BREAKING NEWS

राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस पर वेबिनार का आयोजन

( Read 1502 Times)

30 Jun 20
Share |
Print This Page

राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस पर वेबिनार का आयोजन

राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस को महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रोद्योगिकी विश्वविद्यालय तथा मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय उदयपुर के सयुंक्त तत्वाधान में "बेहतर समंक-उत्तम जीवन" (बेटर डाटा बेटर लाईव्स) विषय पर एक राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया गया। राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस देश के प्रख्यात सांख्यिकी विद प्रोफेसर प्रशान्त चंद्रमहाल नोबिस के जन्म दिवस पर उनके सांख्यिकी में दिए गए अपूर्व योगदान के रूप में मनाया जाता है। वेबिनार के मुख्य अथिति महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय एवं मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति प्रोफ़ेसर नरेंद्र सिंह जी राठोड़ थे। उन्होंने विश्वसनीय आंकड़ो से प्रतिपादित होने वाले निष्कर्षों का देश की प्रगति में योगदान पर प्रकाश डाला एवं समस्त शोधार्थियों को सन्देश दिया कि अपने शोध के उपरांत एकत्रित किये गए आकड़ो की विश्वसनीयता का ध्यान रखे तथा आकड़ो की सच्चाई को ईमानदारी से अपने शोध के निष्कर्षो में शामिल करें। आंकड़े जैसे प्राप्त हुए है वैसे ही उनका प्रयोग करे एवं इनके हेर फेर से भ्रामक एवं तथ्यों का गलत निरूपण करने से बचे।

कृषि सांख्यिकी शोध संस्थान, नई दिल्ली के भूतपूर्व निदेशक डा. सुखदेव शर्मा कार्यक्रम के मुख्य वक्ता थे। उन्होंने सांख्यिकी दिवस के महत्व एवं विश्वसनीय आंकड़ों से निष्कर्ष को विस्तार से बताया। समंको के संग्रहण के स्त्रोत एवं उन पर आधारित तथ्यों से नीति निर्धारको को वंचितों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुँचाकर उनके जीवन स्तर को कैसे बेहतर बनाया जा सकता है इस पर विस्तार से चर्चा की।

प्रोफेसर राकेश श्रीवास्तव भूतपूर्व निदेशक, जनसंख्या शोध संस्थान, बड़ोदा ने मुख्य वक्ता के रूप में सांख्यिकी दिवस की उपादेयता एवं भारतीय सांख्यिकी प्रणाली के मुख्य वास्तुकार, प्रोफेसर प्रशांत चंद्र महालनोबिस के सिद्धांतों पे चलकर राष्ट्रीय प्रगति में योगदान के लिए शोधार्थियों, विद्यार्थियों, वेज्ञानिको को आह्वान किया। बेहतर समंको से उत्तम जीवन की अपेक्षा कैसे की जा सकती है इस विषय पर विस्तार से प्रस्तुतिकरण दिया। वेबिनार के आयोजन सचिव प्रो. भूपेंद्र उपाध्याय, विभागाध्यक्ष, राजस्थान कृषि महाविद्यालय, उदयपुर ने स्वागत उदबोधन में बताया कि इस बेबिनार में 407 प्रतिभागियों ने पंजीकरण कराया। डॉ अनिता मेहता, सहायक आचार्य, विज्ञान महाविद्यालय उदयपुर ने कार्यक्रम का संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन किया।

 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like