BREAKING NEWS

शून्य दूर्घटना शून्य क्षति के लक्ष्य के साथ हिन्दुस्तान जिंक में 49 वां सुरक्षा सप्ताह सम्पन्न 

( Read 7112 Times)

12 Mar 20
Share |
Print This Page

mukesh mundara

शून्य दूर्घटना शून्य क्षति के लक्ष्य के साथ हिन्दुस्तान जिंक में 49 वां सुरक्षा सप्ताह सम्पन्न 

चित्तौडगढ़ | हम सभी को मिल कर सुरक्षा के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए प्रयास करने होगें एवं प्रत्येक व्यक्ति को सुरक्षा संकल्प को अमल में लाना होगा यह बात उप मुख्य निरीक्षक कारखाना एवं बाॅयलर जे.आर.गौतम ने हिन्दुस्तान जिंक चंदेरिया लेड जिंक स्मेल्टर में आयोजित 49 वें राष्ट्रीय सुरक्षा सप्ताह के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में कही। उन्होंने हिन्दुस्तान जिंक को सुरक्षा के प्रति सजगता के लिए अनुकरणीय बताते हुए चंदेरिया लेड जिंक स्मेल्टर को सुरक्षा मानकों के लिए राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाने का आव्हान किया। उन्होने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति स्वयं और दूसरे की सुरक्षा के लिए प्रेरणा बने जिससे शून्य दूर्घटना और शून्य क्षति के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके।
कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों ने मां सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर किया एवं सभी को सुरक्षा की शपथ दिलाई। इस अवसर पर चंदेरिया आईबीयू के निदेशक पंकज कुमार शर्मा ने कहा कि यदि हम सभी कार्य करने से पूर्व उसके कारण, खतरे और बचाव की ओर मंथन करें तो हम त्रुटियों से बच सकते है जिससे दूर्घटनाओं को टाला जा सकता है। मानवीय स्वभाव से होने वाली त्रुटियों से हमे सीख कर कमियों को दूर करना चाहिए जिससे हम स्वयं, साथी और मशीन की सुरक्षा को सुनिश्चित कर सकें। उन्होनंे प्रत्येक कर्मचारी से सुरक्षा प्रहरी बनने का आव्हान किया।
महामंत्री मजदूर संघ घनश्याम सिहं राणावत ने उपस्थित कर्मचारियों एंव अधिकारियों से सुरक्षा के प्रति किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरतने एवं सुरक्षा को सदैव प्राथमिकता में रखते हुए सुरक्षा के राष्ट्रीय कार्यक्रम में सहयोग करने की अपील की।
सुरक्षा प्रमुख आदित्य सिंह ने सभी अतिथियों का स्वागत कर वर्षभर के सुरक्षा प्रदर्शन एवं कार्यक्रमों के बारे में अवगत कराते हुए उद्योग के साथ ही घर एवं सड़क सुरक्षा हेतु चलाएं जा रहे कार्यक्रमों,  समुदाय और प्रशासन के साथ मिल कर सुरक्षा जागरूकता अभियान की जानकारी दी। सुरक्षा सप्ताह के दौरान विभिन्न  प्रतियोगिताओं पोस्टर प्रतियोगिता सुरक्षा नारा प्रतियोगिता क्वीज का आयोजन किया गया एवं कार्यक्रम में विजेताओं को अतिथियों द्वारा पुरस्कृत किया गया। समापन समारोह में पायरो, हाइड्रों एवं सीपीपी की टीम ने नुक्कड नाटक पायरों के शोले, सुरक्षित कार्य के तरिके एवं  माई सेफ्टी माई रेस्पोंसिबिलिटी से सुरक्षा जागरूकता एवं कोरोना वायरस से बचाव एवं उपाय का संदेश दिया । सीपीपी इकाई द्वारा प्रस्तुत नुक्कड नाटिका प्रथम स्थान पर रही।
इस अवसर पर राजेश लुहाडिया, कमोद सिंह, सी चंद्रू, वीके कोठारी, पवन कुमार, विशाल अग्रवाल, दीप अग्रवाल,सुमित गुप्ता, व्यावसायिक भागीदारों के समस्त हेड, मजदूर संघ के उपाध्यक्ष एस के मौड, देवी लाल तेली, बाल किशन माली, निर्भय सिंह, मेवालाल एवं सुरक्षा विभाग के मोहन फरताडे, सीताराम जाट, शशांक अग्रवाल, उषा शर्मा, भगवती पालीवाल, रेणु श्रृंगी सहित अन्य जिंक अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित थे। कार्यक्रम के प्रारंभ में सीपीपी के हितैष आहुजा ने सुरक्षा संपर्क की जानकारी दी, संचालन आर.पी. जैन ने किया ।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Zinc News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like