर्कता समिति की बैठक संपन्न

उदयपुर / जिला कलक्टर श्रीमती आनंदी ने समस्त उपखण्ड अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे अपने-अपने क्षेत्र में सभी विभागों की गतिविधियों की मॉनिटरिंग (Monitoring) करें तथा इसमें पाई गई कमियों पर संबद्ध विभागीय अधिकारियों से जानकारी लें ताकि इनका प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित हो सके।
जिला कलक्टर ने यह निर्देश गुरुवार को जिला स्तरीय जनसुनवाई व जिला स्तरीय सतर्कता समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए दिए। इस मौके पर कलक्टर ने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों एवं वीडियो कॉन्फ्रेंस (Video conference) से जुड़े उपखण्ड स्तरीय अधिकारियों को कहा कि जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा निरीक्षण में पाई गई शिकायतों, समस्याओं पर विभागीय प्रकरण एसडीओ (SDO) को इसलिए भेजे जा रहे हैं ताकि जिन क्षेत्रों में या विभागों में समस्याएं है, वहां पर स्वयं एसडीओ निरीक्षण करें, चौपाल आयोजित करें या संबंधित विभागीय अधिकारियों की बैठक लेते हुए समस्या या शिकायतों का निस्तारण कर सके।
एमडीएम व आईएफए संबंधित समस्याओं पर कार्यवाही करें:
कलक्टर ने विभागीय अधिकारियों के निरीक्षण में कई विद्यालयों में मिड-डे-मिल (Mid-day-mill) तथा आयरन फॉलिक एसिड (Iron folic acid) की गोलियांे के वितरण नहीं किए जाने की प्राप्त स्थितियों पर नाराजगी जताई। इसी प्रकार 80 स्कूलों में आईसीटी लेब के उपयोग में नहीं आने की स्थितियों पर जिला शिक्षा अधिकारी (Secondary) को स्वयं चैक कर व्यवस्थाएं सुचारू करवाकर 10 दिनों मंे रिपोर्ट करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार उन्होंने समस्त सीबीईओ को व्यक्तिगत रूप से मिड-डे-मिल संबंधित शिकायतों को जाकर देखने व इनके निस्तारण के निर्देश दिए। उन्होंने उपखंड अधिकारियों को इन स्थितियों की मॉनिटरिंग को भी पाबंद किया।  
फर्नीचर और शौचालय मरम्मत पर जीरो टोलरेंस:
बैठक में कलक्टर ने माध्यमिक शिक्षा विभाग के अधीनस्थ 80 विद्यालयों में फर्नीचर व शौचालय की मरम्मत संबंधित समस्याओं पर जिला शिक्षा अधिकारी (Secondary) के प्रति नाराजगी जताई और कहा कि इन स्थितियों जीरो टोलरेंस होगा। उन्होंने तत्काल प्रभाव से इन स्थितियों को दूर करने के निर्देश दिए और कहा कि अगली बार ऐसी शिकायत आने पर दोषी के विरूद्ध चार्जशीट जारी की जाएगी।  
कई विषयों पर दिए निर्देश:
जनसुनवाई दौरान कलक्टर आनंदी ने परिवादियों की समस्याओं पर संबंधित विभागों से जानकारी ली और उनके समाधान के लिए निर्देश दिए। इस दौरान शहर में पेयजल, सड़क निर्माण, सफाई, अतिक्रमण और अन्य विषयों पर परिवेदनाएं प्राप्त हुई तो ग्रामीण क्षेत्रों से आम रास्ते पर अतिक्रमण, भूमि संबंधित विवादों के प्रकरण प्राप्त हुए। इस पर कलक्टर ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को समस्याओं के समाधान के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने समस्त अधिकारियों को मुख्यमंत्री महोदय की शुक्रवार को प्रस्तावित वीसी में मौजूद रहने के निर्देश भी दिए।
स्टार मार्क प्रकरणों को भी समीक्षा:
बैठक दौरान कलक्टर ने स्टार मार्क प्रकरणों की विभागवार समीक्षा की और इनके निस्तारण में लापरवाही पर नाराजगी जताई। उन्होंने समस्त विभागीय अधिकारियों को स्टार मार्क (Star mark) प्रकरणों की गंभीरता से लेने और इनके निस्तारण को सर्वोच्च प्राथमिकता पर रखकर करवाने के लिए पाबंद किया।
 33 परिवेदनाएं दर्ज:
बैठक से पूर्व आमजन की समस्याओं के त्वरित एवं समयबद्ध निस्तारण करने के साथ ही उन्हें शीघ्र राहत प्रदान करने के उद्देश्य से जिला स्तरीय जनसुनवाई का आयोजन भी हुआ। जनसुनवाई के दौरान 33 अलग-अलग परिवेदनाएं प्राप्त हुई जिन्हें संबंधित विभागीय अधिकारियों को प्रेषित कर उनके शीघ्र निस्तारण के निर्देश कलक्टर ने दिए।  
इन पर भी हुई चर्चा:
बैठक दौरान कलक्टर ने राजस्थान सम्पर्क पोर्टल, सीएम हेल्पलाइन 181, सतर्कता एवं अन्य शिकायत संबंधी पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों के संबंध में विभाग व उपखण्डवार समीक्षा की एवं इन्हे प्राथमिकता के साथ निस्तारित करने को कहा। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर ओपी बुनकर व संजय कुमार, नगर निगम आयुक्त अंकित कुमार सिंह, यूआईटी सचिव अरूण कुमार हसिजा, गिर्वा एसडीएम सौम्या झा सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like