GMCH STORIES

कुलपति प्रो.एस के सिंह आईटीएसआर फाउंडेशन अवार्ड से सम्मानित

( Read 2863 Times)

23 May 24
Share |
Print This Page
कुलपति प्रो.एस के सिंह आईटीएसआर फाउंडेशन अवार्ड से सम्मानित

कोटा, इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्निकल एंड साइंटिफिक रिसर्च और इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स (इंडिया), राजस्थान स्टेट सेंटर, जयपुर द्वारा राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय, कोटा के कुलपति प्रो.एस के सिंह को इंजीनियरिंग शिक्षा में उत्कृष्टता, तकनीकी शिक्षा में असाधारण योगदान, उल्लेखनीय अकादमिक  उत्कृष्टता, शोध एवं अनुसंधान, अद्वितीय एवं दूरदर्शी नेतृत्व,उच्च शिक्षा परिदृश्य पर उनके मजबूत प्रभाव, तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में नवाचार एवं विज्ञान, प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अर्जित उल्लेखनीय उपलब्धियों के लिए आईटीएसआर फाउंडेशन अवार्ड 2024 से सम्मानित किया गया हैं। सह जनसंपर्क अधिकारी विक्रम राठौड़ ने बताया कि यह जयपुर के इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स (इंडिया), राजस्थान स्टेट सेंटर में आयोजित सम्मान समारोह में प्रो.सिंह ने यह पुरस्कार ग्रहण किया।

तकनीकी शिक्षा में गुणवत्ता निर्धारण एवं उल्लेखनीय कार्य, विश्वविद्यालय में लागू नवाचार एवं अभिनव कार्यक्रम, नवप्रवर्तन योजनाओं के क्रियान्वयन एवं उत्कृष्टता के साथ की गई अकादमिक सेंवाओ तकनीकी शिक्षा के उन्नयन हेतु सार्थक प्रयास, विभिन्न संस्थानों में प्रशासन, तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में नवाचार एवं अर्जित उल्लेखनीय उपलब्धियों के लिए
टेक्निकल एंड साइंटिफिक रिसर्च और इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स (इंडिया) द्वारा प्रो.सिंह की उपलब्धियों को रेखांकित करते हुए यह सम्मान प्रदान किया हैं। इस अवसर पर कुलपति प्रो. एसके सिंह ने कहा कि हम राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय को तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान राज्य का सीरेमौर बनाने की दिशा में कार्य कर रहे हैं। मुझे खुशी है कि आज राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय उच्च मानको की स्थापना के साथ विद्यार्थियो के करियर निर्माण में नित नए आयाम स्थापित कर रहा हैं। जो वि‍श्‍वविद्यालय की अकादमिक उत्कृष्टता में वृद्धि कर रहे हैं। प्रदेश में तकनीकी शिक्षा के गुणवत्ता निर्धारण और इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों को वैश्विक पहचान और अंतराष्ट्रीयकरण की दिशा में आरटीयू दुवारा श्रेष्ठ मानक निधारित किए गए है। जिससे प्रदेश में तकनीकी शिक्षा के प्रति सकारात्मक माहौल विकसित हुआ हैं। कुलपति प्रो.सिंह ने आशा व्यक्त की कि भविष्य में भी विश्वविद्यालय इसी तरह से गुणवत्ता में न केवल प्रदेश में बल्कि देश भर के अग्रणी तकनीकी संस्थाओं में अपना स्थान बनाएगा। तकनीकी शिक्षा में शोध-अनुसन्धान और अकादमिक उत्कृष्टता के साथ आरटीयू सफलता की और निरंतर अग्रसर हो रहा हैं। हमने शैक्षणिक गुणवत्ता और विश्वविद्यालय की रैंकिंग की और ध्यानाकर्षित करते हुए विधार्थियों के कौशल विकास की दिशा में मजबूती के साथ काम किया हैं। समय के साथ तकनीकी शिक्षा में नवाचारो की भूमिका बढ़ी है ऐसे में हमें हमें विद्यार्थियों के कौशल में वृद्धि करनी होगी। गौरतलब है कि टेक्निकल एंड साइंटिफिक रिसर्च द्वारा तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में कार्यरत विभिन्न शिक्षाविदों को अपनी अर्जित उत्कृष्टता के लिए यह प्रतिष्ठित पुरस्कार प्रदान किया जाता है। 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Education News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like