GMCH STORIES

कोविड का टीका करेगा कोरोना का खात्मा

( Read 1228 Times)

18 Jan 21
Share |
Print This Page
कोविड का टीका करेगा कोरोना का खात्मा
कोरोना के खात्मे के लिए बहुप्रतीक्षित कोविड़ वैक्सीन का शुभारम्भ शनिवार को जिले में 6 स्थानों पर किया गया, जिला स्तर पर मेडिकल कॉलेज स्थित नवीन चिकित्सालय में बनाये गये कोविड़-19 टीकाकरण केन्द्र पर प्राचार्य ड़ॉ विजय सरदाना के पहला टीका लगाकर अभियान की शुरूआत की की गई। सरकार के निर्देशानुसार अब निर्धारित तिथियें को लगातार टीकाकरण जारी रहेगा।
लाइव प्रसाारण में सुना पीएम-सीएम को- 
जिले में शनिवार को कोविड टीकाकरण के लिए चिन्हित 6 साइटों पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी तथा प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा टीकाकरण अभियान के शुभारंभ अवसर पर दिए गए उद्बोदन का लाईव प्रसारण देखा गया। प्रदेश स्तरीय समारोह में चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा सहित मंत्रीगण ने हैल्थ वर्कस का उत्साहवर्धन किया। जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट स्थित वीसी कक्ष में पुलिस महानिरीक्षक रविदत्त गौड़, जिला कलक्टर उज्जवल राठौड़, महापौर कोटा उत्तर मंजू मेहरा, कोटा दक्षिण राजीव अग्रवाल, उपमहापौर पवन मीणा, अतिरिक्त कलक्टर प्रशासन नरेन्द्र जैन, सिलिंग एसएन आमेठा, सीईओ जिला परिषद प्रतिभा देवठिया, एएसपी राजेश मील, सीएमचओ डॉ भूपेन्द्र सिंह तंवर सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे। 
जिला कलक्टर ने किया केन्द्रो का निरीक्षण-
जिला कलक्टर उज्ज्वल राडौड़ ने कोविड़ टीकाकरण के लिए चिन्हित किये गये स्वास्थ्य केन्द्रों पर जाकर टीकाकरण की व्यवस्थाओं का निरीक्षण कर कोरोना वारियर्स का उत्साहवर्धन किया। उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र विज्ञान नगर एवं कुन्हाड़ी में पहुंचकर टीकाकरण अभियान के तहत बनाये गये केन्द्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने उपस्थित चिकित्साधिकारियों से चर्चा कर कोविड़ संक्रमण के दौरान उनके द्वारा दिये गये योगदान की सराहना करते हुए टीका लगवा कर आम नागरिकों को भी टीका लगवाने का संदेश देने का आव्हान किया। 
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. भूपेन्द्रसिंह तंवर ने सभी केन्द्रों की व्यवस्था को निरन्तर बनाये रखने के निर्देश देते हुए टीकाकरण के लिए चिन्हित हैल्थ वर्कस को पेरित किया। इस दौरान आसीएचओ डॉ. देवेन्द्र झालानी सहित चिकित्साधिकारी भी उपस्थित रहे। 
सुरक्षित है टीका-डॉ. सरदाना

जिले में कोविड़ का प्रथम टीका लगवाने वाले मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. विजय सरदाना ने कहा कि यह टीका पूरी तरह सुरक्षित हैं, किसी भी तरह का साइड इफेक्ट इसमें नहीं देखने को मिला। उन्होंने कहा कि टीका लगवाने के बाद मैं सुखद अहसास महसूस कर रहा हुंॅ तथा सौभाग्यशाली हॅुं कि कोविड संक्रमण के दौरान सेवाएं देने के साथ-साथ कोविड टीकाकरण में भी मुझे आम लोगों को प्रेरित करने का मौका मिला है। उन्होने वैक्सीन को स्वेदेशी के साथ-साथ पूरी तरह से सुरक्षित बताते हुए कहा कि इससे निश्चित रूप से कोरोना से जंग जीतने में सफलता मिलेगी। उन्होंने बताया कि वैक्सीन की पहली डॉज के बाद दूसरी डॉज भी लगवाना आवश्यक होगा उसके बाद 14 दिवस तक संक्रमण से बचाव के उपायो को अपनाए रखना होगा। टीकाकरण के बाद चिकित्साधिकारियों ने अपने अनुभव साझा करते हुए टीके को सुरक्षित बताते हुए सुखःद अहसास बताया तथा आम जन को किसी भी तरह की अफवाहों से दूर रहने का आव्हान किया।
केन्द्रवार ये लगे टीके- 
न्यू मेडिकल कॉलेज अस्पताल 100, विज्ञान नगर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द 95, कुन्हाड़ी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र 67, ग्रामीण क्षेत्रों में सीएचसी सुल्तानपुर, साएचसी सांगोद, सीएचसी मंड़ाना में 100-100 हैल्थ वर्कर का पंजीकरण किया गया था। प्रथम दिवस जिले में पंजीकृत हैल्थ वर्कर की लक्षित संख्या 562 रखी गई जिसमें से अपरान्ह 3 बजे तक सभी केन्द्रों पर 312 के टीकाकरण किया जा चुका था। इसमें 26 वैक्सीन की वायल (सीसी) का उपयोग हो चुका था।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like