GMCH STORIES

श्री अरविन्द सिंघल सर्वसम्मति से पुनः यूसीसीआई के संरक्षक निर्वाचित

( Read 3675 Times)

08 Nov 20
Share |
Print This Page
श्री अरविन्द सिंघल सर्वसम्मति से पुनः यूसीसीआई के संरक्षक निर्वाचित






यूसीसीआई की नवनिर्वाचित कार्यकारिणी समिति की प्रथम बैठक आयोजित

उदयपुर,  उदयपुर चैम्बर आॅफ काॅमर्स एण्ड इण्डस्ट्री की वर्श 2020-21 की कार्यकारिणी समिति की प्रथम बैठक श्री कोमल कोठारी की अध्यक्षता में यूसीसीआई भवन के अरावली सभागार में आयोजित की गई। बैठक में नवनिर्वाचित कार्यकारिणी सदस्यों एवं यूसीसीआई के सभी पूर्वाध्यक्षों ने भाग लिया।
बैठक में कार्यकारिणी द्वारा सर्वसम्मति से वर्तमान संरक्षक श्री अरविन्द सिंघल को यूसीसीआई के संविधान की धारा 2.2.1 के अनुसार आगामी तीन वर्श के लिए पुनः यूसीसीआई का संरक्षक निर्वाचित किया।
बैठक के आरम्भ में दिनांक 7 मई 2020 को आयोजित वर्श 2019-20 की कार्यकारिणी समिति की आठवीं बैठक के मिनिट्स का अनुमोदन किया गया।
बैठक के एजेन्डानुसार वर्ष 2020-2021 के लिए कार्यकारिणी समिति में दो सदस्यों यथा डाॅ. अंषु कोठारी एवं श्री संजय सिंघल का सर्वसम्मति से कार्यकारिणी सदस्य के रूप में सहवरण किया गया।
बैठक में यू.सी.सी.आई. के अध्यक्ष श्री कोमल कोठारी द्वारा वर्ष 2020-2021 के लिए मानद महासचिव डाॅ. अंषु कोठारी को मनोनीत किया गया एवं कार्यकारिणी समिति द्वारा श्री सन्दीप बापना को सर्वसम्मति से मानद कोषाध्यक्ष मनोनीत किया गया।
कार्यकारिणी द्वारा यूसीसीआई के बैंक खातों के संचालन हेतु प्रस्ताव पारित किया। सर्टीफिकेट आॅफ ओरिजन, निर्यात प्रपत्रों के सत्यापन, बिजनेस वीजा हस्ताक्षरित करने हेतु अध्यक्ष श्री कोमल कोठारी को कार्यकारिणी द्वारा अधिकृत किया गया।
कार्यकारिणी समिति में चर्चा करके संविधान के अनुसार कुछ उपसमितियों का गठन किया गया। सबसे जरुरी संविधान संषोधन समिति थी जिसमें आमूलचूल परिवर्तन हेतु श्रीमान् अरविन्द सिंघल साहब को चेयरमैन बनाया गया तथा उन्होंने पूर्वाध्यक्ष श्री वीरेन्द्र सिरोया को को-चेयरमैन बनाया गया। इसी तरह मेम्बरषिप प्रमोषन एण्ड स्क्रीनिंग कमेटी का चेयरमैन पूर्वाध्यक्ष श्री महेन्द्र टाया को मनोनीत किया गया। प्रोग्राम कमेटी के चेयरमैन श्री आषीश छाबडा को मनोनीत किया गया। एसेट मैनेजमेन्ट का कार्यभार वरिश्ठ उपाध्यक्ष श्री हेमन्त जैन को सौंपा गया।
सदस्यों की समस्याओं के निराकरण के लिए सोमबार दिनांक 9 नवम्बर 2020 को अपरान्ह 3 बजे यूसीसीआई में रीको के वरिश्ठ प्रबन्ध्यक एवं जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक के साथ बैठक का आयोजन किया गया है ताकि समस्याओं का षीघ्र निस्तारण किया जा सके। सदसयों से निवेदन है कि बगर इन विभागों से सम्बन्धित समस्या हेतु यूसीसीआई में आने का अथवा अवगत कराने का कश्ट करें।
नवनियुक्त मानद महासचिव डाॅ. अंषु कोठारी तथा मानद कोषाध्यक्ष श्री सन्दीप बापना ने उनके मनोनयन के लिए सभी कार्यकारिणी सदस्यों का आभार व्यक्त किया।
अध्यक्ष श्री कोमल कोठारी ने अपने कार्यकाल में मुख्य रूप से किये जाने वाले कार्यों के बारे में बताया कि चेम्बर में वोकेषनल ट्रेनिंग सेन्टर की स्थापना, स्किल डेवलपमेन्ट सेन्टर की पुनःस्थापना तथा यूसीसीआई की साख की पुनःस्थापना कुछ प्रमुख कार्यों में सम्मिलित होगी। औद्योगिक क्षेत्रों में उद्योगपतियों की क्षेत्रीय समस्याओं की जानकारी लेते हुए उन समस्याओं का निराकरण करना अपना मुख्य एजेन्डा रहेगा।
श्री कोमल कोठारी ने सभी सदस्यों को बताया कि स्किल डेवलपमेन्ट सेन्टर तथा वोकेषनल ट्रेनिंग सेन्टर की षुरूआत सोमवार, दिनांक 9 नवम्बर, 2020 से कर देंगे। इस सेन्टर के षुरू करने के लिए पूर्वाध्यक्ष श्री हंसराज चैधरी ने पूर्ण रूप से जिम्मेदारी ली तथा बताया कि उन्होंने आर्कगेट के श्री कुणाल बागला ने इस सेन्टर को पूर्ण रूप से षुरू करने के लिए उनके प्रतिश्ठान आर्कगेट में अभी 300 कर्मचारियों की जरुरत है, उनको प्राथमिक ट्रेनिंग यूसीसीआई में कराई जाएगी। बिना यूसीसीआई के सत्यापन के उनके प्रतिश्ठान में कोई भी कर्मचारी को नौकरी नहीं दी जाएगी।
अध्यक्ष श्री कोमल कोठारी ने बताया कि एच.डबल्यू.एम. साईट गुडली में एक्सटेन्षन हेतु 40 करोड का नया प्रोजेक्ट ला रहे हैं जो रामकी कम्पनी द्वारा यूसीसीआई के सहयोग से स्थापित किया जाएगा। इस एक्सटेन्षन में बायो वेस्ट, ई वेस्ट वगैरह का निस्तारण किया जाएगा तथा साथ ही बहुत लम्बे समय से लम्बित इन्सीनेटर की स्थापना की जाएगी। इसकी मंजूरी पर्यावरण एवं वन मंत्रालय से अनुमति  प्राप्त हो गयी है।
श्री कोठारी ने यह भी बताया कि इस कार्यकारिणी समिति में युवा षक्ति का बहुत समावेष हुआ है। हम चाहते हैं कि यह युवा षक्ति पूर्वाध्यक्षों के अनुभवों के साथ मिलकर नये कार्य करे तथा युवाओं को यूसीसीआई के लिए आगे के लिए तैयार करे।
उदयपुर के सभी औद्योगिक क्षेत्रों में सडकों की समस्या, पानी की कमी, औद्योगिक क्षेत्रों में प्लाॅट्स की कमी, बिजली की समस्या इत्यादि का निराकरण भी प्राथमिकता रहेगी।
यूसीसीआई के संरक्षक श्री अरविन्द सिंघल ने अध्यक्ष श्री कोमल कोठारी को व्यक्तिषः एवं समस्त यूसीसीआई सदस्यांे की ओर से उद्योग एवं व्यवसाय की समस्याओं के निराकरण हेतु एक टीम की भांति साझा प्रयास करने का सुझाव दिया।
अन्त में कार्यकारिणी समिति की बैठक की कार्यवाही का समापन करते हुए वरिश्ठ उपाध्यक्ष श्री हेमन्त जैन ने सभी सदस्यों का आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , Business plus , Rajasthan
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like