GMCH STORIES

जिला कलक्टर डॉ भवरलाल ने के पी संघवी परिवार  की ओर से सिरोही में बनवाई जा रही ला कालेज का जायजा लिया

( Read 3099 Times)

19 Mar 22
Share |
Print This Page

जिला कलक्टर डॉ भवरलाल ने के पी संघवी परिवार  की ओर से सिरोही में बनवाई जा रही ला कालेज का जायजा लिया

सिरोही । जिला मुख्यालय पर बन रही माँ अम्बे के पी संघवी राजकीय विधि महाविधालय का जायजा लेने जिला कलक्टर डॉ भवरलाल जी अधिकारियों की टीम के साथ मौके पर पहुचे व चल रहे निर्माण कार्य को देखा । मोके पर उपस्थित पावापुरी ट्रस्ट के मैनेजिंग ट्रस्टी महावीर जैन ने कलक्टर को गुलदस्ता भेट कर स्वागत किया और कॉलेज के निर्माण के बारे में पूरी जानकारी दी । ट्रस्ट के इंजीनियर आकाश पुरोहित ने भवन निर्माण की तकनीकी जानकारी देते हुए  भवन में कहा क्या क्या बनेगा की जानकारी दी । 20 हजार वर्ग मीटर में बनने वाली राज्य में यह सबसे लेटेस्ट ला कालेज होगी जिसमें पूर्व में जो भी आवश्यकता महसूस की गई वो इसमें शामिल करते हुए इसकी ड्राइंग को सावर्जनिक निर्माण विभाग ने स्वीकृत किया है ।
जुलाई तक भवन बनकर तैयार हो
    कलक्टर ने कार्य की गुणवत्ता व ड्राईंग की सराहना करते हुए ट्रस्ट से आग्रह किया कि वे जुलाई तक भवन कार्य पूरा करने का लक्ष्य रखे ताकि इसी वर्ष नए भवन में ला कॉलेज शुरू हो सके । मोके पर उपस्थित ला कालेज के प्राचार्य विजय कुमार को कलक्टर ने कहा कि ला कालेज के लिए आवश्यक फर्नीचर व अन्य सामग्री के लिए अभी से डिमांड सरकार को भिजवा देवे ताकि समय पर अध्ययन शुरू हो सके ।
कालेज की एप्रोच सड़क जल्द बने
    ला कालेज के लिए एप्रोच रोड के लिए उन्होंने मोके पर उपस्थित सावर्जनिक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता एस आर  खोरवाल व सहायक अभियंता मदन सिंह परमार से पूरी जानकारी लेने के बाद मौका देखा और इसे फोरलेन से जोड़ने के लिए प्रस्ताव बनाकर देने के निर्देश दिए  और कहा कि कालेज शुरू होने के पहले एप्रोच सड़क भी बन सके । उन्होंने नगर परिषद को आवंटित भूमि में से एप्रोच सड़क के लिए भूमि लैंडमार्क करवाने के भी निर्देश दिए ।
उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने में संघवी परिवार का उलेखनीय योगदान मिला
    कलक्टर ने खेल मैदान के लिए आवंटित भूमि का भी मौका देखा और कहा कि के पी संघवी परिवार ने रेवदर में उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए5 करोड़ की लागत से शानदार कालेज भवन बनाया है उसी तरह अब ला कालेज के लिए भी बहुत सुंदर भवन बनाकर नई  पीढ़ी को विधि की पढ़ाई का अच्छा अवसर प्रदान किया और सरकार ने भी इसके लिए अच्छी लोकेशन पर भूमि आवंटन की । 1984 से ला कालेज दो कमरों में चल रहा है और केंद्रीय सरकार ने तो इसकी मान्यता तक भवन के अभाव में रोक दी थी । उन्होंने राजस्व विभाग से इस कॉलेज के लिए महावीर पब्लिक स्कूल की तरफ कोई एप्रोच रास्ता उपलब्ध हो तो उसका पता करने का निर्देश दिया । यह रास्ता शहर से ला कालेज में आने वालों के लिए उपयोगी होगा । महावीर जैन ने कलक्टर को बताया कि ला कालेज भवन निर्माण का कार्य के पी संघवी परिवार के श्री दिलीप भाई व अपूर्व भाई के निर्देशन में चल रहा है और वे इसकी गुणवत्ता व समय पर काम हो उसकी लगातार खुद मोनेटरिंग करते है । ला कालेज भवन बनाने का आग्रह विधायक संयम लोढ़ा ने ट्रस्ट की वार्षिक बैठक 7 फरवरी 2020 में किया जिस पर के पी संघवी परिवार ने हाथों हाथ उसी दिन इसके लिए भूमि देखी और ला कालेज भवन बनाने का फैसला ट्रस्ट के चेयरमैन किशोर भाई संघवी ने लिया जिसका व्यापक स्वागत हुआ। 30 अक्टूम्बर 20 को सरकार के साथ MOU कर 30 नवंबर2020 को भूमि पूजन कर कालेज का निर्माण  काम शुरू किया गया।
 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Rajasthan ,
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like