BREAKING NEWS

एयर राइफल में निशा कंवर तथा एयर पिस्टल में शुभम राणा ने सीओसी का खिताब जीता

( Read 6538 Times)

17 Oct 18
Share |
Print This Page

एयर राइफल में निशा कंवर तथा एयर पिस्टल में  शुभम राणा ने सीओसी का खिताब जीता बीकानेर । संवित् शूटिंग चैम्पियनशिप-2018 विजेता निशानेबाज खिलाड़ियों को पुरस्कार वितरण के साथ सम्पन्न हुई। मरुभूमि बीकानेर में पाँच दिनों तक चली इस निशानेबाजी प्रतियोगिता में दिल्ली, आगरा, जयपुर, जबलपुर, बीकानेर, जोधपुर, भिवानी, भारतीय सेना, सीकर, सिकन्दराबाद, अलवर, हिसार, बागपत, गाजियाबाद आदि शहरों से 240 कुल निशानेबाजों ने भाग लिया तथा निशानेबाजी की कला का प्रदर्शन किया। संवित् शूटिंग संस्थान द्वारा नवनिर्मित ‘महाराजा डॉ. करणीसिंह शूटिंग रेंज’ आने वाले दिनों में मील का पत्थर साबित होगी ऐसा मानना है बाहर से आये हुए निशानेबाज खिलाड़ियों, कोच तथा अभिभावकों का। मीडिया प्रभारी विवेक मित्तल ने बताया कि इस चैम्पियनशिप का मुख्य आकर्षण 10 मीटर एयर पिस्टल एवं एयर राइफल की 40 शॉट् एवं 60 शॉट्स की चैम्पियन-ऑफ-चैम्पियन (सीओसी) रही। 60 शाट्स एयर राइफल स्पर्धा में जयपुर की निशा कंवर तथा एयर पिस्टल स्पर्धा में शुभम राणा ने सीओसी का खिताब जीता तथा 21-21 हजार रूपये नकद प्राप्त किये। 40 शाट्स एयर राइफल स्पर्धा में जबलपुर के अंकित राणा तथा एयर पिस्टल स्पर्धा में रोहित ने सीओसी का खिताब जीता तथा 15-15 हजार रूपये नकद प्राप्त किये। 10 मीटर एयर पिस्टल के दिव्यांग वर्ग में रवि तथा राइफल वर्ग में युवराज ने शानदार प्रदर्शन करते हुए रुपये 3500-3500 के नकद पुरस्कार प्राप्त किये। चैम्पियन-ऑफ-चैम्पियन स्पर्धा में भाग लेने वाले सभी 34 खिलाड़ियों में कुल 1.62 लाख के नकद पुरस्कार वितरित किये गये।
10 मीटर एयर पिस्टल 60 शाट्स स्पर्धा के सीनियर पुरूष वर्ग में बलबीर सह, श्रवण कुमार व मनु शर्मा तथा सीनियर महिला वर्ग में ओजस्वी सिंह, प्रोमिला विश्नोई व नीलम कंवर ने क्रमशः स्वर्ण, रजत तथा कांस्य पदक प्राप्त किये। 10 मीटर एयर राइफल 60 शाट्स स्पर्धा के सीनियर पुरूष वर्ग में विनय कुमार ने स्वर्ण पदक, सिद्वप्पानारी ने रजत पदक, हेमन्त कुमार ने कांस्य पदक तथा सीनियर महिला वर्ग में निशा कंवर ने स्वर्ण पदक पर निशाना लगाया।
10 मीटर एयर पिस्टल 40 शाट्स स्पर्धा के सीनियर पुरूष वर्ग में पंकज कुमार, सुधीर, आकाश तथा सीनियर महिला वर्ग में प्रियंका, रेखा रिणवान तथा हेमलता कंवर ने क्रमशः स्वर्ण, रजत तथा कांस्य पदक प्राप्त किये। 10 मीटर एयर राइफल 40 शाट्स स्पर्धा के सीनियर पुरूष वर्ग में अंकित राणा ने स्वर्ण पदक, पुष्प कुमार ने रजत पदक तथा प्रदीप ने कांस्य पदक पर निशाना लगाया। इसी स्पर्धा के सीनियर महिला वर्ग में दीपिका नोखवाल, मोनिका शर्मा तथा मोनिका जाखड़ ने स्वर्ण, रजत तथा कांस्य पदक हासिल किया। पाँच दिन की इस निशानेबाजी चैम्पियनशिप में कुल 36 तरह की स्पर्धाएँ आयोजित की गई। जिनके विजेता खिलाड़ियों को स्वर्ण, रजत तथा कांस्य पदक पुरस्कार वितरण समारोह में प्रदान किये गये।
विजेता खिलाड़ियों को आचार्य म.म. स्वामी श्रीबालकानन्दजी महाराज, निरंजन अखाड़ा, स्वामी श्रीसंवित् सोमगिरिजी महाराज, प्रो भागीरथ सिंह, कुलपति, महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय तथा श्री विनीत कुमार गुप्ता, चेयरमैन, लोहिया ग्रुप, नई दिल्ली द्वारा स्वर्ण, रजत तथा कांस्य पदक प्रदान किये गये। इससे पूर्व पुरस्कार वितरण समारोह का शुभारम्भ दीप प्रज्जवलन के साथ हुआ। आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी श्रीबालकानन्दजी महाराज, निरंजन अखाड़ा ने युवाओं का मार्गदर्शन करते हुए कहा कि वेदों में मानव मात्र का सर्वांगीण विकास करने के सूत्र भरे हुए हैं। निशानेबाज यदि बुद्धि, बल और आत्मविश्वास को बढ़ाना चाहते हैं तो उन्हें अपने पूरे जीवन को साधना का रूप देना होगा तभी वे अर्जुन, एकलव्य जैसे निशानेबाज बन सकते हैं। स्वामी संवित् सोमगिरिजी महाराज ने अपने उद्बोधन में कहा कि ‘ब्रह्मविद्या सर्वविद्या; प्रतिष्इा के मूल मंत्र को लेकर ही ‘तन्मयो भवेत’ की भावना से निशानेबाजों को प्रशिक्षित करने हेतु आधुनिक निशानेबाजी रेंज का संचालन किया जा रहा है। निशानेबाजी ध्यान की साधन का खेल है। जो भी निशानेबाज देह, इन्द्रियों, अन्तःकरण से ऊपर उठकर खेलने का अभ्यास करेगा वह सर्वश्रेष्ठ निशानेबाज बन जायेगा। प्रो. भागीरथ सिंह ने कहा कि निशानेबाज का अभ्यास इतना निपूर्ण होना चाहिए कि लक्ष्य पर लगने से पहले ही हमें मालुम पड़ जाये कि निशाना कहा लगेगा। एकाग्रता से इस कला को विकसित किया जा सकता है।
इस पुरस्कार वितरण समारोह में राजेश्वरानन्दगिरिजी, स्वामी संवित् सुबोधगिरिजी, स्वामी समानन्दगिरिजी, स्वामी मुकुन्दानन्दजी, श्री जेठमल अरोड़ा, श्री राजाराम धारणिया, श्री बृजगोपाल व्यास, श्री डी.पी. पच्चीसिया, श्री सुनील सोनी, श्री सुभाष मित्तल, श्री हरीश चन्द्र शर्मा, ब्रि. जगमाल सिंह, ब्रि. कानसिंह, डॉ. घनश्याम सिंह, श्री अविनाश मोदी, ई. विनोद त्रिवेदी, श्री मगन बिस्सा, डॉ. दिग्विजयसिंह, सीए सुधीश शर्मा, श्री राजकुमार कौशिक, श्री अशोक कुवेरा, अमित जांगिड़, श्री रमेश जोशी, विरेन्द्र सिंह राठौड़, श्री श्याम सुन्दर शर्मा, श्री कन्हैयालाल पंवार, श्री हरिओम पुंज, डा. शशि गुप्ता, श्रीमती मंजु गंगल, श्रीमती आशा शर्मा, श्रीमती गायत्री परमार, अनुराधा जैन, श्रीमती मंजु शर्मा, विरेन्द्र महरिया (कोच), साकेत शर्मा सहित अनेक प्रबुद्धजन उपस्थित थे। कार्यक्रम के सफल आयोजन में रेंज अधिकारियों सहित कार्यकर्ता डा. श्रद्धा परमार, विनोद चौधरी, बजरंगलाल शर्मा, जोगेन्दर सिंह, बजरंग सिंह, प्यारेलाल, लक्ष्मणसिंह, मनोज सोनी, विशाल व्यास का सहयोग सराहनीय रहा। कार्यक्रम के अन्त में रेंज अधिकारियों, सहयोगियों तथा कार्यकर्ताओं को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। पुरस्कार वितरण समारोह में कुशल मंच संचालन विनोद शर्मा ने किया।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Bikaner News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like