congratulations:राज्य स्तरीय भामाशाह पुरस्कार समारोह में हिन्दुस्तान ंजिंक को शिक्षा विभूषण सम्मान

( Read 2340 Times)

28 Jun 19
Share |
Print This Page

 congratulations:राज्य स्तरीय भामाशाह पुरस्कार समारोह में हिन्दुस्तान ंजिंक को शिक्षा विभूषण सम्मान

हिन्दुस्तान जिंक की पांच इकाईयों चंदेरिया लेड जिंक स्मेल्टर, राजपुरा दरीबा कॉम्प्लेक्स, जावर माइंस, रामपुरा आगुचा खान और देबारी स्मेल्टर को वर्ष 2018-19 में शिक्षा के क्षेत्र् में उल्लेखनीय योगदान के लिए बिडला ऑडिटोरियम जयपुर में आयोजित राज्य स्तरीय 25वें भामाशाह सम्मान समारोह में पुरस्कृत किया गया। भामाशाह पुरस्कार सम्मान समारोह में हिन्दुस्तान जिंक की तीन इकाईयों को श्रे६ठ भामाशाह सम्मान, शिक्षा विभूषण से सम्मानित किया गया। कुल 113 भामाशाहों द्वारा दी गयी राशि152 करोड में से 25 प्रतिशत करीब 39 करोड की राशि इस वर्ष हिन्दुस्तान जिंक द्वारा व्यय की गयी। चंदेरिया लेड जिंक स्मेल्टर ने राज्य में शिक्षा उन्नयन हेतु सर्वाधिक 12.41 करोड की राशि व्यय कर राज्य में प्रथम ,राजपुरा दरीबा कॉम्प्लेक्स ने 11.95 करोड व्यय कर द्वितीय, जावर माइंस ने 8.77 करोड व्यय कर तृतीय स्थान प्राप्त किया जिन्हें शिक्षा विभूषण सम्मान से सम्मानित किया गया। रामपुरा आगुचा को शिक्षा विभूषण एवं जिंक स्मेल्टर देबारी को शिक्षा भूषण सम्मान से पुरस्कृत किया गया।

समारोह में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी, शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा, शासन सचिव सुभाष गर्ग ने भामाशाहों को सम्मानित किया। समारोह में भामाशाह, शिक्षा अधिकारी एवं अन्य गणमान्य अतिथि मौजूद थे। हिन्दुस्तान जिंक के चंदेरिया लेड जिंक स्मेल्टर से यह पुरस्कार सीएसआर हेड विशाल अग्रवाल, शिवभगवान, दरीबा स्मेल्टिंग कॉम्प्लेक्स से हेड सीएसआर अभय गौतम, रामपुरा आगुचा खॉन की ओर से यह पुरस्कार हेड सीएसआर दलपत सिंह चौहान, रूचिका नरेश चावला, जावर माइंस से साइट प्रेसिडेंट बलवंत सिंह राठौड, सीएसआर हड अरूणा चीता, नैरूति सांघवी, शुभम गुप्ता एवं देबारी स्मेल्टर से सीएसआर हेड बुद्धिप्रकाश पु६करणा ने ग्रहण किया।

उल्लेखनीय है कि चंदेरिया लेड जिंक स्मेल्टर द्वारा आसपास के क्षेत्र् में ७ौक्षिक उन्नयन हेतु 12.41 करोड, दरीबा स्मेल्टिंग कॉम्प्लेक्स द्वारा 11.95 करोड, जावर माइंस द्वारा 8.77 करोड, रामपुरा आगुचा खान द्वारा 4.77 करोड, एवं देबारी स्मेल्टर द्वारा 91.33 लाख की राशि का योगदान किया गया।

इन कार्यो में राजकीय माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में गणित, अंग्रेजी, व विज्ञान विषयाध्यापकों की अतिरिक्त व्यवस्था, विद्यालयों का जीर्णोद्धार, नंदघरों का निर्माण, उंची उडान कार्यक्रम में आईआईटी हेतु कोचिंग, माइंडस्पार्क कार्यक्रम के तहत् पहली से आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों को कम्यूटर के माध्यम से अग्रेंजी और गणित का अध्ययन, छात्रओं को रिंगस महाविद्यालय में उच्च शिक्षा हेतु सहयोग, पुस्तकालय व प्रयोगशाला हेतु फर्नीचर एवं सुरक्षा उपकरण, अध्यापको के अध्ययन हेतु पुस्तकें एवं अध्ययन सामग्री, राजकीय अध्यापको हेतु कार्यशाला, ग्रीष्मकालीन प्रशक्षण शविर, शिक्षा संबंल के अन्तर्गत नियुक्त किये गये अध्यापकों का आमुखीकरण प्रशक्षण, बाल कल्याण केन्द्र के छात्र् छात्रओं को शुद्ध पेयजल, गणवेश वितरण, ब्लॉक स्तरीय खेलकुद प्रतियोगिताओं में सहयोग, ब्लॉक स्तरीय विज्ञान मेले में आर्थिक सहयोग, अलग-अलग राजकीय विद्यालयों में कक्षा-कक्षो का निर्माण, बालिकाओं एवं बालकों के लिए शौचालय का निर्माण, ट्युबवेल लगवाने का कार्य, ग्रिन बोर्ड उपलब्ध कराना, विद्यालयों की छतों पर वाटर प्रुफींग का कार्य, भुमीगत टेंक का निर्माण, जिलों के 3089 आंगनवाडी केन्द्रो पर शालापुर्व शिक्षा, स्वास्थ्य परिक्षण किया जा कर ७ौक्षिक उन्नयन हेतु खुशी कार्यक्रम द्वारा सहयोग किया गया है।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , Sponsored Stories , Zinc News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like