सीटीएई में स्कूल बच्चे कृषि तकनिकी देख कर हुए चकित

( Read 582 Times)

04 Dec 19
Share |
Print This Page

sanwal singh meena

सीटीएई में स्कूल बच्चे कृषि तकनिकी देख कर हुए चकित

प्रौद्योगिकी एवं अभियांत्रिकी महाविद्यालय में आज राष्ट्रीय कृषि शिक्षा दिवस मनाया गया | यह दिवस भारत के प्रथम राष्ट्रपति भारत रत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद के जन्म दिवस के मौके पर प्रतिवर्ष ३ दिसंबर को मनाया जाता है | इस  अवसर पर आज उदयपुर के एमडीएस स्कूल के  ३०० विद्यार्थियों तथा राजस्थान विद्यापीठ में चल रहे कौशल विकाश कार्यक्रम के ४० विद्यार्थियों ने  महाविधालय के कर्षि अभियांत्रिकी विभाग का भ्रमण किया | कृषि अभियांत्रिकी के फार्म मशीनरी इकाई  में विद्यार्थी  पेडल से चलने वाली मक्का थ्रेशर , गेहू काटने की मशीन, मल्चिंग बिछाने की मशीन देख कर अपने आप को अचंभित महसूस  किया | कृषि कार्यों में काम आने वाली विभिन्न्न मशीनों की टेस्टिंग करने की विधि को भी समझा | इस के बाद सभी बच्चे नवीकरणीय ऊर्जा विभाग में गए जहाँ उन्हने बायोगैस , बायो चार बनाने का उपकरण, सोलर कुकर, सोलर रेफ्रिजरेशन सिस्टम  आदि देखे |बच्चों ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए एक दूसरे से कहने लगे की ऐसे तो घर में सोलर बिजली लग जाये तो बिल ही नहीं आएगा और खाना बनाने में धुआँ भी नहीं निकलता |  महाविद्यालय के प्रक्षिशण फार्म पर गेहू की बुवाई, बीज बनाने की प्रक्रिया ,खेत में सिचाई के लिए क्यारियां बनाने  एवं खेतों में जुताई, खरपतवार निकासी यंत्रों का प्रदर्शन देखा | प्रताप व्हील हो से बच्चों के खरपतवार निकालने का भी आनंद उठाया | महाविजयालय के तकनिकी फार्म पर ग्रीन हाउस, मल्चिंग एवं बूँद बूँद सिचाई पद्धिति को देखा की किस प्रकार बूँद बूँद सिचाई पद्धिति से  ६० से ७० प्रतिशत पानी को बचाया जा सकता है | विद्यार्थियों के भ्रमण का समन्वयन फार्म इंचार्ज डॉ सांवल सिंह मीणा  तथा डॉ सुधीर जैन द्वारा किया गया |


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like