GMCH STORIES

राजस्थान फाउंडेशन और कैटालिस्ट्स के मध्य राज्य के हित में एक एमओयू पर हस्ताक्षर

( Read 789 Times)

23 Jun 22
Share |
Print This Page

-गोपेंद्र नाथ भट्ट

राजस्थान फाउंडेशन और कैटालिस्ट्स के मध्य राज्य के हित में एक एमओयू पर हस्ताक्षर

 नई दिल्ली । कैटालिस्ट्स संस्था के संस्थापक और सीईओ सुशील शर्मा एवं राजस्थान फाउंडेशन के मध्य नई दिल्ली केबीकानेर हाऊस में एक एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए।   एमओ यू पर राजस्थान फाउंडेशन की ओर से आयुक्त धीरज श्रीवास्तव और   मारवाड़ी कैटालिस्ट्स कंपनी की ओर से सुशील शर्मा ने विगत सोमवार को हस्ताक्षर किए। इस सहमति पत्रके ज़रिये राजस्थान फाउंडेशन और मारवाड़ी कैटालिस्ट्स एक अद्भुत जुड़ाव और उपयोगी एवं असाधारणसहयोग की उम्मीद कर रहे हैं।  एमओयू के अनुसार मारवाड़ी कैटालिस्ट्स और राजस्थान फाउंडेशन दुनिया भर में रहने वाले प्रवासीराजस्थानियों को लक्षित करऔर राजस्थान में एक स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र के निर्माण में भागीदारी कोप्रोत्साहित करने के लिए आपसी तालमेल स्थापित कर काम करेंगे।

साथ ही भारत और विदेशों के विभिन्नशहरों में कई नेटवर्किंग कार्यक्रमों की सह-मेजबानी, कार्यशालाएं, परामर्श सत्र और प्रवासियों को अपनीमातृभूमि से जोड़ने और राज्य के सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ाने के साथ ही राजस्थान को विश्व में एकलोकप्रिय ब्रांड बनाने के लिए मिल कर काम करेंगे।इस क्रम में राजस्थान फाउंडेशन मारवाड़ी कैटालिस्ट्स कीमदद से एक कार्यक्रम “चैलेंज फॉर चेंज“ भी आयोजित करेगा।इसके अलावा मारवाड़ी कैटालिस्ट्स राजस्थान के विकास में योगदान के लिए अप्रवासी राजस्थानियों(एनआरआर) और राज्य सरकार की प्रदत्त सुविधाओं का लाभ लोगों के कल्याण कार्यों में करने हेतु विभिन्नसरकारी एजेंसियों के मध्य निरंतर संचार और संवाद की प्रक्रिया को भी सुविधाजनक बनाने का कार्य करेगातथा राजस्थान के मानव, सामाजिक और आर्थिक विकास में तेजी लाने के लिए सभी विशेषाधिकार औरशिक्षाप्रद कदम उठाने का एक मंच भी प्रदान करेगा ।  

इसी प्रकार राजस्थान फाउंडेशन ऐसे अधिकाधिक प्रभावशाली राजस्थानी लोगों तक अपनी पहुंच बनाने काप्रयास करेगा जो राजस्थान के सर्वांगीण विकास और फाउंडेशन की गतिविधियों का समर्थन कर सकें।   उल्लेखनीय है कि मारवाड़ी कैटालिस्ट्स कंपनी की जड़ें राजस्थान की राजधानी जयपुर के बाद दूसरे सबसेबड़े शहर जोधपुर से जुडी हुई हैं।यह भारत के सबसे तेजी से बढ़ते ऑक्सेलेटर्स में से एक है। इनके चालीस सेअधिक स्टार्टअप पोर्टफोलियो एवं देश और दुनिया भर में फैले 100 से अधिक सह-संस्थापक क्लब हैं।

यहसंस्था राजस्थान के स्टार्टअप इकोसिस्टम में एक अहम भूमिका निभाते हुये वैश्विक संस्थानों के साथ तालमेलस्थापित करने के साथ ही एक अग्रणी स्टार्टअप इकोसिस्टम प्लेयर के रूप में सक्रिय रूप से काम कर रही हैं।राजस्थान फाउंडेशन के आयुक्त धीरज श्रीवास्तव ने बताया कि फाउंडेशन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत केदृष्टिकोण के अनुसार राज्य की विकास गतिविधियों में अप्रवासी राजस्थानी एनआरआर लोगों की भागीदारीबढ़ाने और उन्हें प्रेरित करने के लिए निरंतर प्रयास कर रहीं है।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines ,
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like