logo

हैदराबाद-जयपुर-हैदराबाद साप्ताहिक एक्सप्रेस में होगें एलएचबी कोच

( Read 1240 Times)

14 Jun, 18 16:40
Share |
Print This Page

रेलवे प्रशासन द्वारा यात्रियों की सुविधा हेतु हैदराबाद-जयपुर-हैदराबाद साप्ताहिक एक्सप्रेस में एलएचबी कोच लगाए जा रहे है।
गाडी संख्या 17020/17019, हैदराबाद-जयपुर-हैदराबाद साप्ताहिक एक्सप्रेस में हैदराबाद से दिनांक 16.06.18 से एवं जयपुर से 19.06.18 से एलएचबी कोच लगाये जा रहे है। इस गाडी में 01 सैकण्ड एसी, 04 थर्ड एसी, 10 द्वितीय शयनयान श्रेणी, 04 साधारण श्रेणी तथा 02 पावरकार सहित कुल 21 डिब्बें होगें।
नोट (1)- थर्ड एसी श्रेणी के प्रत्येक एलएचबी कोच में 72 बर्थ होती है, जिसे यात्रियों को अधिक बर्थ उपलब्ध होगी।
(2)द्वितीय शयनयान श्रेणी के प्रत्येक एलएचबी कोच में 80 बर्थ होती है, जिसे यात्रियों को अधिक बर्थ उपलब्ध होगी।
क्या है एलएचबी (लिंक हाफमेन बुश) कोच ?
रिसर्च डिजाइन्स ऐंड स्टैंडर्ड्स ऑर्गनाइजेशन (RDSO) ने तकरीबन 10 साल पहले ऐसे कोच बनाये थे, जो आपस में टकरा न सकें। इन्हें लिंक हॉफमेन बुश (एलएचबी) कोच नाम दिया गया। एलएचबी कोचों और सीबीसी कपलिंग होने से ट्रेन के कोचों के पलटने और एक दूसरे पर चढ़ने की गुंजाइश नहीं रहती है।
1. उच्चग स्तेरीक तकनीक :
एलएचबी कोच पुराने कन्वे्शनल कोच से काफी अलग होते हैं। ये उच्च स्तरीय तकनीक से लैस है। इन कोचों में बेहतर एक्जावर का उपयोग किया गया है। जिससे आवाज कम होती है। यानी कि पटरियों पर दौड़ते वक्तह अंदर बैठे यात्रियों को ट्रेन के चलने की आवाज बहुत धीमी आती है।
2. स्टेतनलेस स्टी ल से बने होते हैं डिब्बे :
ये कोच स्टेेनलेस स्टीसल से बने होते हैं। जबकि इंटीरियर डिजाइन एल्यू़मीनियम से की जाती है। जिससे कि यह कोच पहले की तुलना में थोड़े हल्केट होते हैं।

3. पॉवर ब्रेक :
इन कोचों में डिस्क ब्रेक कम समय व कम दूरी में अच्छे ढंग से ब्रेक लगा देते है। कोचों में लगे शाक एक्जावर की वजह से झटकों का अनुभव कम होता है।

4. सीबीसी कपलिंग से डिब्बेव एक-दूसरे पर नहीं चढ़ते :
एलएचबी डिब्बों में सीबीसी कपलिंग लगाई जाती है। इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि अगर ट्रेन डिरेल भी होती है तो कपलिंग के टूटने की आशंका नहीं होती है, जबकि स्क्रू कपलिंग वाले कोचों के डिरेल होने से उसके टूटने का डर बना रहता है।

उदयपुर-मैसूर-उदयपुर पैलेस क्वीन हमसफर एक्सप्रेस
का मन्दसौर स्टेsशन पर होगा ठहराव
रेलवे प्रशासन द्वारा रेल यात्रियों की मांग को देखते हुए उदयपुर-मैसूर-उदयपुर पैलेस क्वीन हमसफर एक्सप्रेस प्रायोगिक तौर पर छः माह के लिए मन्दसौर स्टेषन पर ठहराव दिया जा रहा है।
गाडी संख्या 19667, उदयपुर-मैसूर पैलेस क्वीन हमसफर एक्सप्रेस, उदयपुर से दिनांक 18.06.18 से प्रस्थान करने वाली रेलसेवा मन्दसौर स्टेशन पर 01.18 बजे आगमन एवं 01.20 बजे प्रस्थान करेगी इसी प्रकार गाडी संख्या 19668, मैसूर-उदयपुर पैलेस क्वीन हमसफर एक्सप्रेस, मैसूर से दिनांक 14.06.18 से प्रस्थान करने वाली रेलसेवा मन्दसौर स्टेशन पर 23.30 बजे आगमन एवं 23.32 बजे प्रस्थान करेगी ।

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Rail info News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like