logo

जिफ की दूसरी सूची में 43 देशों की 106 फिल्में

( Read 459 Times)

06 Dec 18
Share |
Print This Page
जिफ की दूसरी सूची में 43 देशों की 106 फिल्में जयपुर : विश्व सिनेमा को एक मंच पर लाने वाले चर्चित फिल्म समारोह जयपुर इन्टरनेशनल फिल्म फेस्टीवल – जिफ ने बुधवार को नोमिनेटेड फिल्मों की दूसरी और अंतिम सूची जारी कर दी है।
जिफ जयपुर की पहचान है जिसकी शुरुआत 2009 में शुरू हुई और 2013 तक हर साल फिल्मों के चयन का दायरा बढ़ाते चलते इस फिल्म फेस्टीवल ने भारत और विश्व में तब तहलका मचा दिया जब 2013 में एक साथ 10 वेन्यूज़ पर 217 फिल्मों की स्क्रीनिंग की गई, सभी के सामने ये एक चूनौती पूर्ण सवाल था की ये कैसे संभव है? इसके बाद कई दिग्गज फेस्टीवल्स में ज्यादा से ज्यादा फिल्में दिखाने की होड मच गई।
पर अगले ही साल से जिफ ने ये दायरा घटाना शुरू कर दिया जो जिफ 2018 तक जारी रहा। जिफ 2018 में मात्र 136 फ़िल्मों का नॉमिनेशन हुआ था।
बुधवार को जारी की गई दूसरी सूची में 43 देशों की 106 (भारत से 54 और विदेश से 52) फिल्मों का चयन किया गया है। ये चयन 28 सदस्यों के एक इंटरनेशनल चयन बोर्ड ने किया है।
चयनित फिल्मों की दूसरी सूची में 21 फीचर फिल्में, 9 डाक्यूमेंट्री फीचर फिल्में, 6 शार्ट डाक्यूमेंट्री फिल्में, 7 एनिमेशन शार्ट फिल्में, 1 ऑडियो म्यूजिक, 48 शार्ट फिक्शन फिल्में, 6 मोबाईल फिल्में और 8 वेब सीरीज शामिल हैं । इनमें राजस्थान से 11 फिल्में भी शामिल हैं।
अगले साल 18 जनवरी से आयोजित होने जा रहे जिफ 2019 के लिए पहले ही पहली सूची में 124 फिल्मों की घोषणा की जा चुकी है। अब फिल्मों की कुल संख्या 230 हो गई है। दोनों सूचियों की 230 फिल्में लगभग 103 देशों से प्राप्त 2221 आवेदनों में से चुनी गई है। जो की पिछले साल से 40% ज्यादा है।
जिफ की लौंचिंग से अब तक का ये सबसे बड़ा सलेक्शन है। जिफ का विस्तार लगातार जारी रहेगा। फिल्म प्रेमियों को उम्दा फिल्में दिखाने का सिलसिला कभी कमजोर नहीं पड़ेगा। इन फिल्मों में विश्व चर्चित फिल्मों से लेकर, कई अवार्ड जीत चुकी फिल्में और डेब्यु डायरेक्टर्स की फिल्में देखने को मिलेगी।
ये पाँच दिवसीय फेस्टीवल एक दर्शक के लिए किसी इन्टरनेशनल पाठशाला से कम नहीं है जहां वो एक तरफ विश्व की आर्ट एंड कल्चर से रूबरू होता है वही मनोरंजन भी करता है और विश्व भर से आए फिल्म मेकर्स और सिनेमा स्टार्स से रूबरू होने का अवसर मिलता है। वहीं फिल्म इंडस्ट्री के लोगों के लिए एक स्थान पर पूरे विश्व भर के फिल्म मेकर्स से संवाद करने का मौका मिलता है।
इस साल जिफ में प्रमुखता से दुनियाँ भर के ऐसे देशों को भी मौका दिया गया जो फिल्मों के क्षेत्र में अन्य देशों से फिल्म निर्माण बहुत पीछे है इनमें सर्बिया, तंजानियाँ, लेबनान, पेरु, नाईजीरिया जैसे देश शामिल हैं। जिफ में अमेरिका, रूस, चायना, फ्रांस, कोरिया और स्वीटजरलैंड जैसे देश भी शामिल हैं। भारत और बांग्लादेश को एक सम्मानजनक स्थान दिया गया है।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Entertainment
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like