गुडामालानी में जल्दी ही आवंटित भूमि पर छात्रावास निर्माण करने की मांग

( Read 917 Times)

20 Sep 19
Share |
Print This Page

 गुडामालानी में जल्दी ही आवंटित भूमि पर छात्रावास निर्माण करने की मांग

गुडामालानी में अनुसूचित जाति छात्रावास के भवन निर्माण को लेकर बाड़मेर के अतिरिक्त जिला कलेक्टर राकेश कुमार शर्मा को संघर्ष समिति ने ज्ञापन सौंपकर अनुसूचित जाति छात्रावास गुडामालानी में जल्दी ही आवंटित भूमि पर छात्रावास निर्माण करने की मांग की अनुसूचित जाति छात्रावास संघर्ष समिति गुडामालानी बाड़मेर के संयोजक डाबर के सरपंच बिजला राम sc-st एकता मंच के संयोजक लक्ष्मण वडेरा रोली के सरपंच मिश्रा राम धनाराम नामा एडवोकेट प्रागा राम भाजपा एससी मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष खीमाराम सांसी भोमाराम भदरू  नर्सिंगराम कटारिया सरदार राम गवारिया कालूराम मेघवाल का एक प्रतिनिधिमंडल आज बाड़मेर के अतिरिक्त जिला कलेक्टर से मिलकर बताया कि 2013 में गुडामालानी में अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों के हेतु 50 बालकों के लिए छात्रावास की सरकार ने स्वीकृति जारी की थी और राज्य सरकार ने इस भवन निर्माण की बनाने के लिए सवा दो करोड़ रुपए वित्तीय स्वीकृति किए थे तथा इस छात्रावास भवन के निर्माण हेतु बाड़मेर के तत्कालीन जिला कलेक्टर ने 6 मई 2016 को गुडामालानी के खसरा नंबर 1656 /2मे 2 बीघा भूमि आंवटित की और जिसका अनुमोदन जोधपुर केजोधपुर के सम्भागीय आयुक व सार्वजनिक निर्माण विभाग जोधपुरअतिरिक्त मुख्य अभियंता समाज कल्याण विभाग बाड़मेर के सहायक निदेशक ने किया था इस मामले में नया मोड़ जब आया सार्वजनिक निर्माण विभाग गुडामालानी में कार्यरत अधिशासी अभियंता रणछोड़ दास ने प्रशासन को एक गुमराह करने वाली रिपोर्ट प्रस्तुत करके इस छात्रावास निर्माण में रोड़ा अटका दिया  दिनांक 4 अप्रैल 2019 को रणछोड़ दास ने एक झूठी रिपोर्ट नीराधार व आधारहीन रिपोर्ट पेश कर कहा कि आवंटित छात्रावास के लिए जमीन है लूनी नदी के बहाव क्षेत्र में स्थित है इस कारण छात्रावास भवन निर्माण हेतु अन्य भूमि उपलब्ध करने का अनुरोध किया है प्रतिनिधिमंडल ने जिला कलेक्टर बाड़मेर राकेश कुमार शर्मा को बताया किछात्रावास हेतु आवंटित भूमि और लूनी नदी के बीच में 5 किलोमीटर की दूरी है और इस दूरी के बीच में दो पेट्रोल पंप हैं एक शिव मंदिर है लव कुश महाविद्यालय का भवन है उसके आगे 25 दुकानें हैं उसके आगे अमृता देवी कॉलेज का भवन है तथा उसके आगे अमृता देवी सीनियर सेकेंडरी स्कूल का भवन है उसके बाद में छात्रावास की भूमि है उसके आगे बैंक मैनेजर का आवास है उसके आगे 10 दुकानें और एक बड़ी फैक्ट्री है आवासीय घर मौजूद हैं इन सब की एनओसी पीडब्ल्यूडी गुडामालानी व पंचायत ने जारी की थी तब यह कोई भी भवन अतिरेक बहाव क्षेत्र में इन्होंने नहीं माना लेकिन अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों का लिए जो छात्रावास बन रहा है 5 किलोमीटर दूर आंवटित भूमि को सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता रणछोड़ दास ने लूनी नदी के बहाव क्षेत्र में बताकर प्रशासन को गुमराह किया और विभाग को गुमराह किया कि यह आवंटित भूमि अतिरेक क्षेत्र में आती है इस कारण प्रशासन ने भी दूसरी जगह भूमि तलाशने की बात कही प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि बाड़मेर के प्रभारी मंत्री ने कल जब मीटिंग ली तो कलेक्टर को यह पूछा आखिर यह छात्रावास क्यों नहीं बन रहा तो वहां मौजूद गुड़ामालानी विधायक हेमाराम चौधरी ने कहा कि आवंटित भूमि लूणी नदी के अतिरिक्त बहाव क्षेत्र में में आती हैं और यहां गुडामालानी के विधायक ने राज्य सरकार को गुमराह किया गुडामालानी के विधायक और एक्शन रणछोड़ दास गुडामालानी यह नहीं चाहते हैं कि अनुसूचित जाति के लोगों का छात्रावास बने इसलिए प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि आवंटित भूमि लूनी नदी के क्षेत्र से दूर है इसलिए श्री रणछोड़ दास एक्शन पीडब्ल्यूडी गुडामालानी को तत्काल सस्पेंड किया जाए और आंबटित भूमि पर ही छात्रावास का निर्माण तत्काल शुरू किया जाए तब तक शुरू नहीं करोगे तब तक अनुसूचित जाति छात्रावास समिति का अनिश्चितकालीन धरना गुडामालानी मुख्यालय पर जारी रहेगा और प्रतिनिधिमंडल ने जोर देकर कहा गुड़ामालानी विधायक हेमाराम चौधरी के इशारे पर पी डब्लू डी गुडामालानी के अफसर और वहां के उपखण्डअधिकारी गलत और फर्जी रिपोर्ट देकर अनुसूचित जाति के लोगों का आहित कर रहे हैं इसकी कड़े शब्दों में प्रतिनिधिमंडल ने निंदा की और आंदोलन को तेज करने का प्रशासन को नोटिस दिया।  


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Barmer News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like