logo

डिजीटल माध्यम को बढावा

( Read 489 Times)

13 Jun, 18 12:02
Share |
Print This Page
उत्तर पश्चिम रेलवे पर साधारण टिकट आसानी से प्राप्त हो, इसके लिये सदैव ही प्रयास किये जाते है। यात्रियों को ऑपरेशन ५ मिनट के तहत प्रत्येक यात्री को स्टेशन पर टिकट लेने में ५ मिनट से अधिक का समय न लगे।
उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंफ अधिकारी श्री तरूण जैन के अनुसार इसी क्रम में उत्तर पश्चिम रेलवे पर डिजीटल माध्यम को बढावा देने के लिये ५३ स्टेशनों पर १८२ ऑटोमैटिक टिकट मशीने स्थापित की गई है। इन मशीनों के उपयोग से साधारण श्रेणी के टिकट लेने वाले यात्रियों को आसानी से टिकट सुविधा प्राप्त हो रही है साथ ही इनका उपयोग करने के लिये उपयोग में लेने वाले स्मार्ट कार्ड से टिकट बनाने वाले यात्री इनको रिचार्ज करवाने पर ५ प्रतिशत अतिरिक्त लाभ प्राप्त होता है अर्थात १०० रूपये का रिचार्ज करवाने पर १०५ रूपये का मूल्य प्राप्त होता है।

ऑटोमैटिक टिकट मशीन से साधारण टिकट प्राप्त करने के फायदे (सुविधा)ः-

आम यात्री को कम समय में इच्छित टिकट की उपलब्धता निर्बाध रूप से प्राप्त हो सकेगी ।
इस मशीन की सेवा २४ग७ घण्टे उपलब्ध, लम्बी लाईनों से राहत।
सैकण्डों में टिकट छपकर तैयार।
इस मशीन का उपयोग आम यात्री के लिए अत्यन्त सुविधाजनक रहेगा ।
इस मशीन द्वारा टिकट प्राप्त करने के लिए स्मार्ट कार्ड का उपयोग किया जाएगा जिसमें सामान्यतः टिकट प्राप्त करते समय खुल्ले पैसे/चिल्लर की समस्या से निजात मिलेगी ।
स्मार्ट कार्ड का रेलवे काउन्टरों पर आसान रिचार्ज।
इस मशीन द्वारा सभी प्रकार के सामान्य टिकट (प्लेटफार्म टिकट, एक तरफा/वापसी टिकट, प्रथम श्रेणी टिकट/बच्चा टिकट)
द्वितीय/प्रथम श्रेणी मासिक टिकटों का नवीनीकरण ।


रेलवे का प्रयास है कि सभी यात्रियों को आसानी से टिकट प्राप्त हो और डिजीटल माध्यम जैसे स्मार्ट कार्ड के उपयोग पर अतिरिक्त मूल्य प्राप्त होता है, जिससे यात्री इन माध्यमों का उपयोग करने के लिये जागरूक हो तथा रेलवे, भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना डिजीटल इण्डिया को मजबूती प्रदान करने में सहयोग प्रदान करने के संकल्प को पूर्ण करें।

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Rail info News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like