logo

हिन्दुस्तान जिंक के शिक्षा संबंल कार्यक्रम में इस वर्श लाभान्वित हो रहे १४०० विद्यार्थी

( Read 2841 Times)

21 May 19
Share |
Print This Page
हिन्दुस्तान जिंक के शिक्षा संबंल कार्यक्रम में इस वर्श लाभान्वित हो रहे १४०० विद्यार्थी

गर्मी की छुट्टियों में घूमने फिरने या फिर सिर्फ खेलकूद के बजाय पहली बार घर से दूर रहने और वह भी एक माह के लिए, २४ घण्टें अनुशासन, अध्ययन, खेलकूद, व्यक्तित्व निखार जैसे विशयों के लिए जाना हो तो स्वाभाविक तौर पर २६३ से अधिक बच्चें एकमत नही हो सकते। लेकिन पंतनगर की अर्चना गुप्ता, चित्तौडगढ के आजोलिया का खेडा की श्रेया, आगुचा के हरिओम, कोटडी दरीबा की अंजली के आवासीय शिविर के अनुभवों पर तालियां बजा उनके साथ पढाई कर खुशी जताते बच्चों के चेहरों पर मुस्कान और आत्मविश्वास इस बात को साबित करने के लिए अनुकुल थे कि उन्हें पढाई मे रूचि के साथ साथ अपने गुरूजनों से अभिभावकों जैसा व्यवहार और मार्गदर्शन उन्हें घर से दूर घर सा ही वातावरण दे रहे है जो कि उनके भविश्य की नींव के लिए अमूल्य है।

हिन्दुस्तान जिंक द्वारा चलायें जा रहे शिक्षा संबंल कार्यक्रम के अन्तर्गत ग्रीष्मकालीन प्रशिक्षण शिविरों में पंतनगर, उत्तराखण्ड सहित राज्य के ५ जिलों उदयपुर, राजसमंद, चित्तौडगढ, भीलवाडा, अजमेर के राजकीय विद्यालयों के १४०४ से अधिक बच्चें उत्साह से भाग ले रहे है। इन प्रशिक्षण शिविरों में बच्चों को विज्ञान, गणित और अंग्रेजी विषयों के साथ ही शारीरिक, खेलकूद, बौद्धिक और सांस्कृतिक गतिविधियों से जोडकर उनके सर्वागिंण विकास की और अग्रसर किया जा रहा है।

हिन्दुस्तान जिंक द्वारा विद्या भवन सोसायटी उदयपुर के सहयोग स सिनियर सैकण्डरी स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में ग्रीष्मकालीन प्रशिक्षण शिविर की औपचारिक शुरूआत की गयी। १५ मई से १५ जून तक आयोजित होने वाले इस आवासीय प्रशिक्षण शिविर में २१४ बच्चें १० वीं कक्षा एवं ४९ बच्चें १२वीं कक्षा के भाग ले रहे है। हिन्दुस्तान जिंक द्वारा जावर, दरिबा, देबारी चित्तौडगढ, आगूचा, और कायड में इसी प्रकार के आयोजित ७ शिविरों में ११४१ से अधिक बच्चें लाभान्वित हो रहे है।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वेदान्ता एवं हिन्दुस्तान जिंक की सीएसआर हेड श्रीमती निलिमा खेतान ने शिक्षा संबंल परियोजना के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए विद्यार्थियों से कहा कि ४ वर्श पूर्व प्रायोगिक तौर पर शुरू किये गये इस आवासीय शिविर की सफलता उनकी बढती हुई संख्या से सिद्ध होती है। परिणामों को बेहतर बनाने और शिक्षा की पद्धति इस कार्यक्रम और शिविरों की अद्वितीय खासीयत है। उन्होंने बच्चों से इस कार्यक्रम में संपूर्ण एकाग्रता और भागीदारी निभानें का आव्हान किया जिससें वें इस शिविर ही नही जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सफलता हांसिल कर सके।

कार्यक्रम में विद्या भवन के अध्यक्ष अजय मेहता ने कहा कि ये शिविर हिन्दुस्तान जिंक के साथ मिलकर ऐसा शैक्षणिक प्रयोग है जिससे संस्था और बच्चों का नाम रोशन हो। आवासीय शिविरों  में यह प्रयास किया जा रहा है कि किस प्रकार शिक्षा को प्रासंगिक किया जा सके जिससे बच्चों को अधिकाधिक लाभ मिलें।

हिन्दुस्तान जंक सदैव आगे बढकर ग्रामीण बच्चों के संपूर्ण विकास के लिये आगे आता रहा है शिक्षा संबंल कार्यक्रम के तहत् अध्यापन में अभाव महसूस कर रहे बच्चों के लिये ११ वर्षो से लाभान्वित किया जा रहा है। ग्रीष्मकलीन प्रशिक्षण शिविरों में शिक्षण के साथ ही कौशल विकास, व्यवहार तथा अन्य गतिविधियों जैसे खेलकूद और सांस्कृतिक कार्यक्रमो से बच्चों में व्यक्तिगत और शिक्षात्मक सुधार  का प्रयास किया जा रहा है। इन आवासीय शिविरों में पूरे देश से ८० से अधिक वालंटियर अपनी सेवाएं दे रहे है जो कि आईआईटी जैसे उच्च शिक्षा संस्थानों में अध्ययनरत है।

शिक्षा संबंल कार्यक्रम के तहत् हिन्दुस्तान जिंक द्वारा १०वीं कक्षा से १२वीं कक्षा में अध्ययनरत विद्यार्थियों को सरकारी विद्यालयों में जहा पद रिक्त है विज्ञान, गणित  एवं अंग्रेजी के विषयध्यापकों द्वारा शिक्षा दी जा रही हैं। इस वर्ष ८ स्थानों  पर आयोजित किये जा रहे  ग्रीष्मकालीन प्रशिक्षण शिविरों में छात्राओं की संख्या ५० प्रतिशत से अधिक है जो कि हिन्दुस्तान जिंक के प्रति छात्राओं के अभिभावकों के विश्वास को दर्शाता हैं। इस आवासीय प्रशिक्षण शिविर में १०वीं एवं १२ वीं कक्षा में इस वर्ष प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों को विशेषज्ञ अध्यापकों द्वारा अध्यापन कराया जा रहा है जिससे वे इन विषयों के बारें में सामान्य जानकारी को रूचिकर तरिकों से सीख सकें। इस प्रकार के शिविर का आयोजन उदयपुर में विगत तीन वर्शो से किया जा रहा है २०१७ में जहां २०० बच्चें इसमें प्रतिभागी थे वहीं २०१८ में २५० बच्चों ने इसका लाभ लिया।

कार्यक्रम में विद्या भवन से आयोजन सचिव एसपी गौड, वरिष्ठ सदस्य कमल महेन्द्रु, सहित हिन्दुस्तान जंक की ईकाईयों के सीएसआर अधिकारी सहित छात्र-छात्राएं उपस्थित थें।

 

 

 

 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Zinc News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like