कोटक म्यूचुअल फंड का नया प्रचार अभियान मिस्टर एसआईपी

( Read 3270 Times)

20 Mar 20
Share |
Print This Page

Dr. Tuktak Bhanawat

कोटक म्यूचुअल फंड का नया प्रचार अभियान मिस्टर एसआईपी

उदयपुर। म्यूचुअल फंड निवेश के बारे में जागरुकता बढ़ाने और बाजार के उतार चढ़ाव से संबंधित जोखिम घटाने के लिए कोटक महिन्द्रा असैट मैनेजमेंट कंपनी (कोटक म्यूचुअल फंड) ने बातचीत करने वाला वॉइस बॉट मिस्टर एसआईपी लांच किया है। ऐसा करने वाली यह देश की पहली म्यूचुअल फंड कंपनी है और कंपनी ने खास तौर पर नई सदी के युवाओं को ध्यान में रख कर इसे पेश किया है। मिस्टर एसआईपी सिस्टेमेटिक इन्वैस्टमेंट प्लान से जुड़े सवालों का समाधान करेगा।
इस वॉइस बॉट में यह खासियत है कि यह खुद सीखता है, कोई पक्षपात नहीं करता और जो अपने से पूछे जाने वाले प्रश्नों के आधार पर यह खुद को निरंतर अपग्रेड करता है। ये खूबियां मिस्टर एसआईपी को निवेशकों के प्रश्नों का जवाब देने के लिए सक्षम बनाती हैं। मिस्टर एसआईपी कोटकएमएफडॉटकॉम पर उपलब्ध है। आप गूगल असिस्ट पर ‘‘टॉक टू कोटक म्यूचुअल फंड’’ बोल कर और वॉट्सऐप (9321-88-44-88) पर ‘‘हाय’’ भेज कर भी इस वॉइस बॉट तक पहुंच सकते हैं।  
नीलेश शाह, एमडी और सीईओ, कोटक महिन्द्रा असैट मैनेजमेंट कंपनी ने कहा कि म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री की वृद्धि में एसआईपी द्वारा होने वाले निवेश की एक बड़ी भूमिका है। अधिकतर निवेशकों को यह ऐहसास हुआ है कि दीर्घकालीन एसआईपी के जरिए निवेश के जोखिम को घटाया जा सकता है। हालांकि अभी भी बहुत से लोग हैं जो म्यूचुअल फंड में निवेश करने से हिचक रहे हैं क्योंकि उनके पास ऐसा कोई जरिया नहीं है जो उनके संदेहों को दूर कर सके। हमारा मिस्टर एसआईपी यही करता है - अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके निवेशकों के सभी सवालों का जवाब देता है, इस तरह हम भारत के कोने-कोने तक पहुंच सकते हैं। हमारा मानना है कि दीर्घकाल में निवेश को बाज़ार के उतार चढ़ाव से सुरक्षित रखने का यह सर्वश्रेष्ठ तरीका है।
किंजल शाह, हैड-डिजिटल बिजऩेस एवं मार्केटिंग, कोटक महिन्द्रा असैट मैनेजमेंट कंपनी ने कहा कि टेलीविजऩ कमर्शियल के साथ हम एक नई ऐप्रोच लेकर आए हैं जहां हमने एसआईपी को एक व्यक्ति का रूप दिया है, इस पात्र का नाम है मिस्टर एसआईपी, जो एसआईपी के बारे में गलतफहमियों को दूर करता है। हमारा सोशल मीडिया रूट भी ‘क्रिकेट’ का इस्तेमाल करते हुए परम्परागत बीएफएसआई संचार के नियमों को तोड़ कर एसआईपी संबंधी सवालों का सरल तरीके से जवाब देता है।
इस प्रचार अभियान का दायित्व हाइपर कनेक्ट एशिया उठा रही है, कंपनी के सीसीओ और सह-संस्थापक किरण  खडक़े ने कहा कि हमें निवेशक शिक्षा सम्प्रेषण क्षेत्र की अव्यवस्था को तोडऩे का और एसआईपी का पर्याय बनने का कार्य सौंपा गया था। हमें यह विचार अपनी इस रिसर्च से आया कि लोगों को अभी भी एसआईपी के बहुत से फायदों के बारे में पता नहीं है। इस इंटिग्रेटिड कैम्पेन को वैब पोर्टल का भी सपोर्ट है जो लोगों को इंट्रैक्टिव कैल्कुलेटर, ब्लॉग तथा एसआईपी के बारे में हर वो जानकारी उपलब्ध कराता है जिसकी तलाश में वो हैं।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Business News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like