विश्व बैंक ने भारतीय रेलवे लॉजिस्टिक के आधुनिकीकरण के लिए 24.5 करोड़ डॉलर का ऋण मंजूर किया

( Read 1223 Times)

24 Jun 22
Share |
Print This Page

विश्व बैंक ने भारतीय रेलवे लॉजिस्टिक के आधुनिकीकरण के लिए 24.5 करोड़ डॉलर का ऋण मंजूर किया

नईं दिल्ली । विश्व बैंक ने भारतीय रेलवे के भाड़ा और लॉजिस्टिक बुनियादी ढांचे के आधुनिकीकरण के लिए 24.5 करोड़ डॉलर के ऋण को मंजूरी दी है। अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संस्थान ने बुधवार को जारी एक बयान में यह जानकारी दी। रेल लॉजिस्टिक परियोजना से देश को सड़क की बजाय रेल के जरिये अधिक यातायात स्थानांतरित करने में मदद मिलेगी। इस परियोजना का उद्देश्य माल और यात्री दोनों के परिवहन अधिक कुशल बनाना और हर साल लाखों टन के कार्बन उत्सर्जन को कम करना है।
बयान में कहा गया कि भारतीय रेलवे की क्षमता की कमी ने माल ले जाने की मात्रा को सीमित करने के साथ लदान की गति और विसनीयता को कम कर दिया है। इन कारणों से ट्रकों की जरिए माल के परिवहन अधिक हो रहा है और भारतीय रेलवे की कुल लदान में हिस्सेदारी वर्ष 2017-18 के दौरान घटकर 32 प्रतिशत रह गईं, जो एक दशक पहले 52 प्रतिशत थी। वि बैंक (भारत) के संचालन प्रबंधक एवं कार्यंवाहक देश निदेशक हिदेकी मोरी ने कहा, इस परियोजना से कार्बन उत्सर्जन को कम करने के साथ लाखों यात्रियों को लाभ मिलेगा, क्योंकि मालगाड़ियों के लिए अलग गलियारा होने से रेलवे लाइनों पर भीड़-भाड़ कम हो जायेगी। 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Business News ,
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like