GMCH STORIES

ग्राम विरावली में जागरूकता शिविर का आयोजन

( Read 734 Times)

18 May 22
Share |
Print This Page
ग्राम विरावली में जागरूकता शिविर का आयोजन

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण प्रतापगढ़ एवं कृषि, पशुपालन और उद्यान विभाग के संयुक्त तत्वावधान में राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली की गरीबी उन्मूलन योजना के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु शिविर का आयोजन ग्राम विरावली में किया गया जिसमें उपस्थित आमजन को कृषि, पशुपालन एवं उद्यानिकी से संबंधित विभिन्न जानकारियां प्रदान की गईं। 
    नालसा की गरीबी उन्मूलन से संबंधित योजना के तहत विरावली में कृषि विभाग, उद्यान विभाग, पशुपालन विभाग एवं कृषि विज्ञान केन्द्र प्रतापगढ़ के अधिकारी के साथ पंचायत भवन में शिविर का आयोजन किया गया जहां पर ग्रामीणों को बताया गया कि सरकारी योजनाओं का लाभ उठाकर किस प्रकार गरीबी उन्मूलन किया जा सकता है। उपस्थित अधिकारीगण द्वारा अपने-अपने विभाग की सरकारी योजनाओं को आमजन के सामने रखा गया और उन्हें प्रेरित किया गया। कृषि विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक श्री योगेश कनोजिया द्वारा बगीची लगाना, मधुमक्खी पालन के लिए किसानों को प्रेरित किया गया। उपस्थित काश्तकारों में से 04 काश्तकारों द्वारा मधुमक्खी पालन करने के लिए अपनी सहमति प्रदान की। इसी प्रकार कृषि विभाग के अधिकारी श्री ब्रिजवासी मीणा ने खेत तलाई (फार्म पोण्ड) के बारे में विस्तृत जानकारी दी और इस संबंध में सरकार द्वारा प्रदान किये जाने वाले अनुदान के बारे में बताया। उद्यान व पशुपालन विभाग के अधिकारीगण द्वारा फव्वारा सिंचाई, ड्रिप सिंचाई व तार-बंदी के बारे में भी जानकारी प्रदान की। काश्तकारों द्वारा खेत तलाई योजना में अपनी रूचि दिखाई गई। पशु-पालन विभाग से उपस्थित डॉ. हेमन्त पांचाल ने कृषि के संबंध में सरकारी योजनाओं की जानकारी दी और गोबर गैस प्लांट के बारे में भी बताया। वरिष्ठ वैज्ञानिक श्री योगेश कनोजिया ने भी गोबर गैस प्लांट की महत्ता के बारे में बताया। इस पर काश्तकार गोबर गैस प्लांट लगाने को प्रेरित हुए और प्लांट लगाने के लिए विभाग द्वारा भी काश्तकारों को चिन्हित किया गया। 
    शिविर में बड़ौदा स्वरोजगार विकास संस्थान द्वारा चलाए जा रहे सिलाई, अगरबत्ती निर्माण, देशी खाद निर्माण आदि प्रशिक्षणों के बारे में सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, श्री शिवप्रसाद तम्बोली द्वारा बताया गया। जिन काश्तकारों द्वारा मधुमक्खी पालन, खेत तलाई एवं गोबर गैस प्लांट लगाने के बारे में सहमति देते हुए रूचि दिखाई उन्हें सरकारी योजनाओं के तहत लाभान्वित किये जाने के लिए आगे कार्यवाही की जाएगी ताकि काश्तकारों का जीवन-स्तर ऊंचा हो और गरीबी उन्मूलन कर उनकी आय को बढ़ाया जा सके। शिविर में प्राधिकरण सचिव द्वारा बाल विवाह कानून, मृत्यु भोज निषेध कानून, डाकन प्रथा निषेध कानून आदि के बारे में जानकारी प्रदान की गई और जो बच्चे स्कूल नहीं जा रहे हैं या जिन्होंने स्कूल जाना छोड़ दिया है ऐसे बच्चों को स्कूली शिक्षा से जोड़ने के बारे में आमजन को प्रेरित किया गया।          
    आयोजित शिविर में जिसमें सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, प्रतापगढ़, श्रीमती सीता मीणा सरपंच ग्राम पंचायत विरावली, श्री योगेश कनोजिया वरिष्ठ वैज्ञानिक कृषि विज्ञान केन्द्र, प्रतापगढ़, श्री बृजवासी मीणा सहायह निदेशक उद्यानिकी विभाग, प्रतापगढ़ (राज.), डॉ. हेमन्त पांचाल पशु चिकित्साधिकारी, श्री प्रवीण कुमार व्यास ए0ए0ओ0, श्री शेर मोहम्मद कृषि पर्यवेक्षक, श्री रितेश मीणा कृषि पर्यवेक्षक एवं महिपाल राठौर ग्राम विकास अधिकारी विरावली उपस्थित रहे।
 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Pratapgarh News ,
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like