BREAKING NEWS

प्यासी मौत का मंचन,जलमित्र बने मेडिकल छात्र

( Read 3595 Times)

05 Dec 19
Share |
Print This Page

प्यासी मौत का मंचन,जलमित्र बने मेडिकल छात्र

आज यहाँ पेसिफिक मेडिकल कॉलेज भीलो का बेदला में दो दशकों से जल संरक्षण एवं नशा निवारण अभियान में लगे डॉ पी सी जैन ने बताया कि अब प्रदूषित जल से होने वाली बीमारियों का आने वाले डॉक्टरों को ईलाज करना होगा क्योंकि ज्यों ज्यो जल स्तर गिरता जायेगा त्यो त्यो भूमिजल दूषित होता जाएगा जिसको पीने पर कई बीमारियां होंगी जिनका ईलाज बहुत कठिन होगा या असाध्य होगा।
इससे बचने का एक ही उपाय है कि हम शुध्द वर्षा जल इन भूमिजल श्रोतो में डाल कर उसका शुद्दीकरण करें ताकि ये बीमारियां हो ही नहीँ।
डॉ पी सी जैन द्वारा रचित लगु नाटिका "प्यासी -मौत' का मंचन छात्र छात्राओं ने किया ।कई छात्र छात्रायें इस अभियान में आगे कार्य करने हेतु "जल -मित्र" के व्हाट्सएप ग्रुप में भी जुड़ गए।
दैनिक जीवन मे जल को कैसे बचाया जावे ये भी उन्होंने अपने वीडियो प्रेजेंटेशन द्वारा बताया।उन्होंने अपने दैनिक जीवन मे भी जल बचाने और प्रदूषित न होने देने के उपाय भी बताये।प्रिन्सिपल डॉ ऐ पी गुप्ता ,डॉ ऐस बी नागौरी, डॉ सुभाष वशिष्ठ भी कार्यक्रम में उपस्थित थे।
सभी ने जलगीत गाया और जल शपथ भी ली।
कार्यक्रम का संयोजन डॉ ऐस एल सोलंकी ने किया।डॉ पी सी जैन का स्वागत वाईस चांसलर डॉ डी पी अग्रवाल ने किया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like