चाणक्य काल में भी उपभोक्ताओं के अधिकार और उनके संरक्षण को महत्ता दी जाती थी: जयमल राठौड़

( Read 3263 Times)

21 Jun 21
Share |
Print This Page

चाणक्य काल  में भी उपभोक्ताओं के अधिकार और उनके संरक्षण को महत्ता दी जाती थी: जयमल राठौड़

 उदयपुर,  उपभोक्ता अधिकार संगठन ,राजस्थान जोनल कमेटी द्वारा "उपभोक्ताओं के अधिकार और हितों की रक्षा एवं कानून" संबंधी एक दिवसीय वेबीनार का आयोजन किया गया |
 
वेबिनार के मुख्य वक्ता जयमल राठौड़, डिविजनल कंज्यूमर  प्रोटेक्शन ऑफिसर ने बताया कि चाणक्य काल में भी उपभोक्ताओं के अधिकार और उनके संरक्षण को महत्ता दी जाती थी  लेकिन आज के परिप्रेक्ष्य  में इसका दायरा बहुत अधिक बढ़ गया है| प्रत्येक उपभोक्ता को अपने अधिकारों के बारे में सजग रहना चाहिए और अपने हक के लिए जरूर आगे आना चाहिए | राठौर ने ये भी कहा कि विज्ञापन एजेंसियों के  नैतिक मूल्यों को भी ध्यान में रख विज्ञापन प्रेषित करना चाहिए |

वेबिनार का संचालन  करते हुए  प्रशांत व्यास ने बताया कि कार्यक्रम की अध्यक्षता उपभोक्ता अधिकार संगठन  के राष्ट्रीय अध्यक्ष  नवीन प्रकाश शर्मा  ने की और उपभोक्ता के कानूनी अधिकारों पर प्रकाश डाला.

वेबिनार में उपस्थित राजश्री गांधी,   प्रदेश अध्यक्षा,  राजस्थान ने पूर्व में किये गए कार्यो पर प्रकाश डाला और आगामी माह में संचालित किये जाने वाले उपभोक्ता जागरूकता कार्यक्रम जो कि अब वार्ड स्तर पर आयोजित किये जायेंगे उनके बारे में जानकारी दी |  

जोनल प्रेसिडेंट विपुल मोहन ने सभी का स्वागत एवं आभार प्रेषित किया |

कार्यक्रम में  उपस्थित उपाध्यक्ष डॉ महेंद्र सिंह, उदित चौबीसा,कर्नाटक के प्रदेश अध्यक्ष नवीन कमल, उदयपुर  जिला अध्यक्ष मनोज जैन, ज्योत्सना जैन, आंध्र प्रदेश से डॉ विकास पांडेय ,शिरीष नाथ माथुर, छत्तीसगढ़ से  चंद्र भूषण मिश्रा,ऋषि सुखवाल,ज्योत्स्ना जैन,  मनोज कुमार मित्तल,नरेश शर्मा,भूमिका चौबीसा, जगदीश अरोड़ा एवं राजस्थान जिले के समस्त पदाधिकारीगण उपस्थित रहे| 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like