BREAKING NEWS

गौ रक्षा से ही राष्ट्र की उन्नतिः ग्वाल संत

( Read 1120 Times)

13 Jan 20
Share |
Print This Page

गौ रक्षा से ही राष्ट्र की उन्नतिः ग्वाल संत

 गौ माता को घर में जगह देने से गौ लोक मिलता है। इनकी सेवा करने वाले पर साक्षात मां लक्ष्मी अपनी कृपा बरसाती है। राष्ट्र की उन्नति गौ रक्षा से ही है। लक्ष्मी का अर्थ रूपए, पैसे से नहीं, अपितु पुण्य, धर्म, मौज और चेहरे पर मुस्कुराहट होती है। माया से तो उदासी, रोग, कलेश द्वेश ही बढता है, अगर मालामाल होना चाहते हो तो गौ मां की सेवा तो करनी ही पडेगी।

यह प्रवचन ग्वाल संत ने रविवार को श्री नंदी गौशाला में चल रही दिव्य गौ नंदी कृपा कथा के चौथे दिन सैकडों गौ भक्त माता-बहनों को कही। उन्होंने कहा कि धर्म की रक्षा के लिए माताएं हमेशा आगे रही है। पाबूजी, वीर तेजा जैसे महान योद्धाओं ने गाय की रक्षा के लिए पापियों का नाश किया। मुख्य लाभार्थी के रूप में सरदारसिंह मुवाल, सीताराम डूडी, जोगाराम, बाबूलाल, घेवरचंद, गोपजी, पदमाराम सैन रहे। प्रसाद के लाभार्थी नारायणसिंह राजपुरोहित, विजय लजपत ५ाारदा रहे, वहीं यज्ञ के यजमान दाउलाल मूंदडा,महेश सुथार रहे।

कथा में बाडमेर विधायक मेवाराम जैन, नगर परिशद अध्यक्ष दिलीप माली, पाली से आए संत सुरजनदास महाराज, श्री नंदी गौशाला के कार्यकारी अध्यक्ष ओमप्रकाश मेहता, पाशर्द दमाराम माली, श्रवण कुमार डूंगरोमल, साध्वी ५ाबला गोपाल सरस्वती, ५याम माली, किशोर ५ार्मा, नवीन सिंघल, सुशीला मेहता, सुधा डांगरा, बहादुरसिंह गुर्जर, राजेन्द्र बिंदल, बसंत खत्री, चेलाराम सिंधी, भगवती ग्रीन के संजय चौधरी, विजय कुमार लजपत माहे६वरी, लूणाराम माली एवं ५ाहर के अनेक गणमान्य नागरिकों ने कथा श्रवण व आरती का धर्म लाभ लिया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Barmer News , Chintan
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like