GMCH STORIES

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले इस तरह की कारवाही अलोकतांत्रिक - श्री कचरू लाल चौधरी

( Read 2375 Times)

19 Feb 24
Share |
Print This Page
लोकसभा चुनाव से ठीक पहले इस तरह की कारवाही अलोकतांत्रिक - श्री कचरू लाल चौधरी

उदयपुर।  लोकतांत्रिक मूल्यों को कुचलने एवं राजनीतिक प्रतिशोध से कांग्रेस के बैंक खातों को फ्रीज करने की अलोकतांत्रिक कारवाही के खिलाफ उदयपुर देहात एवम उदयपुर शहर जिला कांग्रेस कमेटी का संयुक्त विरोध प्रदर्शन आज सेंट्रल एरिया स्थित आयकर विभाग के सामने किया गया।
उदयपुर देहात जिला कांग्रेस प्रवक्ता डॉ संजीव राजपुरोहित ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस एवम भारतीय युवा कांग्रेस के खातों को लोकसभा चुनाव से ठीक पहले फ्रीज करने की अलोकतांत्रिक कारवाही के विरोध में आज सेंट्रल एरिया स्थित आयकर विभाग के सामने उदयपुर देहात एवम उदयपुर शहर जिला कांग्रेस द्वारा विरोध प्रदर्शन किया गया। विरोध प्रदर्शन के बाद उदयपुर देहात जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री कचरू लाल चौधरी ने अपने वक्तव्य में कहा कि सत्ता के नशे में चूर, मोदी सरकार ने लोकसभा चुनाव के ठीक पहले देश की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अकाउंट फ्रीज करने का जो अलोकतांत्रिक कदम उठाया वो पूरी तरह गलत है। ये लोकतंत्र पर गहरा आघात है।
श्री चौधरी ने कहा कि भाजपा ने जो असंवैधानिक धन इकट्ठा किया है, उसका इस्तेमाल वे चुनाव में करेंगे, लेकिन हमने क्राउडफंडिंग के जरिए जो पैसा इकट्ठा किया है, उसे सील कर दिया जाएगा। जबकि माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने कॉरपोरेट बॉन्ड्स का पैसा जो भारतीय जनता पार्टी के पास है उसे असंवैधानिक करार दिया है उस पैसे का इस्तेमाल भाजपा आने वाले लोकसभा चुनावों में करेगी वो भाजपा की नजर में सही है। जबकि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने जो ऑनलाइन क्राउडफंडिंग के जरिए देश के आम लोगों से जो पैसा इकट्ठा किया है उसे फ्रीज करने का काम कर रही है। ओर तो ओर भारतीय युवा कांग्रेस के अकाउंट में तो युवा कांग्रेस की मेंबरशिप ड्राइव का पैसा है जो युवा कांग्रेस ने ऑनलाइन मेंबरशिप के जरिए इकट्ठा किया है उसे देश का आयकर विभाग 210 करोड़ की पेनल्टी के साथ फ्रीज करने की कारवाही करता है। यह कारवाही देश के लोकतंत्र पर की गई कारवाही के समान है। हम न्यायपालिका से अपील करते हैं कि इस देश में मल्टी पार्टी सिस्टम को बचाएं और भारत के लोकतंत्र को सुरक्षित करें। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का कार्यकर्ता सडकों पर उतरेगा और इस अन्याय व तानाशाही के ख़िलाफ़ पुरज़ोर तरह से लड़ेगा।
उदयपुर शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री फतह सिंह राठौड़ ने अपने वक्तव्य में कहा कि 2018-19 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस द्वारा मात्र 40-45 दिन की देरी से जमा हुए इनकम टैक्स रिटर्न को आधार बनाकर अगर अकाउंट फ्रीज करने की अलोकतांत्रिक कारवाही करी जाती है तो यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। क्योंकि हर इनकम टैक्स रिटर्न भरने वाला व्यक्ति जनता है कि रिटर्न भरने में कभी कुछ दिनों की देरी भी हो जाती है। और 2018-19 के समय तो चुनावी वर्ष होने के कारण रिटर्न भरने में अगर मात्र 40 दिन की देरी हो गई तो आयकर विभाग द्वारा 210 करोड़ की पेनल्टी लगाकर अकाउंट फ्रीज करना बिलकुल व्यवहारिक नही है। और अगर अकाउंट फ्रीज ही करना है तो भारतीय जनता पार्टी के एकाउंट को क्यों नहीं किया जाता जिसमे लाखो करोड़ ₹ के कॉर्पोरेट बॉन्ड्स जमा है। जिन कॉरपोरेट बॉन्ड्स को माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने भी असंवैधानिक करार दिया है। उस पर कारवाही ना कर 2018- 19 के इनकम टैक्स रिटर्न को आधार बनाकर पांच साल बाद चुनावी वर्ष में प्रमुख विपक्षी पार्टी के अकाउंट्स पर ऐसी कारवाही करना देश में लोकतंत्र को कुचलने के बराबर है। और कांग्रेस का कार्यकर्ता इस पर चुप नही बैठेगा। वो मोदी सरकार की इस कायरतापूर्ण कारवाही के खिलाफ आवाज उठाएगा।
विरोध प्रदर्शन में मावली विधायक पुष्कर लाल डांगी, पूर्व मंत्री डॉ मांगी लाल गरासिया, उदयपुर शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष फतह सिंह राठौड़, उदयपुर देहात जिला कांग्रेस अध्यक्ष कचरू लाल चौधरी, प्रदेश कांग्रेस महासचिव पंकज शर्मा, राजस्थान इंटक अध्यक्ष जगदीश राज श्रीमाली, सुरेश श्रीमाली, उदयपुर शहर जिला कांग्रेस संगठन महामंत्री अरुण टांक, उदयपुर देहात जिला कांग्रेस प्रवक्ता डॉ संजीव राजपुरोहित, उदयपुर शहर जिला कांग्रेस प्रवक्ता शिव शंकर मेनारिया, पंकज पालीवाल, दिनेश दवे, सुनील रोजर्स, राजीव सुहालका, ब्लॉक अध्यक्ष अजय सिंह, नजमा मेवाफरोश, चंदा सुहालका, कमल चौधरी, टीटू सुथार, शांता प्रिंस, संतोष प्रजापत, मदन बाबरवाल, बतुल हबीब, डॉ दीपक व्यास, राजेश जैन, पार्षद हिदायतुल्ला, अमित श्रीवास्तव, रविन्द्र पाल सिंह कप्पू, लक्ष्मी नारायण मेघवाल, विपुल शर्मा, धनपाल जैन, चंद्रवीर गुर्जर, सुरेश तराठी, किशन चौधरी, गणेश चंद्र शर्मा, सलीम खान, धर्मेश मालवीय, सुमंत शर्मा, सन्नू खान, दौलत राम साहू, राजेंद्र शर्मा, फारुख कुरैशी, गोविंद सक्सेना, सुंदर लाल वसीटा, सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like