देश के सबसे तेजी से बढते फिनटेक स्टार्टअप खाता बुक में धोनी ने किया निवेश

( Read 5607 Times)

28 Mar 20
Share |
Print This Page

देश के सबसे तेजी से बढते फिनटेक स्टार्टअप खाता बुक में धोनी ने किया निवेश

उदयपुर। भारत में छोटे बिजनेस के लिए अकाउंटिंग की प्रकिया में ऋांतिकारी बदलाव लाने वाले खाताबुक ने आज अंतरराष्ट्रीय त्रि*केटर और भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के साथ रणनीतिक साझेदारी की घोषणा की है। ये महान त्रि*केटर न सिर्फ खाताबुक में निवेश करेंगेए बल्कि वे इसके ब्रैंड एम्बेसडर भी होंगे। धोनी द्वारा इस एप में निवेश करने का निर्णय तब लिया गया है, जब फर्म के एप में एक्टिव व्यापारियों की संख्या 2 करोड के पार जा चुकी है। व्यापारियों के बीच तेजी से बढने व भरोसा कायम करने वाली कंपनी और विश्वभर में लाखों फैंस वाले भारतीय त्रि*केटर के बीच यह साझेदारी बिल्कुल उपयुक्त है। कंपनी ने छोटे कस्बों और गांवों में अपनी पहुंच बढाने के लिए बडे लक्ष्य तय किए हैं। खाताबुक अगले 12 महीनों में अन्य 2 करोड व्यापारियों को जोडने के उद्देश्य से काम कर रही है। फर्म ने इस नए निवेश से अपने प्रोडक्ट पोर्टफोलियो और अपनी टेक्नोलॉजी व क्षमताओं का विस्तार करने की योजना तैयार की है।

इस नई साझेदारी के बारे में बात करते हुए खाताबुक के सीईओ और सह-संस्थापक रवीश नरेश ने कहा कि * हम माही के खाताबुक फैमिली में शामिल होने से बेहद खुश हैं। वे अनुकूल होने, विकसित होने और लीडरशिप की क्षमता व सफलता से आगे बडे लक्ष्यों पर फोकस करना उन्हें असली स्पोर्टमेनशिप और आंदत्रप्रेन्योरशिप का प्रतीक बनाती है। ये ऐसी खूबियां हैं जो उन्हें भारतीय त्रि*केट में सबसे चहेते कप्तान में से एक बनाती हैं। खाताबुक में हम अपने व्यापारियों और बिजनेस पार्टनर के बीच इसी स्तर का भरोसा, चुस्ती और विश्वसनीयता कायम करने की प्रेरणा से काम करते हैं, ताकि इस सफर में वे हमारे अच्छे साथी बन सकें। हमारे लिए यह साझेदारी सबसे उपयुक्त है और जैसे-जैसे हम अरबों भारतीयों के लिए फाइनेंशियल सॉल्यूशन बनाते जा रहे हैंए इसके साथ ही नए कीर्तिमान स्थापित करने की ओर देख रहे हैं।* इस साझेदारी के बारे में बात करते हुए एमएस धोनी ने कहा कि *देश में कई नई कंपनियां हैं, लेकिन खाताबुक जैसी कोई नहीं है, जो जमीनी स्तर पर बदलाव ला रही हैं। भारत के एक छोटे कस्बे में बडे होने के नाते, मैंने अपने दोस्तों और परिवार को बिजनेस के तरीकों और आर्थिक लेन-देन में काफी संघर्ष करते हुए देखा है। खाताबुक भारत के छोटे और खुदरा व्यापारियों के जीवन में बदलाव लेकर आया है। अब जब कि ये भारतीयों के बिजनेस करने के तरीके में बदलाव लाने के उद्देश्य से काम कर रहे हैं, तो मैं सफर के इस महत्वपूर्ण मोड पर उनके साथ जुडकर काफी उत्सुक हूं।* कंपनी के विस्तार करने की योजनाओं पर चर्चा करते हुए खाताबुक के मार्कटिंग वाइस प्रसीडेंट वेद प्रकाश ने कहा कि खाताबुक की शुरुआती ग्रोथ संघटित रही है और मार्केट में हमारी 25-30 फीसदी मौजूदगी है। अब आइडिया यह है कि बाजार में भरोसे और विश्वसनीयता को व्यापक स्तर पर बढाया जाए। इसीलिए धोनी के साथ ब्रैंड की कैंपेनिंग करना सबसे उपयुक्त है। इससे हम ब्रैंड के बारे में जागरूकता बढाने और इसके पेनेट्रेशन को 50-60 फीसदी तक बढाने पर जोर दे रहे हैं। हम अब व्यापारियों के साथ अपने रिश्तों को और बेहतर बनाने और ब्रैंड की विश्वसनीयता बढाने पर ध्यान केंद्रित करेंगे। आज भारत के 5 हजार से ज्यादा शहरों के व्यापारी खाताबुक एप उपयोग कर रहे हैं। किराना स्टोर से लेकर मोबाइल रिचार्ज दुकानों, गारमेंट डीलर और ज्वेलर्स के साथ खाताबुक 500 से ज्यादा प्रकार के बिजनेस को भारत में अपनी सेवाएं दे रहा है। यह 11 भारतीय भाषाओं को सपोर्ट करता है और पिछले एक साल में 3.7 लाख करोड रुपए के कैश ट्रांजेक्शन का हिसाब रखा है। इस एप ने संगठित रूप से नेपाल, पाकिस्तान और बांग्लादेश के व्यापारियों को भी जोडा है। देश की पारंपरिक खाता प्रत्रि*या को पूरी तरह से ऑटोमेटेड बनाते हुए, यह एप भारत में 2 करोड से ज्यादा व्यापारियों के सालाना महत्वपूर्ण 700 घंटे बचाने में मदद कर रहा है।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , Business News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like