स्वच्छता सर्वे में उत्तर पश्चिम रेलवे ने फिर फहराया परचम

( Read 1004 Times)

03 Oct 19
Share |
Print This Page
स्वच्छता सर्वे में उत्तर पश्चिम रेलवे ने फिर फहराया परचम

स्वच्छ रेल-स्वच्छ भारत की पहल पर स्टेशनों के विभिन्न क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था के आधार पर किये गये सर्वें की रिपोर्ट आज जारी की गई। भारतीय रेलवे द्वारा स्वच्छ रेल अभियान के अन्तर्गत विभिन्न स्टेशनों पर इस वर्ष भी सफाई व्यवस्था को लेकर थर्ड पार्टी सर्वें करवाया गया, जिसमें भारतीय रेलवे के सभी जोन में उत्तर पश्चिम रेलवे स्वच्छता सर्वे ८४८.७ अंक प्राप्त कर अव्वल रहा। उल्लेखनीय है कि गत वर्ष के स्वच्छता सर्वें में भी उत्तर पश्चिम रेलवे को प्रथम स्थान प्राप्त हुआ था। स्वच्छता सर्वें में उत्तर पश्चिम रेलवे को विगत दो वर्षों से लगातार भारतीय रेलवे के सभी जोन में प्रथम स्थान प्राप्त हो रहा है।

उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्फ अधिकारी श्री अभय शर्मा के अनुसार क्वालिटी काउन्सलिंग ऑफ इण्डिया (QCI) द्वारा ७२० स्टेशनों को इस सर्वें में सम्मलित किया गया। इस बार स्वच्छता सर्वें के लिये दो श्रेणिया बनाई गई जिनमें गैर उपनगरीय समूह (NSG) तथा उपनगरीय समूह (SG) स्टेशनों को रखा गया।

  1. क्वालिटी काउन्सलिंग ऑफ इण्डिया (QCI) द्वारा आयोजित स्वच्छता सर्वें में सभी जोनल रेलवे को सम्मलित किया गया, जिसमें उत्तर पश्चिम रेलवे के ३३ स्टेशन शामिल किये है, स्वच्छता के मापदण्डों के अनुसार उत्तर पश्चिम रेलवे ने १००० में से ८४८.७ अंक प्राप्त सम्पूर्ण भारतीय रेलवे पर लगातार दूसरे वर्ष पहला स्थान प्राप्त किया।
  2. विगत वर्षों में किये गये प्रयासों से उत्तर पश्चिम रेलवे के जयपुर स्टेशन पर स्वच्छता सर्वें में इस बार प्रथम स्थान तथा जोधपुर स्टेशन को द्वितीय स्थान दिया गया है, पिछले सर्वें में जोधपुर स्टेशन पहले और जयपुर स्टेशन दूसरे स्थान पर रहे थे।
  3. उत्तर पश्चिम रेलवे के अन्य स्टेशनों पर भी बेहतर सफाई व्यवस्था के आधार उच्च रेकिंग प्राप्त हुई है। प्रथम १० स्टेशनों में से उत्तर पश्चिम रेलवे के ७ स्टेशन सम्मलित है। जोकि निम्न प्रकार है-

जयपुर

जोधपुर

दुर्गापुरा

५. गांधीनगर जयपुर

६. सूरतगढ

८. उदयपुर सिटी

९. अजमेर

 

इसके साथ ही स्वच्छता सर्वे में प्रथम १०० स्टेशनों में से उत्तर पश्चिम रेलवे के २६ स्टेशन सम्मलित है। जिनमें फुलेरा-११वें, किशनगढ-१२वें, भगत की कोठी-१४वें, मारवाड जं.-१५वें, श्रीगंगानगर-२७वें, अलवर-३१वें, पाली मारवाड-३२वें, हनुमानगढ-३८वें, भीलवाडा-४०वें, बाडमेर-४१वें, जैसलमेर-५०वें, बीकानेर-५३वें, दौसा-५५वें, सीकर-५७वें, फालना-६०वें, लालगढ-६२वें, आबूरोड-७३वें, भिवानी-७८वें, मेडता रोड-९५वें स्थान पर रहे।

 

श्री आनंद प्रकाश, महाप्रबंधक-उत्तर पश्चिम रेलवे ने स्वच्छता सर्वें की रिपोर्ट आज १५०वीं गांधी जयंती पर जारी होने के अवसर उत्तर पश्चिम रेलवे के उत्कृष्ट प्रदर्शन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुये कहा कि यह सभी रेलकर्मियों के संयुक्त प्रयासों तथा रेल ग्राहकों के सहयोग से सम्पादित हुआ है, यह हम सभी के लिये गौरव की बात है और हमें प्रयासों को ओर बेहतर व निरन्तरता बनाये रखनी हैं।

थर्ड पार्टी द्वारा आयोजित इस सर्वें में विभिन्न मापदण्डों को सम्मलित किया गया जिनमें, पार्किंग, मुख्य प्रवेश द्वार, प्लेटफार्म, वेटिंग रूम, तथा इनमें सफाई की प्रकि्रया का आंकलन, यात्री फीडबैक प्रकि्रया जैसे बिन्दुओं को मुख्य रूप से रखा गया, जिनके आधार पर अंक निर्धारित किये गये। इस सर्वें में अंको के आधार पर आंकलन किया गया जिसमें प्रोसेस ऑडिट, डायरेक्ट ऑब्जर्वेशन तथा सिटीजन फीडबैंक को सम्मलित किया गया।

  1. स्टेशनों पर स्वच्छता के लिये क्वालिटी काउन्सलिंग ऑफ इण्डिया (QCI) द्वारा इस सर्वे में निम्न बिन्दुओं को आधारित किया गया-
  2. प्रकि्रया मूल्यांकन (process evaluation)& पार्किंग , मुख्य प्रवेश द्वार, प्लेटफार्म, वेटिंग रूम में सफाई की प्रकि्रया का बिंदुवार आंकलन।
  3. सीधे अवलोकन द्वारा (direct observation) & ओपन एरिया, टॉयलेट, बैठने की व्यवस्था, वेंडर एरिया, वाटर बूथ, वेटिंग रूम, रेलवे ट्रेक, फुट ऑवर ब्रिज का स्टेशनों पर निरीक्षण के माध्यम से आंकलन।

फीडबैक (citizen feedback) & यह प्रकि्रया का सबसे महत्वपूर्ण भाग है, जिसमें यात्रियों से स्टेशनो पर सफाई की स्थिति का फीडबैक प्राप्त किया जायेगा। यात्रियों से प्रमुख सम्फ क्षेत्रों में स्वच्छता अनुभवों के आधार प्रश्न।

 

उत्तर पश्चिम रेलवे पर सफाई व्यवस्था को सुदृढ करने के लिये अनेक कार्य किये जा रहे है साथ ही यात्रियों में भी जागरूकता आई है, जिनका पूरा सहयोग रेलवे को प्राप्त हो रहा है।    


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Jodhpur News , States
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like