खेरवाडा के मार्फत जिला कलेक्टर महोदया को ज्ञापन

( Read 493 Times)

30 Aug 19
Share |
Print This Page

खेरवाडा के मार्फत जिला कलेक्टर महोदया को ज्ञापन

खेरवाडा  । विद्यार्थी संघर्ष समिति खेरवाडा के पदाधिकारियों ने उपखण्ड अधिकारी खेरवाडा के मार्फत जिला कलेक्टर महोदया को ज्ञापन भेज कर राजकीय जनजाति आश्रम छात्रावास आडीवली छात्रावास में वार्डन समय पर व रात में कभी नही रहने, पूरी व्यवस्था चौकिदार के जिम्मे रखने, वार्डन के कहने पर चौकिदार विधार्थियों को मेन्यू के हिसाब से नास्ता, बाल कट्टींग के पैसे, दुध, ड्रेस, जुते, खेल सामग्री, मौसम के अनुसार फल, टुयुशन, छात्रावास से मिलने वाली पाठ्य सामग्री, के साथ ही छुट्टी के दिन नास्ता तक नही देने एवं नास्ता दिया जाता है तो खाना नही देने, वार्डन ने प्रति छात्र थाली, तोलिया, बाल्टी के क्रमशः १२० रु., ६० रु., १५० रु. अवैध वसुली करने, शौचालय में टुटी टाईले ठीक करवाने के ५०-५० रु प्रति छात्रों से मांगने की शिकायत की।

      संघर्ष समिति के प्रवीण अहारी ने बताया कि विधार्थियों को मिलने वाली साप्ताहिक विशेष डाईट महिने में एक बार या मिलती ही नही है वो भी पुरी, चने की दाल, चावल व सुजी बनाकर दिया जाता है। कपडे धोने का साबून १५ दिन में एक ही साबुन दिया जाता है।

      उन्होने बताया कि वार्डन ने प्रति छात्र थाली, तोलिया, बाल्टी के क्रमशः १२० रु., ६० रु., १५० रु. अवैध वसुली की गई है साथ ही शौचालय, कमरो व बरामदे आदि की साफ-सफाई भी जबरन छात्रों से करवाई जा रही है तथा शौचालय में टुटी टाईले ठीक करवाने के ५०-५० रु प्रति छात्रों से मांगे जा रहे है छात्रावास में कोई छात्र बिमार हो जाता है तो ईलाज करवाने के बजाये उन्हे घर भेज दिया जाता है वही एक पलंग पर दौ छात्रों को सोना पड रहा है जिसकी साईज एक छात्र के सौने की है वही फटे हाल बिस्तर दुर्गन्ध तक मार रहे है। जिससे छात्रों को अनेक प्रकार की बिमारिया होने की सम्भावना बनी हुई है। वार्डन के अनियमिताओं के बारे में कोई छात्र शिकायत करता है तो उसे छात्रावास से निकाल दिया जाता है।

      संघर्ष समिति के राजकीय महाविधालय खेरवाडा के अध्यक्ष पद के प्रत्याक्षी रणजीत खराडी ने बताया कि राजकीय जन-जाति आश्रम छात्रावास आडीवली के छात्रों की समस्याओं का शीघ्र समाधान किया जाये तथा जिम्मेदारी के प्रति लाफरवाही बरतने वाले वार्डन के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाये उक्त वार्डन ने जन-जाति आश्रम छात्रावास सरेरा का भी अतिरिक्त चार्ज ले रखा है जहा पिछले दिनो बाहरी तत्वों ने वार्डन की अनुपस्थिति में छात्रावास में तोड-फोड व छात्रों से मार-पीट की घटना घटित हो चुकी है फिर भी प्रशासन अभी तक सम्बंधित वार्डन पर कोई कार्यवाही नही कर रहा है जिससे बच्चों में रोश है।

      जागरूक युवा संगठन के अध्यक्ष प्रभुलाल खराडी ने बताया कि जन-जाति क्षेत्र के सभी छात्रावासों का दौरा कर जायेजा लिया जायेगा तथा आन्दोलन का रास्ता अख्तियार करने की चेतावनी दी।

       


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Dungarpur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like