GMCH STORIES

डूंगरपुर चैंबर ऑफ कॉमर्स के द्विवार्षिक चुनाव में के.के. गुप्ता लगातार आठवीं बार अध्यक्ष बने

( Read 1849 Times)

01 Apr 24
Share |
Print This Page

नीति गोपेन्द्र भट्ट

डूंगरपुर चैंबर ऑफ कॉमर्स के द्विवार्षिक चुनाव में के.के. गुप्ता लगातार आठवीं बार अध्यक्ष बने

स्वच्छता मिशन के राजदूत माने जाने वाले डूंगरपुर नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष के.के. गुप्ता डूंगरपुर चैंबर ऑफ कॉमर्स के   द्विवार्षिक चुनाव में लगातार आठवीं बार निर्विरोध अध्यक्ष निर्वाचित हुए है। 
चुनाव अधिकारी महेश के. गर्ग  ने गुप्ता के निर्वाचन की घोषणा की।

डूंगरपुर के सबसे बड़े व्यापारिक संगठन चैंबर ऑफ कॉमर्स के रविवार को हुए चुनाव में बड़ी संख्या में व्यापारिक संगठन के प्रतिनिधिगण मौजूद थे। व्यापारियों ने एक बार फिर से के.के. गुप्ता के नेतृत्व में विश्वास व्यक्त करते हुए उन्हें लगातार आठवीं बार चैंबर की कमान सौंप एक मिसाल कायम की।

इस मौके पर पूर्व अध्यक्ष रमेशचंद्र जैन, पवन दोसी, प्रभुलाल पटेल, रोशन दोसी, पुरणमल दावड़ा, सुबोध जैन, डूंगर लाल पटेल, सुशील जैन आसपुर, प्रदीप भूता सागवाड़ा के साथ ही मदन सिंह, केतन शाह, रोनी मेहता, हर्षवर्धन सिंह, पंकज जैन, ईश्वरलाल भट्ट, नगीनलाल जैन, अनिल पटेल, दिलीप नागदा, चिराग व्यास, मुकेश श्रीमाल, रमेश लबाना, रमेश वरियानी, गौरव यादव, नीरव कोटडिया सहित जिले भर से व्यापारियों 
ने चुनाव अधिकारी महेश के. गर्ग के समक्ष एक स्वर से के.के. गुप्ता के नाम के प्रस्ताव का समर्थन किया और  सर्व सम्मति से गुप्ता का निर्विरोध चुनाव किया। चुनाव कार्य का संचालन देवराम मेहता आसपुर ने किया।

निर्वाचित अध्यक्ष के के गुप्ता ने जिलेभर से बड़ी तादाद में एकत्रित व्यापारियों को संबोधित करते हुए अपने जोशीले भाषण से सभी में जुनून और ऊर्जा का संचार किया और कहा कि हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं है, फिर भी कोशिश है कि सूरत बदलनी चाहिए तथा व्यापारी संगठित रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि किसी भी जिले की दशा और दिशा तय करना व्यापारी के हाथ में होता है। डूंगरपुर की चहुंमुखी तरक्की और विकास में यहां के व्यापारियों का बड़ा योगदान रहा है।

गुप्ता ने गत डेढ़ दशक से भरोसा जताने के लिए डूंगरपुर जिले के व्यापारियों का आभार जताया और कहा कि व्यापारियों की ताकत से ही मैं सभापति बना था और डूंगरपुर को देश-दुनिया में एक नई पहचान दिलाई । स्वच्छता के क्षेत्र में डूंगरपुर का डंका देश-दुनिया के पटल पर बजा है। सभी ने मिल कर ऐसा अभूतपूर्व काम किया कि आज भी डूंगरपुर के चर्चे दुनिया के हर कौने में है। गुप्ता ने कहा कि हमारा काम की देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने भी मुक्तकंठ से सराहना की।

चैंबर चुनाव में गुप्ता का एक बयान राजनीतिक हलकों में चर्चा का विषय बन गया है। गुप्ता ने राजनीतिज्ञों पर तंज कसा हुए कहा कि कतिपय नेता मुझे पसंद नहीं करते। पसंद इसलिए नहीं करते क्योंकि मैं काम करना चाहता हूं। मैं अपनी व्यापार भूमि उदयपुर भी गया, मुझमें काम करने का जुनून और जज्बा था, लेकिन कुछ लोगों ने  मिलकर कह दिया कि यहां किसी को भी आने दो लेकिन गुप्ता नहीं आना चाहिए। गुप्ता ने कहा कि इन लोगों को डर है कि मेरी ताकत बढऩे से उनकी दुकानें बंद हो जाएगी। 

गुप्ता ने कहा कि मैं बदलाव लाना चाहता हूं, परिवर्तन लाकर काम करना चाहता हूं लेकिन कुछ लोग इसे पसंद नहीं करते। गुप्ता ने कहा कि हमारा काम बोलता है तो विरोध होता है, मेरा जितना विरोध होगा ताकत द्विगुणित होगी।
 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like