BREAKING NEWS

रेल से यात्रा कर आने वाले दें जानकारी, क्वॉरेंटीन का करें पालन

( Read 5291 Times)

02 Jun 20
Share |
Print This Page
रेल से यात्रा कर आने वाले दें जानकारी, क्वॉरेंटीन का करें पालन

जिला कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा ने कहा है कि आमजन के सहयोग से  बूंदी में कोरोना संक्रमण नियंत्रित रहा है। दो पॉजिटिव केस सामने आए हैं उनमें  जो त्वरित कार्यवाही की गई उससे कम्युनिटीे स्प्रेड की स्थिति नहीं बन पाई जो सुखद है। उन्होंने जिले के नागरिकों अपील की है कि खुद को और जिले को संक्रमण से बचाए रखने के लिए अब विशेष सचेत रहने की आवश्यकता है। बाहर से आने वाले खासकर दिल्ली या अन्य राज्य से आने वाले लोगों की यह जिम्मेदारी बनती है कि वे अपने आने की सूचना जिला प्रशासन को दें तथा न्यूनतम होम क्वॉरेंटाइन रहे। लोगों को भी अपने परिचित या आसपास बाहर से आने वाले ऐसे लोगों की तत्काल जिला प्रशासन को सूचना देकर अपनी जिम्मेदारी पूर्ण भूमिका निभानी होगी।
 जिले में रेल यात्रा से आने वाले सभी की होगी स्क्रीनिंग
 जिला कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा  की पहल पर रेल गाड़ियों के माध्यम से जिले में प्रवेश करने वाले सभी लोगों की स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई है ताकि रेल यात्रियों के जरिए कोरोना संक्रमण बूंदी में प्रवेश ना कर पाए कलक्टर के निर्देश पर इंसीडेंट कमांडर स्तर पर टीम गठित की गई है जो बूंदी रेलवे स्टेशन लाखेरी व इंद्रगढ़ में रेलगाड़ियों से सफर कर जिले में प्रवेश करने वाले लोगों की स्क्रीनिंग करेंगी साथ ही  उनकी क्वारंटाइन  व्यवस्थाओं के लिए आवश्यक कार्यवाही मौके पर ही करेंगी।  

कोविड केयर सेंटर बनाएंगे
जिला कलेक्टर ने मीडिया ब्रीफिंग के दौरान बताया कि जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के प्रभावी उपाय आरंभ से ही रहे हैं और अब इसके उपचार के लिए भी व्यापक प्रबंध किए जा रहे हैं। शहर में किसान भवन एवं  जगजीवन राम छात्रावास को कोविड केयर सेंटर के तौर पर तैयार किया जाएगा। जिससे यहां पाॅजिटिव केस की संख्या बढ़ने की स्थिति में प्रभावित व्यक्तियों को रखने और उनका कार्य करने में सुविधा हेगी। साथ ही त्वरित उपचार शुरू करने में सहूलियत रहेगी। अन्य अस्पतालों को कोविड से पूर्ण मुक्त रखते हुए अन्य बीमारियों के उपचार हेतु कार्य में लेने में सुविधा रहेगी। कोविड केयर सेंटर तैयार करने के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग अधीक्षण अभियंता को  निर्देश दिए गए हैं।  
 जिला कलेक्टर ने बताया कि 1 जून से अधिकांश गतिविधियां आरंभ हो चुकी हैं, लेकिन धार्मिक स्थलों, सिनेमाघर, मॉल इत्यादि खोलने के बारे में राज्य सरकार के निर्देश प्राप्त होने के बाद ही कोई कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि रात्रि 9 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। इसकी पालना आमजन को करनी होगी। उन्होंने अनुरोध किया है कि व्यवसाई रात्रि 8 बजे तक कारोबार पूर्ण कर ले ताकि 9 बजे तक सभी घर पहुंच सके।
कोविड-19 जांच में 1552 सैंपल नेगिटिव, 34 प्रतीक्षा में
 जिला कलेक्टर ने बताया कि जिले में अब तक की गई कोविड-19 जांच में 1552 सैंपल नेगिटिव मिले हैं तथा दो पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं। इन दोनों मामलों से संबंध सभी के सैंपल लिए गए हैं जो नेगेटिव आए हैं। उन्होंने चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि कोरोना संदिग्ध लोगों या लक्षण सामने आने पर  त्वरित सैंपलिंग की जाए, लेकिन संदिग्धों के संपर्क वाले सामान्य  स्थिति वाले लोगों की जांच 5 या 7 दिन के बाद की जाए ताकि उनमें  संक्रमण की जांच में अधिक  सफलता मिल सके। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार अब तक 1597 सेंपल लिए गए हैं। जांच में 1552 सैंपल नेगेटिव आये हैं। जिले में अब तक दो केस कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इसमें 9 रिजेक्ट सैम्पल भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि 34 सेंपल की रिपोर्ट अभी पेंडिंग है।
जिला मजिस्ट्रेट ने जारी किए निषेधात्मक आदेश 

           जिला कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट अंतर सिंह नेहरा ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के संबंध में लॉक डाउन 5.0 की अवधि 1 जून से 30 जून के दौरान दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए निषेधात्मक आदेश जारी किए है


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like