BREAKING NEWS

“हम और आप” जो जहां है वही रहे और घर पर ही रहे, परेशानियों के हल के लिए ”सरकार“ है ं

( Read 3041 Times)

28 Mar 20
Share |
Print This Page

अनिल सक्सेना/ललकार

“हम और आप” जो जहां है वही रहे और घर पर ही रहे, परेशानियों के हल के लिए ”सरकार“ है ं

कल राजस्थान के विभिन्न शहरों से फोन आते रहे। मिलने वाले मेरा नम्बर दे रहे थे और जरूरतमंद लोग मदद के लिए संपर्क कर रहे थे, कई लोगो की एक ही मांग थी कि उन्हे अपने शहर भेज दें । मैंने यही समझाने का प्रयास किया कि जीवन-मरण का सवाल नही हो तो, जो जहां है वही रहे और परेशानी बताएं, सरकार आपका साथ देगी। प्राण बचाने से बड़ी कोई परेशानी नही होती है। जीवन रहेगा तो सब अच्छा होगा । 
  
दिल्ली से चित्तौड़ लड़की देखने आया एक परिवार आवागमन के साधन बंद होने के कारण यही फंस गया, फोन आया, मदद के प्रयास किये । अजमेर में दरगाह के दर्शन करने आया पंजाब का एक समूह फंस गया। जिला जनसंपर्क अधिकारी से जानकारी मिली कि उन्हे अजमेर के फलाने होटल से बाहर निकालने का प्रयास चल रहा है क्यों कि उनके पास पैसा खत्म हो गया , प्रयास करने पर अजमेर प्रशासन ने मदद पहुचाई। जोधपुर और अन्य शहरों से भी फोन आए, वहां के मीडिया मित्रों या प्रशासनिक मित्रों के माध्यम से मदद दिलवाई।  
चित्तौड़ में झारखंड से मजदूरी करने आए अस्थायी दर्जनों मजदूर अपने शहर जाने के लिए उत्तेजित नजर आए, मुझे फोन कर भोजन की समस्या बताई तो मैंने संबधित कारखाने के अध्यक्ष से उनकी मदद करने का आग्रह किया । 
चित्तौड़गढ़ कलक्टर श्री चेतन देवड़ा ने व्यवस्थाओं को बनाए रखने के लिए कई टीमों का गठन किया है। जिले में चित्तौड़गढ़ जिला प्रशासन ने कन्ट्रोल रूम बनाया हुआ है । जरूरमंदो तक खाध सामग्री पहुंचाने की जिम्मेदारी यूआईटी सचिव श्री सी.डी.चारण को नोडल अधिकारी बनाकर दी है जिनका मोबाईल नम्बर 87690-88187 है। किसी जरूरतमंद तक भोजन नही पहुंच पा रहा हो तो उसकी जानकारी नोडल अधिकारी को देकर उन लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था करवाई जा सकती है।  
बीमार रोगियों की नियमित आवश्यकताओं की दवाईयां घर पर ही उपलब्ध करवाई जाएगी । घर पर दवाईयां पहंचाने के लिए मेडिकल इंचार्ज अनिल कुमार गुप्ता (मोबाइल - 94610-25669) है। 
उपभोक्ताओं को डोर-टू-डोर आवश्यक राशन एवं खाध सामग्री , फल, सब्जी एवं दूध को पहुंचाने के लिए उप वन संरक्षक श्री शशि शंकर पाठक (मोबाइल - 94138-03941) की अध्यक्षता में एक प्रकोष्ठ का गठन किया है । यह प्रकोष्ठ घर तक आवश्यक सामग्री पहुचाने की कार्ययोजना तैयार कर रहा है। 
चित्तौड़गढ़ प्रशासन संभावित परिस्थितियों से निपटने के लिए योजना अनुसार कार्य कर रहा है लेकिन उन्हे चाहिए कि ज्यादा मूल्यों पर आवश्यक सामान बेचने वालों पर अंकुश लगाने की भी योजना तैयार करे । 
निम्न तबके के मध्यमवर्गीय परिवारों की स्थिति खराब हो चली है। जो तबका मजदूर नही है लेकिन प्रतिदिन कमा कर खा रहा था उसके बारें में भी सरकार को सोचने की जरूरत है।
 
सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है कि आमजन और जरूरमंद को सहायता मिले लेकिन कोरोना से बचने के लिए “हमें और आपको” एक ही काम करना है कि जो जहां है वही रहे और घर पर ही रहे । 

“हम स्वस्थ, परिवार स्वस्थ, देशवासी स्वस्थ”
(राजस्थान के सबसे पुराने सन् 1949 से लगातार प्रकाशित साप्ताहिक अखबार “ललकार” का काॅलम)


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Chittor News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like