श्री चन्द्रभागा (कार्तिक) पशुमेले का हुआ शुभारम्भ

( Read 1406 Times)

08 Nov 19
Share |
Print This Page

श्री चन्द्रभागा (कार्तिक) पशुमेले का हुआ शुभारम्भ

झालावाड   जिला प्रशासन एवं पशुपालन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किए जा रहे श्री चन्द्रभागा (कार्तिक) पशु मेले का उद्घाटन शुक्रवार को रंगमंच मेला ग्राउण्ड झालरापाटन में मुख्य अतिथि कार्यवाहक जिला कलक्टर राजेन्द्र प्रसाद चतुर्वेदी द्वारा विधिवत राष्ट्रीय घ्वज फहराकर एवं भूमि पूजन कर किया गया। 
मुख्य अतिथि ने समारोह में संबोधित करते हुए कहा कि मेले भारत की गौरवमयी प्राचीन संस्कृति का हिस्सा है। मेलों का आयोजन मेल-मिलाप एवं भाईचारा बढ़ाने के लिए किया जाता है। उन्हांेने बुजुर्गो, महिलाओं, बच्चों, युवाओं एवं आमजन से अपील की है कि वे मेले में आकर पशुपालकों के जीवन को देखें, चकरी में घूमें, झूलों में झूलें, विभिन्न प्रकार के व्यंजनों तथा अन्य खाद्य पदार्थों का आनन्द लें। 
उन्होंने कहा कि मेले में किसी भी प्रकार की दुर्घटना ना हो इसके लिए अग्निशमन, चिकित्सा एवं पुलिस जाप्ते की माकूल व्यवस्था की गई है। साथ ही मेले में साफ-सफाई की विशेष व्यवस्था करने के लिए निर्देश नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी को दिए हैं। मेले को सफल बनाने के लिए जनभागीदारी अत्यावश्यक है। उन्होंने बताया कि पशुमेले में आने वाले पशुपालकों की सुविधा के लिए शौचालय, पेयजल सहित हैल्प काऊन्टर की व्यवस्था भी की गई है। 
पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक एवं मेला अधिकारी निशीत कुमार तोमर ने अपने स्वागत भाषण में बताया कि चन्द्रभागा मेले का शुभारम्भ झालावाड़ के संस्थापक महाराजा जालिम सिंह ने 1696 में झालरापाटन में कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर व्यापारिक गतिविधियों को बढ़ाने के लिए किया था। वर्ष 1958 में मेला संचालन की जिम्मेदारी नगर पालिका झालरापाटन से पशुपालन विभाग झालावाड़ को सौंपी गई। इस दौरान उन्होंने सभी पशुपालकों, व्यापारी बन्धुओं एवं आम नागरिकों से आग्रह किया कि वे अधिक से अधिक संख्या में मेेले में पधारकर इसका आनन्द लें। पशुपालन विभाग द्वारा चन्द्रभागा पशुमेला 08 से 17 नवम्बर 2019 तक आयोजित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मेले में प्रतिवर्ष बहुत बड़ी संख्या में विभिन्न नस्लों के पशु आते हैं जिनका क्रय-विक्रय होता है। उन्होंने बताया कि पशुपालन एवं पर्यटन विभाग द्वारा 11 से 13 नवम्बर तक विभिन्न सांस्कतिक कार्यक्रम, प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी। 
इस दौरान नगर पालिका झालरापाटन अध्यक्ष अनिल पोरवाल, उपाध्यक्ष चन्द्रप्रकाश राठौर, अधिशासी अधिकारी महावीर सिंह सिसोदिया, डॉ. सीपी सेठी, डॉ. राजकिशोर बंसल, डॉ. टी.ए. बंसल, डॉ. पुष्पा, डॉ. अंकिता सहित पशुपालक उपस्थित रहे। मंच संचालन डॉ. रेणू श्रीवास्तव ने किया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like