GMCH STORIES

मुख्यमंत्री ने किया 1332 करोड़ रूपये की 68 परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण

( Read 2411 Times)

29 Sep 20
Share |
Print This Page

मुख्यमंत्री ने किया 1332 करोड़ रूपये की 68 परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण

 

उदयपुर । मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने सोमवार को मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 1331.96 करोड़ रूपये के 68 विकास कार्यों का ई-शिलान्यास एवं ई-लोकार्पण किया। श्री गहलोत ने जयपुर, अजमेर एवं उदयपुर संभाग में स्मार्ट सिटी मिशन, अमृत योजना, आरयूआईडीपी एवं नगरीय विकास विभाग केे तहत कुल 1037.96 करोड़ रूपये की 47 परियोजनाओं का शिलान्यास तथा 294.44 करोड़ रूपये की 21 परियोजनाओं का लोकार्पण किया।
लोकार्पण एवं शिलान्यास के बाद संबोधित करते हुए श्री गहलोत ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण आई चुनौतियों के बावजूद राज्य सरकार ने शहरी विकास के कार्यों की गति धीमी नहीं होने दी और अधूरे कार्यों को पूरे करने साथ-साथ नई परियोजनाएं भी शुरू की हैं। उन्हांेने कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत हो रहे कार्यों से शहरी जीवन स्तर में सुधार आएगा और पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण शहरों में मूलभूत सुविधाएं विकसित होने से पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी नये कार्य की शुरूआत पूरे विधि-विधान से करने की परम्परा रही है, लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण फिलहाल सारे कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण वीडियो कॉन्फं्रेस के माध्यम से सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करते हुए किया जा रहा है। उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित नेता प्रतिपक्ष श्री गुलाबचन्द कटारिया सहित अन्य जनप्रतिनिधियों का आह्वान किया कि कोरोना से इस लड़ाई को सभी के सहयोग से जन-आन्दोलन का रूप देते हुए हर व्यक्ति को इससे बचाव के लिए जागरूक करने में आगे आकर सहयोग करेें। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति इस जन आंदोलन में आगे बढ़कर सहयोग करे।  
श्री गहलोत ने कहा कि अभी लोगों का जीवन बचाना पहली प्राथमिकता है और इसमें राजनीति से ऊपर उठकर सभी को मिलकर कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण रोकने में सफाई व्यवस्था की भूमिका महत्वपूर्ण है। इसे देखते हुए स्थानीय निकाय सफाई व्यवस्था चाक-चौबंद रखें। उन्होंने पूरे प्रदेश में लाउड स्पीकर के माध्यम से लोगों कोरोना से बचाव के प्रति जागरूकता पैदा करने के निर्देश भी दिए।
उन्होंने कहा कि नगर-निगम, नगर-परिषद एवं अन्य स्थानीय निकाय अपनी आय के साधन विकसित करें। भविष्य की जरूररतों को देखते हुए शहरों का विकास टाउन प्लानिंग के आधार पर होना चाहिए। अच्छी टाउन प्लानिंग के साथ किये गए कार्यों से शहरों का स्वरूप निखर जाएगा। उन्होंने शहरी विकास प्राधिकरणों एवं शहरी निकायों में सहायक नगर नियोजकों की भर्ती शीघ्र करने निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्वायŸा शासन विभाग स्ट्रीट वेंडर्स के लिए उचित जगह एवं सुविधाएं उपलब्ध कराए ताकि वे अपनी आजीविका जारी रख सकें। उन्होंने इंदिरा रसोई योजना को आमजन से मिल रहे रेस्पोंस पर खुशी जताई।
मुख्यमंत्री ने राजस्थान आवासन मण्डल की योजना अपनी दुकान-अपना व्यवसाय के फोल्डर का विमोचन भी किया। इस योजना के तहत प्रदेश के 13 शहरों मंे व्यावसायिक भू-खण्ड अथवा निर्मित दुकान खरीदने का अवसर मिलेगा।
नगरीय विकास एवं स्वायŸा शासन मंत्री श्री शांति धारीवाल ने कहा कि स्मार्ट सिटी मिशन के तहत हो रहे जनोपयोगी कार्यों से शहरों में मूलभूत सुविधाएं विकसित होंगी और इसका लाभ आमजन को मिलेगा। उन्होंने बताया कि जयपुर संभाग में 632.35 करोड़ रूपये की 10 परियोजनाओं का शिलान्यास जबकि 245.40 करोड़ की 12 परियोजनाओं का लोकार्पण हुआ है। अजमेर संभाग में 349.01 करोड़ रूपये की 26 परियोजनाओं का शिलान्यास जबकि 43.43 करोड़ की 3 परियोजनाओं का लोकार्पण हुआ है। उदयपुर संभाग में 56.16 करोड़ रूपये की 11 परियोजनाओं का शिलान्यास जबकि 05.61 करोड़ की 6 परियोजनाओं का लोकार्पण हुआ है।
श्री धारीवाल ने बताया कि नगरीय निकायों के माध्यम से आम नागरिकों को मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग रखने बार-बार हाथ धोने के संबंध में लाउड स्पीकरों के माध्यम से जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोविड-19 संक्रमण के दौरान सफाई एवं अग्निशमन कर्मचारियों को एक-एक हजार रूपये प्रति कर्मचारी, 1.10 लाख स्ट्रीट वेंडर्स को 3500 प्रति लाभार्थी राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सकायता उपलब्ध कराई गई है। स्ट्रीट वेंडर्स को अपना व्यवसाय पुनर्स्थापित करने के लिए ब्याज में 7 प्रतिशत छूट के साथ दस-दस हजार रूपये का ऋण उपलब्ध कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। उन्होेंने बताया कि सफाई कर्मियों को सीवर लाइन में सफाई के लिए नहीं उतरना पड़े, इसके लिए विभाग द्वारा 88 करोड़ की लागत से आधुनिक उपकरण मंगवाए जा रहे हैं।
उद्योग मंत्री श्री परसादी लाल मीणा, परिवहन मंत्री श्री प्रताप सिंह खाचरियावास, शिक्षा राज्य मंत्री श्री गोविंद सिंह डोटासरा, विधानसभा में मुख्य सचेतक डॉ. महेश जोशी ने राज्य सरकार द्वारा जनहित में कराए जा रहे विकास कार्यों एवं कोरोना संक्रमण के दौरान किए गए प्रबंधन की खुलकर प्रशंसा की।
वीसी के दौरान नेता प्रतिपक्ष श्री गुलाबचन्द कटारिया, जयपुर सांसद श्री रामचरण बोहरा, अजमेर सांसद श्री भागीरथ चौधरी, विधायक श्रीमती गंगा देवी, श्री रफीक खान, श्री अमीन कागजी, श्री निर्मल कुमावत, नगर निगमों के मेयर, स्थानीय निकायों के सभापति एवं अध्यक्ष तथा कई अन्य जनप्रतिनिधि जुड़े रहे।
इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री राजीव स्वरूप, प्रमुख शासन सचिव नगरीय विकास श्री भास्कर ए सांवत, शासन सचिव स्थानीय निकाय श्री भवानी सिंह देथा, जेडीसी श्री गौरव गोयल, आयुक्त राजस्थान आवासन मण्डल श्री पवन अरोड़ा, आरयूडीआईपी के परियोजना निदेशक कुमार पाल गौतम, तथा विभिन्न जिलों के कलेक्टर भी उपस्थित थे।
उदयपुर स्मार्ट सिटी के 24.42 करोड़ के 6 कार्यों का शिलान्यास
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उदयपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के तहत 24.42 करोड़ की लागत के 6 कार्यों का शिलान्यास किया। इनमें उदयपुर शहर विधानसभा क्षेत्र में 19.60 करोड़ की लागत के कुम्हारों का भट्टा में फ्लाई ओवर निर्माण कार्य, 1.49 करोड़ की लागत के गणेश घाटी जोन में हेरिटेज फसाड़ संरक्षण एवं विकास कार्य, 99 लाख की लागत के रेजीडेंसी स्कूल संरक्षा व विकास कार्य, 18 लाख की लागत के चर्च बिल्डिंग में हेरिटेज फसाड़ संरक्षण एवं विकास कार्य तथा उदयपुर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में 1.30 करोड की लागत से सरस्वती पुस्तकालय गुलाबबाग का संरक्षण व विकास कार्य व 86 लाख की लागत के बलीचा में एडमिन ब्लॉक व वेलफेयर सेंटर के निर्माण कार्य का शिलान्यास किया गया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , Udaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like