BREAKING NEWS

logo

पेसिफिक में क्षेत्रीय रिसर्च कन्वेंशन ’अन्वेषण’ में युवा शोधकर्ताओं का समागम

( Read 1721 Times)

09 Jan 19
Share |
Print This Page

पेसिफिक में क्षेत्रीय रिसर्च कन्वेंशन ’अन्वेषण’ में युवा शोधकर्ताओं का समागम

युवा शोधकर्ताओं को लीक से हटकर नवाचारयुक्त विचारों एवं अनुसंधान के प्रस्तुतीकरण के लिए मंच उपलब्ध कराने के उद्देश्य से आयोजित दो दिवसीय वेस्ट जोन स्टूडेंट रिसर्च कन्वेंशन ’अन्वेषण’ का शुभारंभ पेसिफिक विश्वविद्यालय सभागार में कल दिनांक १० जनवरी को होगा। कन्वेंशन का आयोजन पेसिफिक विश्वविद्यालय द्वारा ऐसोसिएशन ऑफ इण्डियन यूनिवर्सिटीज के संयुक्त तत्वावधान में किया जा रहा है। कन्वेंशन में वेस्ट जोन के अनेक राज्यों के ३७ विश्वविद्यालयों के १५० से अधिक युवा शोधकर्ता भाग लेंगे।

कन्वेंशन की मुख्य संयोजक पेसिफिक फेकल्टी ऑफ मेनेजमेंट की डीन प्रो. महिमा बिरला ने बताया कि इस कन्वेंशन का उद्देश्य है देश के युवा उभरते हुए शोधकर्ताओं की प्रतिभा की पहचान कर उन्हें प्रोत्साहन देना एवं उन्हें प्रेरित करना कि वे रिसर्च को ही करियर के रूप में अपनाएं। ’अन्वेषण’ के द्वारा ए.आई.यू. का यह भी प्रयास है कि युवाओं के मन में उभरने वाले नए आईडियाज को पहचान कर उन्हें शोध की दिशा में प्रेरित किया जाए जिससे एक ज्ञान का भण्डार समृद्ध हो सके तथा समाज की रोजमर्रा की समस्याओं का समाधान निकल सके। उन्होंने बताया कि कन्वेशन के अतिथियों के रूप में गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. भगवती प्रकाश शर्मा, पेसिफिक विश्वविद्यालय के प्रेसीडेन्ट प्रो. भगवानदास राय, रोटम क्रॉप साइन्स के निदेशक डा. एस.सी. तिवारी,* उदयपुर चैम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री के अध्यक्ष श्री हंसराज चौधरी, अमरेन्द्र*पाणी*निदेशक व डॉ. उषा राय नेगी सह निदेशक रिसर्च डिविजन ए.आई.यू. होंगे।

संयोजक प्रो. हेमन्त कोठारी ने बताया कि कन्वेंशन में कृषि, बेसिक साइंस, इंजिनियरिंग एण्ड टेक्नोलॉजी, हेल्थ साइंसेज, फार्मेसी व न्यूट्रीशन एवं सोशल साइंस, ह्यूमेनिटीज, कॉमर्स एवं लॉ जैसे क्षेत्रों में प्रोजेक्ट्स का प्रदर्शन प्रतिभागी युवाओं द्वारा किया जाएगा। ’अन्वेषण’ के दौरान विभिन्न सत्र होंगे जिनमें पोस्टर प्रेजेन्टेशन, ओरल प्रेजेन्टेशन व प्रश्न-उत्तर सत्र का आयोजन होगा। प्रत्येक वर्ग के तीन विजेताओं को राष्ट्रीय स्तर के कन्वेंशन में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा। उन्होंने बताया कि कन्वेशन में भारत के विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञ भी उपस्थित रहेंगे, जिनमें शामिल हैं कृषि क्षेत्र से डा. बी.आर. रणवा, डा.एस. के. इण्टोदिया, डा. हेमन्त मित्तल, बेसिक साइंस क्षेत्र से डा. पिंकी बाला पंजाबी, डा. एम.एल. कालरा व डा. एस.डी. पुरोहित, इंजिनियरिंग व टैक्नोलॉजी क्षेत्र से डॉ. नवनीत के. अग्रवाल, डा. सचिन लाल व डा. ए.एन. माथुर, हेल्थ साइंस क्षेत्र से डा. कमल सिंह राठौड, डा. रवि कुमार व डा. मांगीलाल चौहान एवं सोशल साइंस व वाणिज्य क्षेत्र से डा. पुरणमल यादव।

आयोजन समिति के प्रो. दिपिन माथुर, डॉ. पुष्पकांत शाकद्विपीय व डॉ. पल्लवी मेहता ने जानकारी दी कि कन्वेंशन में भाग लेने के लिए महाराष्ट्र, गोवा, गुजरात, मध्यप्रदेश तथा राजस्थान के ३७ विश्वविद्यालयों से १५० से अधिक प्रतिभागीयों द्वारा रजिस्ट्रेशन कराया जा चुका है, तथा उद्घाटन सत्र से पूर्व और भी अनेक प्रतिभागीयों के पहुंचने की सूचना है।

 

 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , Udaipur News , Education
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like