BREAKING NEWS

‘उत्सव आजादी का’ प्रश्नोत्तरी पुरस्कार वितरण समारोह सम्पन्न

( Read 9293 Times)

22 Sep 18
Share |
Print This Page
‘उत्सव आजादी का’ प्रश्नोत्तरी पुरस्कार वितरण समारोह सम्पन्न बीकानेर। श्रीमती शशिबाला स्मृति चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा आयोजित आओ जाने स्वतन्त्रता संग्राम के महानायको को ‘उत्सव आजादी का’ प्रश्नोत्तरी के विजेताओं को शिव मन्दिर प्रन्यास, जे.एन.वी नगर में पुरस्कार वितरण समारोह में पुरस्कार प्रदान किये गये। ट्रस्ट के अध्यक्ष विवेक मित्तल ने बताया कि इस प्रश्नोत्तरी के अन्तर्गत 140 प्रश्न पूछेे गये थे जिनमें से सर्वाधिक सही जबाब देने वाले गणगौर भाटी, प्रवीण चाण्डक, पूनम अग्रवाल, सकलैन मुश्ताक, तंजिला खान तथा राजकुमार कल्ला को इस पुरस्कार वितरण समारोह में अतिथियों द्वारा पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि समाजसेवी श्री संतोष कुमार गुप्ता, विशिष्ट अतिथि शिक्षाविद् शिवनाम सिंह, प्रख्यात कार्टुनिष्ट पंकज गोस्वामी, डाक टिकट, करंसी नोट एवं सिक्कों के संग्रहकर्ता भारतभूषण गुप्ता तथा फोटो जर्नलिस्ट दिनेश गुप्ता थे।
इससे पूर्व कार्यक्रम का शुभारम्भ अतिथियों द्वारा श्रीमती शशिबाला मित्तल के चित्र पर माल्यार्पण कर तथा दीप प्रज्वलित कर हुआ। ट्रस्ट के संरक्षक सुरेश कुमार मित्तल ने द्वारा ट्रस्ट द्वारा संचालित गतिविधियों की जानकारी प्रदान की गई तथा उपस्थिति जनों का आभार व्यक्त किया। मुख्य अतिथि संतोष कुमार गुप्ता ने अपने उद्बोधन में कहा कि सामाजिक जागरूकता के आयोजन के माध्यम से हम अपनी पहचान बनाये रखने में सफल होते हैं तथा युवा पीढ़ी को अपनी विरासत का स्मरण दिला कर उनको न केवल भारतवर्ष के इतिहास की जानकारी देते हैं अपितू यह हमारे राष्ट्र की उन्नति के लिए भी सहायक होते हैं। शिक्षाविद् शिवनाम सिंह ने कहा कि आजादी के आन्दोलन में जिन महापुरुषों ने योगदान दिया उनके बारे में युवा पीढ़ी को अवगत करवाने का अनूठा प्रयास है यह उत्सव आजादी का प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम, निश्चित रूप से युवाओं को इन महानायकों के जीवन से प्रेरणा मिलेगी। कार्टुनिस्ट पंकज गोस्वामी ने कहा कि ईनाम जीतना महत्वपूर्ण नहीं है, महत्वपूर्ण है किसी भी प्रतियोगिता में भागीदारी निभाना। ईमान देना तो प्रोत्साहन मात्र है यह जीवन में आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। भारतभूषण गुप्ता ने कहा कि इतिहास सम्बन्धी जानकारी हमें जीवन में सफलता के मार्ग मंे अत्यन्त सहायक है। इस प्रकार की प्रश्नोत्तरी के माध्यम से हम छोटी-छोटी जानकारी प्राप्त कर सफलता की ओर अग्रसर हो सकते हैं। दिनेश गुप्ता ने कहा कि मातृ शक्ति को समर्पित ऐसे आयोजन सिर्फ मदर्स-डे तक ही सीमित नहीं रहने चाहिए अपितू 365 दिन निरन्तर जारी रहने चाहिए। श्रीमती शशिबाला मित्तल स्मृति चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा किये जा रहे कार्य अनुकरणीय हैं। कार्यक्रम में दिनेश कुमार मित्तल, आर.सी. शर्मा, दयाशंकर तिवाड़ी, रामचन्द्र मुलू, श्याम सुन्दर शर्मा, एल.एन. जोशी, मेघराज सोलंकी, नलिन सारवाल, घनश्याम सिंह, रामकिशोर शर्मा सहित अनेक गणमान्यजन उपस्थित थे।

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Bikaner News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like