विद्यापीठ में इंटरनेट ऑफ थिंग्स पर दो दिवसीय कार्यशाला

( Read 1004 Times)

04 Dec 19
Share |
Print This Page
विद्यापीठ में इंटरनेट ऑफ थिंग्स पर दो दिवसीय कार्यशाला

उदयपुर (डॉ. घनश्यामसिंह भीण्डर)। जनार्दनराय नागर राजस्थान विद्यापीठ (डीम्ड-टू-बी विश्वविद्यालय) के संघटक  आईटी विभाग की ओर से  बुधवार को इंटरनेट ऑफ थिंग्स पर दो दिवसीय कार्यशाला का उद्घाटन पर   मुख्य अतिथि कडी सर्वा विवि गुजरात के प्रो. एन.एन. जानी ने कहा कि आजकल हम स्मार्ट सिटी, स्मार्ट होम, स्मार्ट ट्रांसपोटेशन सिस्टम, स्मार्ट हेल्थ केयर सहित अन्य बाते सुनते है इन सभी के पिछे मुख्य प्रौद्योगिकी आईओटी इंटरनेट की अगली पीढी है। हम सभी इंटरनेट की वर्तमान पीढी से अवगत है जो कम्युटिंग, संचार सहित कई अन्य प्रकार के इलेक्ट्रोनिक उपकरणों को इंटरकनेक्ट करता है। उन्होने कहा कि आईओटी ने हमारे आस पास ओर नये प्रकार के उपकणों को इंटरनेट से कनेक्ट करने का वादा किया है। अगली पीढी के इंटरनेट का निर्माण करना वर्तमान की तुलना में व्यापक होगा। अध्यक्षता करते हुए कुलपति प्रो. एसएस सारंगदेवोत ने कहा कि इंटरनेट ऑफ थिंग्स के माध्यम से आने वाले समय में एक बेहतरीन राष्ट्र व समाज का निर्माण किया जा सकता है। आईओटी क्रोश डोमेन अभिसरण और नवाचार के माध्यम से एक बेहतर तकनीक विश्व का निर्माण करने में मदद कर रहा है। उन्होने कहा कि 2021 तक इंटरनेट समाज के नई क्रांति लेकर आयेगा।  इस अवसर पर विशिष्ठ ग्रीन फील्ड सोसायटी के जीडी पटेल, टेक्नीकल एक्सपर्ट पियुष यादव, प्रो. मंजू मांडोत, डॉ. मनीष श्रीमाली, डॉ. भारत सिंह देवडा, डॉ. प्रदीप सिंह शक्तावत, डॉ. गौरव गर्ग ने भी अपने विचार व्यक्त किये। संचालन डॉ. प्रियंका सोनी ने किया जबकि आभार डॉ. दिनेश श्रीमाली ने किया।
आईओटी लेब का किया उद्घाटन:- कार्यशाला के दौरान कुलपति प्रो. एस.एस. सारंगदेवोत, प्रो. एन.एन. जानी, निदेशक प्रो. मंजू मांडोत सहित अतिथियेां ने आईओटी लेब का रिबन काट कर उद्घाटन किया।

   


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like