BREAKING NEWS

अधिकारियों की हठधर्मिता से परीक्षा से वंचित बच्चों का भविष्य अन्धकारमय 

( Read 8601 Times)

20 Feb 20
Share |
Print This Page
अधिकारियों की हठधर्मिता से परीक्षा से वंचित बच्चों का भविष्य अन्धकारमय 

भीलवाड़ा/ भीलवाड़ा जिला निजी शिक्षण संस्थान के जिलाध्यक्ष अर्जुन देवलिया के नेतृत्व में जिला कलेक्टर को ज्ञापन दिया गया।

ज्ञापन में उल्लेख किया गया कि इन सभी 11 विद्यालयों को क्म्व् द्वारा एक बार मान्यता जारी की गई है। इन विद्यालयों में अध्ययनरत् छात्र-छात्राओं के पोर्टल पर आवेदन आवेदित कर दिये गये और परीक्षा आवेदन पत्र भरकर व्ज्ञ भी कर दिया गया है जिन्हें पोर्टल पर स्वीकृत कर लिया गया, परन्तु कोटड़ी ब्ठम्व् ने मान्यता नवीनीकरण नहीं होने का हवाला देते हुए इन 11 स्कूलों में अध्ययनरत् कक्षा 8 के 60 व कक्षा 5 के 112 छात्र-छात्राओं को परीक्षा से वंचित करने की पूरी प्लानिंग कर ली है जबकि पोर्टल पर सभी पूर्तियां सम्बन्धित स्कूलों ने कम्पलीट कर ली है। 

संस्थान के कानूनी सलाहकार शान्तिलाल जैन ने बताया कि जिले में कोटड़ी के अलावा 11 ब्लाॅक और भी है जिनमें भी नवीनीकरण के सैंकड़ों प्रकरण बकाया हैं परन्तु अन्य ब्लाॅक में ऐसा नहीं हुआ। अपनी राजनैतिक पहुंच बताते हुये कोटड़ी ब्ठम्व् अपनी हठधर्मिता पर अड़े हुए हैं, इस सन्दर्भ में दि. 12/02/2020 को मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी को भी अवगत करा दिया गया उसके बाद भी कोटड़ी ब्ठम्व् अपनी हठधर्मिता से बाज नहीं आ रहे हैं और उन स्कूलों के पीछे पड़कर स्कूलों को बन्द कराने की कगार पर खड़ा कर दिया है और स्कूलें बन्द कराकर निकटतम राजकीय विद्यालयों में छात्र-छात्राओं को प्रवेश दिलवाने का दबाव बनाया जा रहा है और इसके आदेश भी जारी करवा दिये गये हैं जबकि विद्यालयों का बराबर निःशुल्क शिक्षा अधिनियम ;त्ज्म्द्ध के तहत समय-समय पर निरन्तर निरीक्षण व भौतिक सत्यापन किया जा रहा है। अगर ये सभी 11 विद्यालय बिना मान्यता के चल रहे होते तो विभाग के कर्मचारियों द्वारा इनका निरीक्षण व भौतिक सत्यापन किस आधार पर किया जा रहा है ? और उनका पुर्नभरण राशी का भुगतान भी विभाग द्वारा प्रमाणित करके किया जा रहा है। 

यह है कि नवीनीकरण के सम्बन्ध में राज्य सरकार द्वारा जारी आदेश दि. 05.03.2018 की प्रति भी ब्ठम्व् कोटड़ी को बताई गई लेकिन ये सब सुनने व मानने को ब्ठम्व् कोटड़ी तैयार ही नहीं है। 

वस्तुस्थिति सामने ये आ रही है कि जिन विद्यालयों ने ब्ठम्व् कोटड़ी श्री यादव जी को चाहे अनुसार लिफाफा दे दिया उन स्कूलों में अध्ययनरत् विद्यार्थियों के परीक्षा आॅनलाईन आवेदन की हार्डकाॅपी तो स्वीकार कर ली और कोटड़ी ब्लाॅक के केवल मात्र 11 स्कूल ही ऐसे हैं जिनके छात्र-छात्राओं के आवेदन पत्र ब्ठम्व् कोटड़ी द्वारा अपडेट नहीं किये जा रहे है।

ज्ञापन में मांग की गई कि हठधर्मी अधिकारियों के प्रति कड़ी से कड़ी कार्यवाही करते हुए छात्र-छात्राओं को परीक्षा में सम्मिलित करवाया जाये व स्कूल संचालकों को ब्ठम्व् कोटड़ी से राहत दिलावें।

ज्ञापन के दौरान जिला कलेक्टर सा. राजेन्द्र जी भट्ट ने निजी स्कूल संचालकों को आश्वस्त किया कि सोमवार को ब्क्म्व् (मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी) भीलवाड़ा से प्रकरण के बारे में जानकारी लेकर बच्चों को परीक्षा से वंचित नहीं होने दिया जायेगा। 

ज्ञापन देने वालों में, प्रेमशंकर जोशी, रामगोपाल शर्मा, रेखा शर्मा, अभिषेक दीक्षित, शिव शर्मा, सूर्यप्रकाश शर्मा, कैलाश शर्मा, विष्णु पोरवाल, विनोद शर्मा, आदि सहित कई निजी स्कूल संचालक उपस्थित थे। 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , Bhilwara News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like