कोरोना के कहर से वागड़ को बचाने आगे आये कलाकार

( Read 5070 Times)

25 Mar 20
Share |
Print This Page
कोरोना के कहर से वागड़ को बचाने आगे आये कलाकार

बांसवाड़ा, वैश्विक महामारी घोषित हो चुके कोरोना वायरस के संक्रमण को बचाने के लिए जहां सरकार और चिकित्सा विभाग दिन-रात एक कर रहा है, उन्हीं स्थितियों में बांसवाड़ा के स्थानीय कलाकारों ने भी इस महामारी के संक्रमण को रोकने में जनजागरूकता पैदा करने को अपना सामाजिक उत्तरदायित्व समझ कर अनूठे अंदाज में हिन्दी और वागड़ी में कविता, गीत और संदेशों का सृजन कर सोशल मीडिया पर वायरल किया है।  


वागड़ी में माही काकी और कल्याण काका का संवाद: 


पहले ऑडियो क्लिप में वागड़ अंचल में लोकहितकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचा कर जनजाग्रति के आईकन बन चुके माही काकी और कल्याण काका नामक करेक्टर ने भी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए वागड़ी बोली में अपील की है। कुल 1 मिनट 42 सेकण्ड के इस ऑडियो क्लिप में माही काकी के रूप में रेडियो कलाकार व प्रतिभावान शिक्षिक दीपिका दीक्षित तथा कल्याण काका के रूप में प्रसिद्ध रंगकर्मी और गीतकार सतीश आचार्य प्रश्नोत्तर के माध्यम से कोरोना विषयक लोगों की शंकाओं का समाधान कर रहे हैं। इसी प्रकार 3 मिनट 37 सेकण्ड के दूसरे क्लिप में सतीश आचार्य द्वारा भावुक अंदाज में कोरोना वायरस की भयावहता के बारे में जानकारी देते हुए लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने की अपील की है। इस क्लिप का निर्माण हरिप्रेम फिल्म्स के निर्देशक नितीन समाधिया के तकनीकी निर्देशन में किया गया है। 

 

कामगारों से की अपील:


इधर, वाग्धारा द्वारा संचालित कम्यूनिटी वागड़ रेडियो में कार्यरत रेडियो जोकी सीमा मोहने ने भी स्वस्फूर्त तरीके से 37 सेकण्ड का एक ऑडियो क्लिप तैयार किया है और इसमें वागड़ अंचल में बाहर से लौटने वाले कामगार लोगों से अपील की गई है कि वे अपने घर में परिजनों से 14 दिनों तक दूरी बनाकर रखें तथा प्रयास करें कि किसी भी लापरवाही से कोई इस वायरस से संक्रमित न होने पाए। 


‘लोगों बचो-बचाओ’ गीत की धूम:


इसी प्रकार वागड़ के प्रसिद्ध संगीतकार डॉ. संजय आमेटा ने एक विडियो गीत का निर्माण किया है और इसमें खुद की आवाज में लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने की अपील करते हुए इसके अलग-अलग तरीकों को अच्छे अंदाज में प्रस्तुत किया है। उन्होंने 4 मिनट 50 सेकण्ड के इस विडियोगीत में वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए रखी जाने वाली सावधानियों को भी बताया है और इसे यूट्यूब पर अपलोड किया गया है।
वागड़ अंचल में सोशल मीडिया पर स्थानीय कलाकारों द्वारा तैयार किए गए ये गीत, संवाद और विडियो इन दिनों धूम मचा रहे हैं और लोगों को जागरूक कर रहे हैं।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like