GMCH STORIES

एसबीआई जनरल ने ‘बीमा सेंट्रल’ पेश

( Read 2593 Times)

16 May 24
Share |
Print This Page
एसबीआई जनरल ने ‘बीमा सेंट्रल’ पेश

भारत की अग्रणी सामान्‍य बीमा कंपनियों में से एक, एसबीआई जनरल इंश्‍योरेन्‍स कंपनी लिमिटेड ने कैम्‍स इंश्‍योरेंस रिपॉजिटरी द्वारा विकसित ‘बीमा सेंट्रल’ के साथ सहयोग किया है। इसके तहत पूरे उद्योग के लिये पहला पॉलिसीधारक सेवा मंच बीमा सेंट्रल पेश किया गया है। बीमा सेंट्रल के द्वारा ग्राहक एक इलेक्‍ट्रॉनिक इंश्‍योरेन्‍स अकाउंट (ईआईए) के माध्‍यम से अपने बीमा पोर्टफोलियो को जोड़ सकते हैं। बीमा सेंट्रल पूरी तरह से डिजिटल प्‍लेटफॉर्म है, जिसके माध्‍यम से ग्राहक अपने बीमा पोर्टफोलियो का सुविधाजनक तरीके से प्रबंधन कर सकते हैं।

उद्योग में पहली बार, एसबीआई जनरल इंश्‍योरेन्‍स के पॉलिसीधारक कैम्‍स रिपॉजिटरी बीमा सेंट्रल के माध्‍यम से एसबीआई जनरल इंश्‍योरेन्‍स मोबाइल ऐप पर अपने बीमा पोर्टफोलियो तक पहुँच सकेंगे। इसके अलावा, वे बीमा सेंट्रल ऐप के माध्‍यम से ये सेवाएँ ले भी सकते हैं।

एसबीआई जनरल इंश्‍योरेन्‍स के एमडी और सीईओ श्री किशोर पोलुदासु ने कहा, ‘‘हम बीमा सेंट्रल को लॉन्‍च कर उद्योग में स्थिति को बदल देने वाला एक नवाचार पेश करते हुए उत्‍साहित हैं। बीमा सेंट्रल एक अनोखा प्‍लेटफॉर्म है, जो एसबीआई जनरल इंश्‍योरेन्‍स मोबाइल ऐप पर बीमा के संपूर्ण पोर्टफोलियो के आसान प्रबंधन की पेशकश करता है। ऐसा कदम पहली बार उठाया गया है और यह अत्‍याधुनिक टेक्‍नोलॉजीस के माध्‍यम से ग्राहकों की सुविधा तथा सहजता बढ़ाने के लिये हमारी स्‍थायी प्रतिबद्धता को दर्शाता है। यह कदम अत्‍याधुनिक टेक्‍नोलॉजीस के माध्‍यम से उद्योग के लिये नवाचार लाने में एसबीआई जनरल को अग्रणी भी बनाता है। बीमा सेंट्रल जैसे प्‍लेटफॉर्म्‍स का इस्‍तेमाल कर हम ग्राहक को मिलने वाली सूचना तक पहुँच में सुधार कर रहे हैं और पॉलिसीधारक का अनुभव भी बेहतर बना रहे हैं। यह प्रगति अपने ग्राहकों को बेजोड़ सेवा और महत्‍व प्रदान करने के लिये हमारा समर्पण दिखाती है। इससे सुनिश्चित होता है कि बीमा से जुड़ी उनकी आवश्‍यकताएँ आसान और असरदार तरीके से पूरी हों।’’

एसबीआई जनरल इंश्‍योरेन्‍स ने बीमा सेंट्रल के साथ दो तरीकों से जुड़ाव बनाया है। इसमें पॉलिसीधारकों को सिंगल विंडो मिलती है और ईआईए धारक को बीमा के संयुक्‍त लाभों तक एकीकृत तरीके से पहुँच मिलती है। यह प्‍लेटफॉर्म:

बीमा सुरक्षा एवं निवेश का संयुक्‍त दृश्‍य देगा- आपको दिखेगा कि आपके पास क्‍या-क्‍या है।
लाभों को वास्‍तविक और दृश्‍य बनाएगा- बीमा की आपूर्ति उचित तरीके से होगी।
पुष्टियों की एक श्रृंखला का समर्थन करता है- इसमें लाभार्थी, नामित लोग और परिजन शामिल होते हैं और इसके अलावा भी कई काम जोड़े जा रहे हैं। 

एसबीआई जनरल इंश्‍योरेन्‍स बिजनेस पॉलिसीज़ की पूरी रिटेल लाइन को इलेक्‍ट्रॉनिक फॉर्मेट में जारी करने की कोशिश कर रहा है। इसे पॉलिसीधारक के ई-इंश्‍योरेन्‍स अकाउंट (ईआईए) में क्रेडिट किया जा सकता है। जिन पॉलिसीधारकों का पहले से ईआईए नहीं है, वे इंश्‍योरेंस रिपॉजिटरी के माध्‍यम से उसे खोल सकते हैं, ताकि डिजिटल बीमा सेवा के लिये उनकी यात्रा आरंभ हो सके।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Business News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like