पेसा कानून पर राज्य स्तरीय प्रशिक्षण कार्यशाला संपन्न

( Read 651 Times)

12 Oct 19
Share |
Print This Page
पेसा कानून पर राज्य स्तरीय प्रशिक्षण कार्यशाला संपन्न

उदयपुर / राजस्थान पंचायती राज (उपबंधों का उनके अनुसूचित क्षेत्रों में लागू होने के  संबंध में उपंातरण) अधिनियम, 1999 एवं नियम, 2011 की धरातलीय क्रियान्विति के संबंध में राज्य स्तरीय प्रशिक्षकों की प्रशिक्षण कार्यशाला शुक्रवार को टीआरआई में हुई। कार्यशाला में जनजाति उपयोजना क्षेत्र के समस्त जिलों यथा उदयपुर, बांसवाड़ा, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, सिरोही, चित्तोडगढ़, राजसमन्द एवं पाली जिले के जिला स्तरीय अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया गया।
कार्यशाला में टीएडी के अतिरिक्त आयुक्त रामजीवन मीणा ने कार्यशाला के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि टीएसपी क्षेत्र में ग्राम पंचायत विकास आयोजना (जीपीडीपी) राजस्व गांव स्तर पर तैयार की जाकर पंचायत राज विभाग को भेजी जाए। पेसा के प्रभावी क्रियान्वयन के लिये नियमित रूप से राजस्व गांव स्तर पर ग्राम सभाएं आयोजित करना महत्वपूर्ण है।
प्रशिक्षण के दौरान जिला संभागियों ने पेसा कानून के धरातलीय क्रियान्विति के लिये अनुसूचित जिलों में पेसा से सम्बन्धित विभाग यथा राजस्व, वन, आबकारी, खान एवं खनन, पंचायती राज, जल संसाधन, जनजाति आदि विभागों मे ंआपसी समन्वय पर जोर दिया। इसी प्रकार क्षेत्र में लघु वन उपज सग्रहण एवं विपणन से होने वाली सकल आय का हस्तान्तरण वन विभाग द्वारा पंचायती राज विभाग एवं सम्बन्धित ग्राम पंचायत को करने का सुझाव दिया जिससे सम्बन्धित पंचायत की अवसंरचना विकास एवं वन उपज के विकास पर राशि का उपयोग किया जा सकें।
निदेशक (सांख्यिकी) बी.एल. कटारा ने उपस्थित सहभागियों को पंचायत उपबन्ध (अनुसूचित क्षेत्रों पर विस्तार) अधिनियम 1996 के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि आगामी समय में सम्बन्धित जिलों में होने वाले पेसा जागरूकता कार्यक्रम मे राज्य स्तरीय प्रशिक्षकों की ंसक्रिय सहभागिता अहम रहेगी।
राज्य पेसा समन्वयक डॉ. भरत श्रीमाली ने राजस्थान पंचायती राज (उपबंधों का उनके अनुसूचित क्षेत्रों में लागू होने के  संबंध में उपंातरण) अधिनियम, 1999 एवं नियम, 2011 के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई। इस दौरान विभिन्न जिला स्तरीय विभागीय अधिकारियों को पंचायत राज एवं ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा निर्मित पेसा लघु फिल्म के माध्यम से विभिन्न प्रावधानों पर प्रकाश डाला गया। कार्यक्रम का संचालन दीपक सोनी ने किया जबकि आभार टीआरआई निदेशक दिनेशचन्द्र जैन ने जताया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like