BREAKING NEWS

तेरापंथ युवक परिषद उदयपुर द्वारा वनमाली माता पिता पूजन एवं भक्ति संध्या आयोजित

( Read 2150 Times)

09 Apr 19
Share |
Print This Page

तेरापंथ युवक परिषद उदयपुर द्वारा वनमाली माता पिता पूजन एवं भक्ति संध्या आयोजित

उदयपुर। तेरापंथ युवक परिषद उदयपुर ने वाली पीढी में संस्कारों के बीजारोपण के लिए भुवाणा स्थित महाप्रज्ञ विहार में माता पिता पूजन का आयोजन किया। जिसमें सर्वप्रथम परिवार जनों ने माता पिता के चरण स्पर्श किये फिर सास बहू, पिता पुत्रए,माँ बेटी एवं परिवारजन एक दूसरे गले मिलने के बाद माता की आरती की गई। जिसमें सर्वप्रथम माता पिता के चरणों का जलाभिषेक,उन्हें मौली बांधना, तिलक करना,गुड खिलाना,दीपक से आरती करना आदि कार्य किए गए। पूजन कार्यक्रम के दौरान सम्पूर्ण पंडाल में मानो भावनाओं का ज्वार ही उठ खडा हुआ हो।

इसके पश्चात भजन गायक पंकज भंडारी,अंकित शुभम शर्मा,दीपश्री आमेटा,मित्तल व्यास ने माता-पिता पर भजनों की भावपूर्ण प्रस्तुति दी। इस दौरान माता-पिता के ही भजनों पर गरबा रास का आयोजन किया, जिस पर समाज की महिलाएं, बच्चें,युवक-युवतियों ने गरबा किया।

कार्यक्रम की शुरुआत शासनश्री मुनिश्री सुरेश कुमार हरनावां ने कहा की माता पिता सबसे बडा तीर्थ होते है। माँ लोरिया गाती है, प्यार से गौद में लेकर सुलाती है, और पिता हर बात पर गलतियां निकालते है, माँ के प्यार और पिता की झिडकियों के साथ ही इंसान सही मायने में इंसान बनता है।

मुनिश्री सम्बोध कुमार ने कहा माँ घर का गौरव तो पिता घर का वजूद होते है, माँ अगर दो वक्त की रोटी बनाती है, तो पिता जिंदगी भर के भोजन का इंतजाम करता है। जब हम बोलना नही जानते थे, तो हमारे बोले बिना माँ बाप हमारी बातों को समझ जाते और हम है कि उनकी हर बात पर कहते है छोडो भी आप नही समझोगे। कलयुग का इससे बडा और क्या मिसाल हो सकती है कि दो मा बाप एक छोटी सी झोंपडी में दस बच्चो को पाल लेते है मगर दस बच्चें मिलकर दस बंगलो में भी अपने माता पिता की देखभाल नही कर सकते। माता पिता ने हमे खुशी दी हम उन्हें उनका वजूद दे। माता पिता के उपकार इतने होते है कि अपनी चमडी की कालीन बनाकर अगर माता पिता के कदमो में बिछा दी तो भी उनका कर्ज नही चुकाया जा सकता।

मुनि श्री प्रतीक कुमार ने कहा कि माता पिता के कारण हमारी संस्कृति जिंदा है।रोज मंदिर में भगवान की पूजा करने जाए न जाए माँ बाप के चरणों मे अपने दो पल बिता ले तो भगवान की पूजा अपने आप हो जाएगी।जो जीवन देते है उन्हें कभी दुख मत देना।

तेयुप अध्यक्ष विनोद चंडालिया ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस कार्यक्रम के लिए पिछले २०.२५ दिनों से युवासाथी मेहनत कर रहे है विशेष कर डायग्नोस्टिक सेंटर के राष्ट्रीय प्रभारी अभिषेक पोखरना ने प्रचार प्रसारएराकेश नाहर,राजकुमार कच्छारा,मुकेश कच्छारा,संजय कावडया,तरुण मोटावत,राकेश बाफना,विशाल पोरवाल,पीयूष जारोली,मनोज लोढा,नितेश सिंघटवाडया,हेमंत सोनी,अमित चेनावत,भूपेश खमेसरा,रविन्द्र नान्द्रेचा,हेमंत कोठारी,भाविन कच्छारा,अभय कोठारी ने भोजन एवं पंडालएपंकज भंडारी ने पूजन एवं भजन संध्या में सहयोग किया।

तेरापंथ सभा अध्यक्ष सूर्यप्रकाश मेहता,महिला मंडल अध्यक्ष लक्ष्मी कोठारी ने आए हुए समाजजनों का स्वागत किया। आभार मंत्री पीयूष जारोली ने किया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like