GMCH STORIES

चिकित्सा संस्थानों व आंगनबाड़ी केंद्रों में मनाया शक्ति दिवस

( Read 1499 Times)

12 Jun 24
Share |
Print This Page
 चिकित्सा संस्थानों व आंगनबाड़ी केंद्रों में मनाया शक्ति दिवस

भीलवाड़ा,  अनीमिया की पहचान प्रारम्भिक अवस्था में कर अनीमिया की दर को कम किये जाने के लिए अनीमिया मुक्त राजस्थान कार्यक्रम के तहत जिले में प्रत्येक मंगलवार को ’शक्ति दिवस’ के रूप में मनाया जा रहा है। जिले में मंगलवार को सभी राजकीय चिकित्सा संस्थानों, प्रत्येक आंगनबाड़ी केन्द्रों पर शक्ति दिवस का आयोजन कर किशोरी बालिकाओं, विवाहित महिलाओं, गर्भवती महिलाओं सहित धात्री माताओं को मोबिलाइज किया गया और बच्चों को आईएफए सीरप पिलाकर लक्षणों के आधार पर किशोरी बालिकाओं, गर्भवती महिलाओं को आयरन टेबलेट्स का वितरण किया।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. चेतेन्द्र पुरी गोस्वामी ने जानकारी देते हुए बताया कि अनीमिया मुक्त राजस्थान कार्यक्रम के तहत बच्चों, किशोर किशोरियों, प्रजनन उम्र की महिलाओं, गर्भवती महिलाओं तथा धात्री माताओं में अनीमिया की दर को कम करने के लिए प्रत्येक मंगलवार शक्ति दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। मंगलवार को जिले के आंगनबाड़ी केन्द्रों सहित राजकीय चिकित्सा संस्थानों पर शक्ति दिवस आयोजित किया गया। इसका मुख्य उद्देश्य समुदाय व लाभार्थियों में अनीमिया नियत्रंण के लिए स्क्रीनिंग, हिमोग्लोबीन की जांच उपचार तथा अनीमिया के प्रति जागरूकता बढ़ाना है।

शक्ति दिवस के दौरान बच्चों, महिलाओं व किशोरियों में अनीमिया की दर की कमी में सुधार के लिए विभिन्न गतिविधियां आयोजित कर स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा अनीमिया से होने वाले शारीरिक व मानसिक नुकसान की जानकारी दी गई और शरीर में खून की कमी नही हो, इसके लिए पौष्टिक व आयरन युक्त आहार के बारे में जागरूकता बढाकर व्यवहार परिवर्तन पर जोर दिया गया।

अनीमिया की दर को कम करने के लिए बच्चों, किशोर-किशोरियों, प्रजनन उम्र की महिलाओं, गर्भवती महिलाओं और धात्री माताओं के लिए विशेष गतिविधियां आयोजित की जाती है, जिसमें लक्षणों के आधार पर अनीमिया की स्क्रीनिंग, हीमोग्लोबिन की जांच, उपचार, आयरन टेबलेट्स का वितरण किया जाता है।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Bhilwara News , Jaislmer news
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like