वेदांता स्नातकोत्तर महाविद्यालय की 3000 छात्रओं को लेपटॉप वितरीत हुई हाईटेक

( Read 1588 Times)

30 Jul 19
Share |
Print This Page

वेदांता स्नातकोत्तर महाविद्यालय की 3000 छात्रओं को लेपटॉप वितरीत हुई हाईटेक

हिन्दुस्तान जिंक की चेयरमेन किरण अग्रवाल, ट्रस्टी सुमन डीडवानिया और ७ोखावटी वि८वविद्यालय के कुलपति प्रो. बीएल ७ार्मा ने प्रदान किये लेपटॉप

छात्रओं को लेपटॉप से रिसोर्सफुल बनाने में वेदांता की पहल अनुकरणीय- प्रो.बीएल ७ार्मा, वीसी पंडित दीनदयाल उपाध्याय ७ोखावटी वि८वविद्यालय

वेदांता स्नातकोत्तर महाविद्यालय, रींगस की 3000 छात्रओं को लेपटॉप प्रदान किये गये जिनसे ये छात्रएं हाइटेक हो कर वर्तमान समय की आव८यकता अनुरूप अपनी शक्षा और ज्ञान में और बढोतरी कर सकेगीं। वेदांता रींगस कॉलेज में आयोजित समारोह में मुख्य अतिथी पंडित दीनदयाल उपाध्याय ७ोखावटी वि८वविद्यालय के कुलपति प्रो. बीएल ७ार्मा, हिन्दुस्तान जिंक की चेयरमेन एवं वेदांता फाउण्डेशन की ट्रस्टी श्रीमती किरण अग्रवाल एवं ट्रस्टी सुमन डीडवानिया ने छात्रओं को लेपटॉप वितरित किये।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथी के रूप में प्रो बीएल ७ार्मा ने कहा कि इस क्षेत्र् में छात्रओं को शक्षित करने के पुनीत कार्य को करने में वेदांता हमेशा से अग्रणीय रहा है, जिन्हें अब लेपटॉप देकर रिसोर्सफुल बनाने की पहल अनुकरणीय है। उन्होंने छात्रओं से आव्हान किया कि यदि आपकों अच्छा व्यक्ति बनना है तो साधनयुक्त होना आव८यक है जिसे वेदांता ने पूरा किया है। इसके साथ ही सफलता के लिए लक्ष्य, दृढनि८चय, प्रतिबद्धता के साथ आगे बढना चाहिए जिसके लिए जीवन मूल्य अपनाने होगें। उन्होंने कहा कि जिम्मेदारी कभी भी अच्छे होने के दु६प्रभाव नही होने देती जिसे हमे साथ लेकर लक्ष्य की ओर बढना होगा।

इस अवसर पर हिन्दुस्तान जिंक की चेयरमेन एवं वेदांता फाउण्डेशन की ट्रस्टी श्रीमती किरण अग्रवाल ने छात्रओं को मन लगाकर अध्ययन करने एवं अपने अभिभावकों के स्वप्न साकार करने के लिए कहा। उन्होंने छात्रओं को लक्ष्य निर्धारित कर उसी पर केन्द्रीत होने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि इस लेपटॉप के माध्यम से आधुनिक ज्ञान सम्पन्न हो कर समाज की मुख्यधारा में स्वयं को स्थापित करें। उन्होंने छोटे बच्चों के लिए स्वयं द्वारा रचित नवीन रोचक एनिमेशन कहानियों की जानकारी भी दी जिसे कार्यक्रम में प्रदशर्त किया गया। उनके कॉन्सेप्ट विडियों ’वोका’ वॉइस आफ किरण अग्रवाल यू ट्यूब पर उपलब्ध ह।

कार्यक्रम में वेदांता फाउण्डेशन की ट्रस्टी श्रीमती सुमन डीडवानिया ने छात्रओं को वेदांता फाउण्डेशन द्वारा संचालित कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए कहा जीवन के हर क्षेत्र् में सफलता के लिए कडी मेहनत और कठिानाइयों का सामना करने के लिए हमेशा तैयार रहें। उन्होंने खुशी व्यक्त की कि कुछ छात्रएं अपने परिवार से पहली पीढी की स्नातक बनने जा रही है जो समाज में महिलाओं के लिए गौरव का वि६ाय है।

वेदांता महिला महाविद्यालय ग्रामीण क्षेत्र् की बालिकाओं को विगत 25 व६ाोर् से अल्पव्यय में सर्वसाधन सम्पन्न उत्कृ६ट उच्च शक्षा प्रदान कर रोजगारोन्मुखी भवि६य का निर्माण कर महिला शक्षा को बढावा दे रहा है। इस महाविद्यालय में अध्ययन के उपरान्त छात्रएं स्वावलंबी एवं आत्मनिर्भर जीवन जी कर समाज और रा६ट्र निर्माण में सहयोग कर रही है। महाविद्यालय में रींगस के आसपास के 60 गांव और ढाणियों की छात्रएं 40 किलोमीटर दूर से आ कर अध्ययन कर रही है वहीं हिन्दुस्तान जिंक द्वारा ग्रामीण बालिकाओं को उच्चशक्षा से जोडने के लिए अपने स्मेल्टर और माइनिंग इकाइ के आसपास के गांवों से चयनित छात्रओं को कला, वाणिज्य और विज्ञान की स्नातक डिग्री प्राप्त करने के लिए पांच जिलों की 97 छात्रएं वेंदाता महाविद्यालय छात्रवास में रहते हुए निःशुल्क अध्ययन कर रही है। वेदाता फाउण्डेशन द्वारा महिला सशक्तिकरण हेतु राजस्थान स्कील लाइवलीहुड डेवलपमेंट कार्पोरेशन द्वारा संचालित 2 कोर्सेज भी संचालित किये जा रहे है जिनमें 60 महिलाएं लाभान्वित हो रही है।

इस मौके पर महाविद्यालय की छात्रओं ने मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुती दी । महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ अल्का सक्सेना एवं सचिव एसएन पारीक ने महाविद्यालय की गतिविधियों एवं ७ौक्षणिक वि६ाय एवं परिणाम की जानकारी दी। वेदांता फाउण्डेशन द्वारा संचालित स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने स्वनिर्मित हस्तउत्पाद प्रदान कर अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के सभी प्रवक्ता, अन्य सदस्य, नगर के गणमान्यजन एवं छात्रएं उपस्थित रहीं। महाविद्यालय उपप्राचार्य डॉ अर्चना ७ार्मा ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , Zinc News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like