राष्ट्रीय लोक अदालत का हुआ आयोजन

( Read 790 Times)

15 Jul 19
Share |
Print This Page

राष्ट्रीय लोक अदालत का हुआ आयोजन

प्रतापगढ |  जिला विधिक सेवा प्राधिकरण प्रतापगढ के अध्यक्ष माननीय राजेन्द्र कुमार शर्मा (जिला एवं सत्र न्यायाधीष) प्रतापगढ के निर्देशन में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। माननीय राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर के तत्वावधान में कुल ०९ बैंचेज का गठन किया गया। जिसमें तालुका छोटीसादडी व धरियावद पर पृथक-पृथक बैंच गठित की गई। राश्ट्रीय लोक अदालत में प्रि-लिटिगेशन के तहत एसबीआई अरनोद, बीओबी घोटारसी, बडौदा ग्रामीण बैंक खेरोट आदि
शाखाओं से बैंकों के प्रकरण रखे गये। उक्त बैंकों से संबंधित कुल १५० प्रकरणों का निस्तारण किया गया।

इस अवसर पर बैंक अधिकारिगण दीपक श्रीवास्तव, अजय नन्दूरकर, अश्विन कुमार, एन एल कटारा उपस्थित रहे। इस आयोजन हेतु बैंचों का गठन किया गया। जिसमें बैंच प्रथम श्रीमान् परमवीर सिंह चौहान, न्यायाधीश, प्रतापगढ की अध्यक्षता में सदस्य श्री श्री पुखराज मोदी-अधिवक्ता, बैंच द्वितीय श्रीमति आशा कुमारी, न्यायाधीश, पारिवारिक न्यायालय, प्रतापगढ की अध्यक्षता में सदस्य विजय लक्ष्मी आर्य अधिवक्ता, बैंच तृतीय अध्यक्ष श्री महेन्द्र कुमार मेहता, न्यायाधीश, मोटरयान दुर्घटना दावा अधिकरण, प्रतापगढ एवं सदस्य श्री कमलसिंह सिसोदिया अधिवक्ता, बैंच चतुर्थ श्री लक्ष्मीकांत वैष्णव, सचिव, (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश), जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, प्रतापगढ की अध्यक्षता में सदस्य श्री रमेष चन्द्र षर्मा द्वितीय, बैंच पंचम में श्री लक्ष्मणराम विश्नोई, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, प्रतापगढ की अध्यक्षता में सदस्य श्री प्रवीण बोरदिया अधिवक्ता एवं बैंच शश्ठम में श्रीमति कुमकुमसिंह, अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, अरनोद मु. प्रतापगढ की अध्यक्षता में सदस्य अधिवक्ता कला आर्य साथ ही बैंच सप्तम श्री कृष्ण कुमार अहारी, सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट, प्रतापगढ की अध्यक्षता में सदस्य अधिवक्ता तेजपालसिंह राठौड ने समस्त मामलों को निपटाने हेतु भरसक प्रयास किया।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण प्रतापगढ के सचिव अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीष श्री लक्ष्मीकंात वैश्णव ने बताया कि उक्त आयोजित लोक अदालत के माध्यम से निस्तारित हने वाले प्रकरणों में सिविल तथा दाण्डिक दोनों ही मामलों में निस्तारण हो जाता है। साथ ही कार्यक्रम की अध्यक्षता पारिवारिक न्यायाधीष श्रीमती आशा राज शर्मा ने की। हमेशा से अलग हटकर इस बार माननीय राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर के मार्ग निर्देशन में इस बार राश्ट्रीय लोक अदालत का आगाज सरस्वती वंदाना के पष्चात वंदेमातरम से किया गया। वन विभाग द्वारा पौधारोपण कार्यक्रम में सहयोग किया गया। तालुका मुख्यालय छोटी सादडी व धरियावद पर भी पौधारोपण किया गया। लोक अदालत के दौरान प्रकरणों के अधिकाधिक निस्तारण हेतु श्री सी०पी० सिंह ढलमू, श्री रमेश चन्द्र शर्मा द्वितीय, जिला विधिक सेवा कर्मी, न्यायिक कर्मी, विभिन्न बैंक अधिकारिगण व कर्मचारिगण का जिला विधिक सेवा प्राधिकरण प्रतापगढ के सचिव अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीष श्री लक्ष्मीकंात वैष्णव द्वारा आभार व्यक्त किया।

 

 

.कुल प्रिलिटीगेषन व पेंडिंग केसेज मिलाकर क्रमषः १५० व २८४ मामलों कुलिया ४३४ प्रकरणों का राश्ट्रीय लोक अदालत में निस्तारण हुआ। इस प्रकार कुल मिलाकर ३ करोड १९ लाख ९४ हजार रूपये का अवार्ड पारित किया गया।

यह अवार्ड का आंकडा हमेषा की तुलना में अधिक रहा है। और इसमें एमएसीटी न्यायाधीष श्री महेन्द्र मेहता को सर्वाधिक श्रेय रहा। यहा यह उल्लेखनीय है कि आज राश्ट्रीय लोक अदालत के दि नही एडवोकेट सिद्धार्थ मोदी के जरिये त्वरीत कार्यवाही करते हुए ५३ लाख ५१ हजार का चेक अदा किया गया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Pratapgarh News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like