logo

कांग्रेस के लिए घर छोड़कर साधु बनने को भी तैयार

( Read 958 Times)

08 Nov 18
Share |
Print This Page

कांग्रेस के लिए घर छोड़कर साधु बनने को भी तैयार राजस्थान विधानसभा चुनाव सीएम फेस को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट के बीच चल रही खींचतान चरम पर है। इसी बीच, दिवाली मनाने जोधपुर पहुंचे अशोक गहलोत ने कहा कि उनके लिए पद कोई मायने नहीं रखता है। उन्होंने कहा कि पार्टी की सेवा करने के लिए घर-द्वार छोड़कर साधु बनने के लिए तैयार हूं।

पहले मीडियाकर्मियों और फिर कार्यकर्ताओं से बातचीत में गहलोत ने कहा कि पार्टी चाहे जहां मेरा उपयोग करें, छोटा-बड़ा कोई पद दे, बस पार्टी को फायदा होना चाहिए, मेरी ख्वाहिश यही है कि देश में कांग्रेस का झंडा बुलंद रहे। उन्होंने कहा कि अभी विधानसभा चुनाव है, फिर लोकसभा चुनाव आ जाएंगे। दोनों चुनाव में कांग्रेस की सरकार बनाना ही हमारा उद्देश्य होना चाहिए।



गहलोत ने कार्यकर्ताओं में जान फूंकते हुए कहा कि एक विधानसभा क्षेत्र में टिकट तो एक को ही मिलेगा, दो को नहीं मिल सकता, बाकी को निराश नहीं होकर पार्टी के लिए काम करना है, जिसे टिकट मिले, उसे जितना हमारा फर्ज होना चाहिए, तब जाकर कांग्रेस की सरकार बनेगी। उन्होंने मिजोरम कांग्रेस मॉडल का जिक्र करते हुए कहा कि भविष्य में कांग्रेस में मनोनयन की जगह जिलाध्यक्ष का चुनाव होगा। जिलाध्यक्ष को इतना मजबूत किया जाएगा कि टिकटों के फैसले में उसकी महत्वपूर्ण भूमिका हो। चुनाव से पहले सभी जिलाध्यक्षों को दिल्ली बुला कर नाम मांगे जाएंगे।उनसे पूछा जाएगा कि आप इनका नाम क्यों दे रहे हैं।




Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like