नीट यूजी के फॉर्म में 31 जनवरी तक कर सकते है सुधार

( Read 587 Times)

16 Jan 20
Share |
Print This Page
नीट यूजी के फॉर्म में 31 जनवरी तक कर सकते है सुधार

नीट यूजी परीक्षा एमबीबीएस और बीडीएस कोर्स में दाखिले के लिए आयोजित की जाती है, इस साल से नीट देश की इकलौती मेडिकल प्रवेश परीक्षा होगी जिससे ग्रेजुएशन स्तर पर मेडिकल और डेंटल कोर्स में उम्मीदवारों को दाखिला मिलेगा |  इससे पहले एम्स और जिपमेर - एमबीबीएस और बीडीएस दाखिलों के लिए अलग-अलग प्रवेश परीक्षा आयोजित करते थे, नेशनल मेडिकल कमीशन एक्ट 2019 के तहत एम्स और जिपमर द्वारा अलग से परीक्षा आयोजित करवाने को खत्म किया गया है |

करियर काउंसलर विकास  छाजेड़ ने बताया की इस बार नीट यूजी के लिए कुल 15,93,452 (करीब 15.93 लाख) अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। करियर काउंसलर विकास छाजेड़ ने बताया की यह संख्या नीट के लिए बीते सालों में हुए आवेदनों में सबसे ज्यादा है। वर्ष 2019 में 15,19,375 (करीब 15.19 लाख) आवेदन की संख्या एवं वर्ष 2018 में कुल 13,26,725 ((करीब 13.26 लाख) आवेदन प्राप्त हुए थे वही वर्ष 2017 में करीब 11.38 लाख विद्यार्थियों ने आवेदन किया था |

नीट परीक्षा के लिए एक एमबीबीएस सीट के लिए तकरीबन 21 उम्मीदवारों के बीच स्पर्धा रहेगी | एमबीबीएस के लिए लगभग 545 कॉलेज में 77733 सीट है, जिनमे 15 एम्स की 1205 एवं जिपमेर की 200 सीटें शामिल है | बीडीएस में लगभग 313 कॉलेज की 26949 सीटें है | वही आयुष में लगभग 52700 सीटें है जिसमे आयुर्वेद, होम्योपैथी, नैचरोपथी, यूनानी और सिद्धा मेडिसिन शामिल है | वेटेनरी में आल इंडिया की 525 सीटें है | यह सभी सरकारी एवं निजी विश्वविद्यालयों के सीटें है |

छाजेड़ ने बताया की इस वर्ष सबसे अधिक पंजीकरण महाराष्ट्र से 2,28,829 हुए है वही पिछले वर्ष 2019 में 2,19,883 थे, दूसरे स्थान पर उत्तर प्रदेश से 1,54,705 पंजीकरण हुए है जबकि पिछले वर्ष 1,57,669 थे |
तीसरे स्थान पर राजस्थान से 1,38,149 पंजीकरण हुए है जबकि पिछले वर्ष राजस्थान में 99,711 पंजीकरण थे और राजस्थान चौथे स्थान पर था |
वही चौथे स्थान पर कर्नाटक 1,19,626 पांचवे पर तमिलनाडु 1,17,502 छटे पर केरला 1,16,010 सांतवे पर गुजरात 79,865 आंठवे पर पश्चिमी बंगाल 74,452 नौवे पर बिहार 65914 एवं दसवे स्थान पर आंध्राप्रदेश 62,276 पंजीकरण हुए है |  

31 जनवरी तक नीट यूजी के फॉर्म में सुधार कर सकते है
नीट यूजी की परीक्षा के लिए जिन विद्यार्थियों ने आवेदन किया है वे अपना फॉर्म एक बार चेक कर ले, 31 जनवरी तक फॉर्म में सुधार किया जा सकता है
निम्न तरह से कर सकते है सुधार-
1: नीट की आधिकारिक वेबसाइट  www.ntaneet.ac.in पर जाएं.
2: इसके बाद वेबसाइट के होम पेज पर जाकर "One Time Correction" के लिंक पर क्लिक करें.
3: इसके बाद अपना एप्लीकेशन नंबर और पासवर्ड डालें
4: नीट रजिस्ट्रेशन के दौरान भरी गई जानकारी से लॉग इन करें.
5: इसके बाद आप फॉर्म सुधार कर सकेंगे.
6: फॉर्म सुधार करने के बाद फीस का भुगतान करें, इसके बाद आपके द्वारा किए गए सुधार सेव हो जाएंगे| 

 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Education
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like