logo

जब तक मौत नजर नहीं आती तब तक जिंदगी सही राह पर नहीं आतीःडॉ.शिवमुनि

( Read 20392 Times)

18 Aug 18
Share |
Print This Page

जब तक मौत नजर नहीं आती तब तक जिंदगी सही राह पर नहीं आतीःडॉ.शिवमुनि
उदयपुर। श्रमणसंघीय आचार्य डॉ. शिवमुनि महाराज ने कहा कि जब तक मौत नजर नहीं आती तब तक जिंदगी सही राह पर नहीं आती। दुनियंा से जाने वाले का कोई समाचार नहीं मिलता है न जाने वाला कोई समाचार देता हैं।
वे आज महाप्रज्ञ विहार स्थित शिवाचार्य समवसरण में श्रद्धालुओं को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह जिंदगी महज नदी नांव के संयोग के समान है। हर संयोग के साथ वियोग जुडा हुआ हैं। मृत्यु कब कहाँ और कैसे होगी यह कोई नहीं जानता है। मौत को दुनियां की कोई ताकत रो भी नहीं सकती है। पैसा प्रतिष्ठा एवं परिवार, संगे-संबंधी भी मौत को रोक नहीं सकते है। अतः दम निकलने से पहले मौत को सुधरने में जीवन का दम लगा देना। चिता जलने से पहले अपना अनमोल चिंतन जगा लेना।
आचार्यश्री ने कहा कि जन्म हुआ उसी समय से मृत्यु की ओर हमारी यात्रा का आरंभ हो जाता है। जैसे सूर्योदय के समय से ही सूर्यास्त की तैयारी हो जाती है। जन्म के आँचल में ही मृत्यु छुपी हुई है। हर आती-जाती साँस के आपको मृत्यु के नजदीक ले जा रही है। सावधान रहना,इसका कोई भरोसा नहीं है। जाती हुई साँस वापस भी आएगी और रात को सोओं तो सुबह उठकर जाग भी जाओं।
आज हमने भारत माता का महान सपूत भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी वाजपेयी को खो दिया है। हिन्दुस्तान के विकास के लिए जिन्होंने अपना सम्पूर्ण जीवन लगा दिया। ऐसे विकास पुरूष को हम स्मरण करते है। परमात्मा उन्हें अपने चरणों में स्थान दें।

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like