Pressnote.in

उप चुनाव आयुक्त ने वीसी के जरिए की चुनावी तैयारियों की समीक्षा

( Read 863 Times)

13 Jul, 18 11:11
Share |
Print This Page

उप चुनाव आयुक्त ने वीसी के जरिए की चुनावी तैयारियों की समीक्षा
Image By Google
कोटा । भारत निर्वाचन आयोग के उप चुनाव आयुक्त डॉ. संदीप संक्सेना ने आगामी विधानसभा आम चुनाव-२०१८ की तैयारियों के संबंध में नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अश्वनी भगत और सभी जिला निर्वाचन अधिकारी, उप जिला निर्वाचन अधिकारी व निर्वाचन से जुडे अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विस्तार से चर्चा की।
उप चुनाव आयुक्त ने सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों को खास ’इलेक्शन मैनेजमेंट प्लान’ बनाकर काम करने की सलाह दी। उन्होंने मतदाता सूचियों में नए नामों को जोडने, बीएलओ (बूथ लेवल ऑफिसर) और बीएलए (बूथ लेवल एजेंट) की मिटिंग करवाने, मतदान के दिन मतदान केंद्रों को वोटर फ्रैंडली बनाने का सुझाव दिया। उन्होंने चुनाव के लिए पर्याप्त स्टाफ जुटाने, चुनाव व्यय निगरानी, वीवीपैट और ईवीएम रख-रखाव, संवदेनशील मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग करवाने, कार्मिकों को प्रशिक्षण, सर्विस प्रोवाइडरों से बातचीत करने जैसे कई मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की एवं आयोग द्वारा जारी निर्देशों से भी रूबरू करवाया। उन्होंने कहा कि मतदाता सूची में नाम जुडवाने और संशोधन करवाने का अधिक से अधिक प्रचार किया जाए। उन्होंने कहा कि सभी जिम्मेदारियों के साथ अब जिला निर्वाचन अधिकारियों को चुनाव संबधी तैयारियां के भी जुट जाना चाहिए।
मतदाता सूची पुनरीक्षण ३१ जुलाई से-
प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि विभिन्न अभियानों के तहत पिछले एक वर्ष ४० लाख से ज्यादा नए मतदाता जोडे गए हैं। ज्यादातर मतदाताओं के पहचान पत्र बनकर वितरण होने लगे हैं। सभी मतदान केंद्रों पर आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए अधिकारी संबंधित विभागों के संफ में हैं। ईवीएम, वीवीपैट के लिए वेयरहाउसेज देख लिए गए हैं। उन्होंने बताया कि ८० प्रतिशत से ज्यादा ईवीएम मशीनों की एफएलसी हो चुकी है। इसके अलावा उन्होंने प्रचार-प्रसार, संवदेनशील मतदान केंद्रों, प्रशिक्षण और कानून एवं व्यवस्था संबंधित कई विषयों पर विस्तार से जानकारी दी।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि प्रदेश भर में मतदाता सूचियों का प्रारुप प्रकाशन ३१ जुलाई को व मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन २७ सितम्बर को कर दिया जाएगा और इसी के आधार पर चुनाव भी करवाए जाएंगे। उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देश दिये कि मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन से पूर्व ज्यादा से ज्यादा योग्य मतदाताओं को इसमें शामिल किया जाए। आयोग के सूचना एवं तकनीक विभाग के निदेशक डॉ. वी.एन. शुक्ला ने ईआरओ नेट के नए संस्करण से भी सभी अधिकारियों को अवगत कराया। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी इस पर लगातार काम करते रहेंगे तो चुनाव के दिनों में कम समय में अच्छे नतीजे मिल पाएंगे।
निर्वाचन प्रकि्रया से अधिकारी होगें अद्यतन-
जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला कलक्टर गौरव गोयल ने कोटा जिले में चुनाव सम्बन्धी तैयारियों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि मतदाता विशेष पुनरीक्षण अभियान के दौरान कोई भी पात्र मतदाता सूची में नाम जुडवाने से वंचित नही रहेगा। निर्वाचन से जुडे अधिकारियों को चुनाव आयोग के विभिन्न इन्टरनेट एप की जानकारी देकर चुनाव प्रकि्रया के प्रति संवेदनशील बनाया जायेगा। इस दौरान उप निर्वाचन अधिकारी श्रीमती सुनिाता डागा, सूचना विज्ञान अधिकारी एमके झा, सभी सहायक निर्वाचन अधिकारी उपस्थित रहे।

Source :

यह खबर निम???न श???रेणियों पर भी है: Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

Group Edior : Mr. Virendra Shrivastava
For any queries please mail us at : newsdesk.pr@gmail.com For any content related issue or query email us at newsdesk.pr@gmail.com, CopyRight © All Right Reserved. Pressnote.in