logo

होगा नाकोड़ा भैरव महापूजन एवं हवन

( Read 1984 Times)

05 May 19
Share |
Print This Page
होगा नाकोड़ा भैरव महापूजन एवं हवन

उदयपुर। धर्म एवं झीलों की नगरी में श्री जैन श्वेतांबर महासभा के तत्वावधान में तपागच्छ की उद्गम स्थली आयड़ तीर्थ पर पहलीबार हो रहे वर्षीतप के पारणे निमित पांच दिवसीय पंचानिका महोत्सव के दूसरे दिन शनिवार को  विधिपूर्वक भक्तामर महापूजन हुआ। 

महासभा के मंत्री कुलदीप नाहर ने बताया कि आयड़ तीर्थ पर साध्वी शीलकांता श्रीजी, लक्षितज्ञा श्रीजी एवं उपेन्द्रयशा श्रीजी आदि ठाणा की निश्रा में शनिवार को उज्जैन से आए विधिकारक नितेश भाई ने विधिविधान से पूजन की सभी रस्मों को लाभार्थी परिवार शांतादेवी तेजसिंह लीलदेवी एवं परिवार से पूर्ण करवाया। विधिकारक द्वारा कराई जा रही पूजा के दौरान संगीतकार राकेश एंड पार्टी द्वारा स्तवन एवं भक्ति गीत से माहौल को भक्तिमय हो गया। साध्वी उपेन्द्रयशा श्रीजी ने इस पूजा के महत्व को बताते हुए कहा कि भक्तामर महापूजन से मन प्रसन्न होता है। चित्त प्रसन्न होता है। आत्मा को शांति प्राप्त होती है। सब तरफ से सुख प्राप्त होता है। भक्तामर पाठ से मानतूंगा सूर्य की 44 बेडिय़ां टूट गई। भक्तामर पाठ आदिनाथ भगवान की प्रार्थना है। महासभा के ध्यक्ष तेजसिंह बोल्या ने बताया कि महोत्सव के तीसरे दिन रविवार को नाकोड़ा भैरव महापूजन एवं हवन होगा। रविवार को आचार्य विजय चिदानंद सुरीश्वरजी आदि ठाणा का आयड़ तीर्थ पर प्रवेश होगा।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Sponsored Stories
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like