GMCH STORIES

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के रथ किये रवाना

( Read 1292 Times)

21 Nov 20
Share |
Print This Page
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के रथ किये रवाना
कोटा (डॉ. प्रभात कुमार सिंघल) प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत रबी 2020-21 के लिए जिला कलक्टर उज्ज्वल राठौड ने शुक्रवार को कलेक्टेªट परिसर से प्रचार-प्रसार रथों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। 
जिला कलक्टर उज्ज्वल राठौड़ ने कहा कि प्रचार रथों द्वारा प्रत्येक पात्र किसान को जानकारी देकर योजना का लाभ दिलाया जावे। उन्होंने कहा कि फसल बीमा योजना का लाभ किसानों को मिलने से आपदा के समय परेशानी से मुक्ति मिलेगी। उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों को रथों के भ्रमण की निरन्तर मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिये। 
संयुक्त निदेशक कृषि विस्तार डॉ. रामावतार शर्मा ने बताया कि 20 नवम्बर से 8 दिसम्बर तक सभी रथ जिले की सभी ग्राम पंचायतों के समस्त गांवों में प्रचार-प्रसार करेंगे। उन्होंने बताया कि जो किसान बीमा योजना से बाहर होना चाहते है वह 8 दिसम्बर तक ओपीटी आउट फार्म भरकर संबंधित बैंक में दे सकते हैं।   
उपनिदेशक कृषि विस्तार रामनिवास पालीवाल ने बताया कि जिले में कार्यरत बजाज आलियांज जनरल इन्शोरेन्स कम्पनी प्राइेवेट लिमिटेड के प्रतिनिधि प्रचार रथों के साथ प्रचार सामग्री सहित भ्रमण करेंगे एवं ग्रामीण क्षेत्र में पंचायत मुख्यालय पर कार्यरत कृषि पर्यवेक्षक पटवारी एवं अन्य सरकारी कर्मचारियों व कृषकों को बीमा सम्बन्धी जानकारी प्रदान कर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का व्यापक प्रचार प्रसार करेंगे। उन्होंने बताया कि ऋणी व गैर ऋणी कृषकों के 15 दिसम्बर तक अन्तिम तिथि घोषित की गई है तथा बीमा कम्पनी द्वारा गैर ऋणी कृषकों की प्रिमियम राशि 17 दिसम्बर तक जमा करवाने की अन्तिम तिथि एवं बैंकों द्वारा ऋणी कृषकों की प्रिमियम राशि राष्ट्रीय फसल बीमा पोर्टल पर दिये गये इन्टरफेस  Pay-Gov के माध्यम से करने की 31 दिसम्बर अन्तिम तिथि है जो प्रचार-प्रसार रथों के माध्यम से समस्त कृषकों व सम्बन्धितों को बारी-बारी से दी जायेगी। 
इस अवसर पर संयुक्त निदेशक कृषि (विस्तार) डॉ. रामावतार शर्मा, संयुक्त निदेशक उद्यान पी.के गुप्ता, उप निदेशक कृषि उद्यान खेमराज शर्मा, डीडीएम नाबार्ड राजीव दायमा, एलडीएम सीबीआई, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के प्रभारी अम्बालाल मीणा, बजाज आंलियाज जनरल इन्शोरेन्स कम्पनी के जिला प्रबन्धक भुवनेश गुर्जर, जिला प्रतिनिधि लोकेश कुमार गुर्जर सहित कृषि अधिकारी एवं सभी तहसील समन्वयक उपस्थित रहे।
यह होगी बीमा राशि
उप निदेशक कृषि ने बताया कि जिले में गेहूँ की बीमित राशि 28776 है जिसकी प्रिमियम राशि 1241.64 प्रति हैक्टेयर है। सरसों की बीमित राशि 73069 है जिसकी प्रिमियम राशि 1096.06 प्रति हैक्टेयर है। मेथी की बीमित राशि 63799 है जिसकी प्रिमियम राशि 3189.95 प्रति हैक्टेयर है। उन्होंने बताया कि चना की बीमित राशि 75414 है जिसकी प्रिमियम राशि 1131.21 प्रति हैक्टेयर है तथा धनिया की बीमित राशि 95755 है जिसकी प्रिमियम राशि 4787.75 प्रति हैक्टेयर है। 

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like