GMCH STORIES

डॉ. हर्ष वर्धन ने पहले रेड रिबन क्विज प्रतियोगिता के ग्रैंड फिनाले का उद्घाटन किया

( Read 1177 Times)

13 Jan 21
Share |
Print This Page

नीति गोपेन्द्र भट्ट

डॉ. हर्ष वर्धन ने पहले रेड रिबन क्विज प्रतियोगिता के ग्रैंड फिनाले का उद्घाटन किया

नई दिल्ली, केन्द्रीय स्वास्थ्य तथा परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने आज नाको (एनएसीओ) और स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा आयोजित पहले रेड रिबन क्विज प्रतियोगिता के ग्रैंड फिनाले का उद्घाटन किया। इस अवसर स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री श्री अश्विनी कुमार चौबे वर्चुअल माध्यम से उपस्थित रहे।

डॉ. हर्ष वर्धन ने आयोजना का उद्घाटन करते हुए कहा कि यह मेरे लिए गर्व और सम्मान का विषय है कि आज मैं राष्ट्रीय युवा दिवस 2021 के आयोजन में शामिल हूं। हम यह दिवस युवाओं की उपलब्धियों के लिए मनाते हैं। यह स्वामी विवेकानंद की जन्म जयंती के अवसर पर मनाया जाता है। उनके विचार भारत के युवाओं के लिए प्रेरणा का बड़ा स्रोत रहे हैं।

डॉ. हर्ष वर्धन ने भारत की जनसंख्या में युवाओं की बहुत बड़ी तादाद को देश के विकास और समृद्धि के लिए फायदेमंद बताया। भारत की युवा जनसंख्या विश्व में सबसे अधिक सक्रिय युवा मानी जाती है। अब तक भारत में इतनी बड़ी संख्या में युवा कभी नहीं रहे। युवा वर्ग की आवश्यकताओं और आकांक्षाओं को पूरा करने पर सफलता को मापा जा सकेगा।

डॉ. हर्ष वर्धन ने राष्ट्रीय एड्स कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन-नाको को अब तक के पहले रेड रिबन क्विज प्रतियोगिता आयोजित करने के लिए बधाई देते हुए कहा कि मैं नाको तथा राज्य एड्स नियंत्रण सोसायटियों की जिला, राज्य और क्षेत्रीय स्तर पर क्विज प्रतियोगिता आयोजित करने के लिए सराहना करता हूं, जिसमें कुल देश भर के पांच हजार से अधिक कॉलेजों ने भाग लिया। युवाओं में ज्ञान विकसित करने के लिए क्विज एक अच्छा तरीका माना जाता है। इस प्रतियोगिता में युवाओं को नये विषय और नया ज्ञान अर्जित करने में मदद मिलती है।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि नाको 2005 से एनसीआरटी के साथ मिलकर 50 हजार से अधिक स्कूलों में किशोर शिक्षा कार्यक्रम का कार्यान्वयन कर रहा है। नाको ने कॉलेज में पढ़ रहे युवाओं तक पहुंचने के लिए 12,500 रेड रिबन क्लब विकसित की हैं। इनके माध्यम से एचआईवी रोकथाम, देखभाल और सहायता तथा उपचार, एचआईवी के असर में कमी लाने, एचआईवी के कलंक को दूर करने और स्वैच्छिक रक्तदान को बढ़ावा देने का काम किया जाता है।

डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा कि कोविड-19 महामारी ने स्वस्थ जीवन के लिए सफाई, पोषण, सकारात्मक मानसिक स्वास्थ्य और मनोवैज्ञानिक कल्याण सहित व्यापक स्वास्थ्य के निर्धारकों पर बड़ा फोकस किए जाने की आवश्यकता उजागर की है। स्वस्थ जीवन के महत्व पर बल देते हुए केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि उपयोगी युवा वर्ग के लिए सबसे पहली आवश्यकता अच्छा स्वास्थ्य है। उन्हें यह समझना चाहिए कि स्वस्थ जीवन से सही निर्णय लेने की आदत विकसित करने में मदद मिलती है। आज का यह आयोजन एचआईवी/एड्स और अन्य स्वास्थ्य संबंधित मुद्दों के बारे में सूचना के प्रसार की दृष्टि से महत्वपूर्ण है।

राज्य मंत्री श्री अश्विनी कुमार चौबे ने इस अवसर पर स्वामी विवेकानंद का स्मरण किया और प्रसन्नता व्यक्त की कि देश का युवा उनके आदर्शों के अनुसार उपलब्धि हासिल करने की दिशा में काम कर रहा है। मैंने देखा है कि महामारी और लॉकडाउन के दौरान नये नवाचार के बल पर युवा अपने कौशल को समृद्ध बना रहे थे।

अंत में डॉ. हर्ष वर्धन ने दोहराया कि युवा देश का भविष्य है और हमारी सरकार उन्हें नवाचार विकासकर्ता, निर्माता और भावी भारत का नेता बनने के लिए हमारी सरकार अवसर उपलब्ध कराने की दिशा में प्रयास कर रही है। 

 
 
 
 
 
 

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like