BREAKING NEWS

जिले में आटे की आपूर्ति सुचारू रहे - कलक्टर

( Read 4336 Times)

28 Mar 20
Share |
Print This Page
जिले में आटे की आपूर्ति सुचारू रहे - कलक्टर

बारां,  जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव ने शुक्रवार को मिनी सचिवालय सभागार में गेहूं के स्टॉकिस्ट एवं आटा चक्की व्यापारियों की बैठक ली। बैठक में व्यापारियों को आपसी समन्वय से कोरोना आपदा के दौरान जिले में आटे की उपलब्धता उचित मूल्य पर करने एवं मानवीय दृष्टिकोण के अनुसार सहयोग को कहा गया जिस पर सभी व्यापारियों ने सहमति जताते हुए जिले में आटा चक्कियों को उचित दाम पर गेहूं उपलब्ध कराने की सहमति दी जिससे बाजार में आटे की कीमतों में ईजाफा न हो। इस मौके पर कलक्टर राव ने आटा चक्की संचालकों को निर्बाध विद्युत आपूर्ति का भरोसा दिलाया जिससे आटा चक्कियां बंद न रहे। इसके अलावा जिन गांवों में आटा चक्की नहीं है उन गांवों के सरपंच अथवा प्रबुद्धजन टेªक्टर ट्रोली में सभी ग्रामवासियों का गेहूं ले जाकर पिसवा सकेंगे इस संबंध में उक्त ट्रेक्टर ट्रोली को परमिट प्रदान किया जाएगा। इसी क्रम में व्यापारियों ने इस अवसर पर एडीएम मोहम्मद अबूबक्र, सीईओ जिला परिषद बृजमोहन बैरवा, मंडी सचिव मनोज मीणा, आयुक्त नगर परिषद मनोज कुमार मीणा, गेहूं स्टॉकिस्ट व्यापारी, आटा चक्की संचालक मौजूद थे।
अदानी पावर द्वारा सहयोग-
अदानी पावर प्लांट के सीएसआर हेड गोपाल सिंह देवड़ा ने बताया कि कोरोना वायरस आपदा के तहत अदानी पावर प्लांट द्वारा जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव को जरूरतमंदों को हरसंभव सहायता का भरोसा दिलाया है। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के दौरान अदानी पावर राजस्थान लि. कवाई द्वारा जिला प्रशासन को एक हजार भोजन के पैकेट प्रतिदिन जरूरतमंदों के लिए उपलब्ध करवाए जा रहे है इसी क्रम में यथासंभव सहयोग हेतु जिला प्रशासन को आश्वस्त किया गया है।
वॉर रूम की बैठक आयोजित
जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव ने मिनी सचिवालय सभागार में जिला वॉर रूम की बैठक लेते हुए आवश्यक सेवाओं की संबंधित विभागों के साथ समीक्षा की। बैठक में विद्युत विभाग को निर्देश दिए गए कि वह जिले में विद्युत आपूर्ति निर्बाध रूप से जारी रखें और जिन गांवों में आटा चक्की है वहां विद्युत आपूर्ति बाधित नहीं होनी चाहिए। इसी क्रम में पीएचईडी के अधिकारियों को पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने एवं आवश्यकता होने पर टेंकर के माध्यम से पेयजल उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए गए। जिला रसद अधिकारी को जगजीवन राम कालोनी, कुंज विहार, राजीव कालोनी, पुलिस कन्ट्रोल रूम के पास मोंग्या बस्ती, मेलखेडी रोड पर बंजारा बस्ती में भोजन के पैकेट एवं सूखी राशन सामग्री वितरण करने के निर्देश दिए गए। सीईओ जिला परिषद बृजमोहन बैरवा ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में जरूरतमंदों को सूखी खाद्य सामग्री का किट उपलब्ध कराया जा रहा है। सीएमएचओ डॉ. संपतराज नागर को भीलवाड़ा व अन्य जिलों से आए व्यक्तियों को होम आईसोलेशन में रखने के निर्देश दिए गए साथ ही आईसोलेशन की अवमानना करने वालों पर कानूनी कार्यवाही को भी कहा गया। इसी क्रम में सहकारी उपभोक्ता भण्डार को बारां में मोबाईल मार्केट अथवा वाहन के माध्यम से जरूरी वस्तुएं आमजन तक पहुंचाने निर्देश दिए गए। सीएमएचओ डॉ. संपतराज नागर ने बताया कि अब तक 6 लाख 21 हजार लोगों का सर्वे किया गया है एवं क्वरेंटाईन में 26 लोग है। पीएमओ ने बताया कि अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में 4 लोग हैं। इस मौके पर शहर में सोडियर हाईपरक्लोरिक का छिड़काव कर सेनेटाईजेशन के निर्देश भी दिए गए। बैठक में स्टेट वॉर रूम को दैनिक सूचनाएं भेजने के निर्देश भी दिए गए।
भोजन का वितरण प्रशासन के माध्यम से करें-
जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव ने कहा कि जिले में कोरोना आपदा के तहत जिला प्रशासन व नगर परिषद द्वारा जरूरतमंदों के लिए वर्ल्ड विजन, स्वर्णकार समाज, पेट्रोल पम्प डिलर्स एसोसिएशन एवं पार्श्वनाथ चेरिटेबल ट्रस्ट के माध्यम से भोजन के पैकेट का वितरण करवाया जा रहा है जिसके तहत सामाजिक दूरी के नियमों का पालन कर पैकेट का वितरण किया जा रहा हैै। इसी क्रम में कुछ संस्थाओं व आमजन द्वारा अपने स्तर पर भोजन का वितरण किया जा रहा है और सामाजिक दूरी के नियमों की अनदेखी हो रही है जिससे संक्रमण का खतरा है अतः जो लोग भोजन व राशन सामग्री वितरण करना चाहते है वे जिला कन्ट्रोल रूम को दूरभाष संख्या 07453-237081 पर सूचित कर सकते हैं। इस प्रकार भोजन का दोहरा वितरण नहीं होगा और आवश्यकता के अनुरूप जरूरतमंद को भोजन वितरित किया जाएगा।
मोबाईल मार्केट का शुभारंभ-
जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव के निर्देश पर कोरोना आपदा के तहत आमजन को घर-घर राशन सामग्री व जरूरत की वस्तुएं उपलब्ध कराने हेतु बारां सहकारी उपभोक्ता भण्डार द्वारा मोबाईल मार्केट प्रारंभ किया गया है जो शहर में विभिन्न कालोनियों में जाकर आमजन को उचित दाम पर घरेलू जरूरत की वस्तुएं उपलब्ध कराएंगे।
जिला परिषद व दानदाताओं का सहयोग
कोरोना आपदा के तहत जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव को कलक्टेªट विकास समिति के लिए सीईओ जिला परिषद के नेतृत्व में जिला परिषद के कार्मिकों द्वारा 36 हजार 500 रूपए की आर्थिक सहायता राशि का चेक सौंपा गया। इसी क्रम में दानदाता बारा निवासी विनोद विजय द्वारा 51 हजार रूपए एवं कोटा निवासी कुलदीपक शर्मा द्वारा भी 51 हजार रूपए की राशि का आर्थिक सहयोग प्रदान किया गया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like